Diwali 2018: यश प्राप्ति के लिए करें राशि अनुसार दीपावली पूजन

दिवाली को सिद्धि प्राप्ति का पर्व भी माना जाता है और इस दिन यदि साधक अपनी राशि के अनुसार पूजन करते हैं तो मन चाही सिद्धि पा सकते हैं. सभी राशि के जातकों के लिए शास्त्रों में अलग-अलग सामग्री से पूजन विधि बताई गईं हैं. हालांकि दिवाली पर गणेश जी और मां लक्ष्मी का पूजन स्थिर लग्न में ही करना चाहिए.

0 742

दिवाली को सिद्धि प्राप्ति का पर्व भी माना जाता है और इस दिन यदि साधक अपनी राशि के अनुसार पूजन करते हैं तो मन चाही सिद्धि पा सकते हैं. सभी राशि के जातकों के लिए शास्त्रों में अलग-अलग सामग्री से पूजन विधि बताई गईं हैं. हालांकि दिवाली पर गणेश जी और मां लक्ष्मी का पूजन स्थिर लग्न में ही करना चाहिए.

“ऋणहर्ता मंगल स्तोत्र’’ दिलाएगा ऋण से मुक्ति 

सम्बंधित लेख - पढ़िए

“ॐ श्रीं श्रिये नमः” मंत्र से मेष राशि के जातक दीपावली के दिन मां लक्ष्मी का पूजन करें. साथ ही शुक्र व शनि यंत्रों को अभिमंत्रित कर घर के पूजा स्थल पर रखें और रोजाना पूजन करें, लक्ष्मी की कृपा प्राप्त बनी रहेगी. यदि ऋण से परेशान हैं तो दीपावली से रोजाना ‘ऋणहर्ता मंगल स्तोत्र’’ का पाठ करें. 

वृषभ राशि वाले करें विष्णु-लक्ष्मी का करें पूजन 

वृषभ राशि वालों को श्वेत वस्त्र, कमल पुष्प, गुग्गुल की धूप और काले तिल से मां लक्ष्मी का पूजन करना लाभदायक सिद्ध होगा. दीपावली की रात्रि से आरंभ कर रोजाना सप्ताह भर महालक्ष्मी यंत्र के सम्मुख, कमल गटटे की माला से ‘ॐ महालक्ष्म्यै नमः’ मंत्र का 11 माला जाप करने से आर्थिक लाभ होगा. 

मिथुन राशि के जातक गले में पहने “श्री”

मिथुन राशि के जातक दिवाली के दिन चांदी का ‘श्री’ बनवाकर लक्ष्मी मंत्रों से उसका पूजन करें और गले में धारण कर लें. इससे धनलाभ और शांति मिलेगी. ऋद्धि-सिद्धि दाता गणेश जी और मां लक्ष्मी का दीपावली के दिन पूजन करें धन भंडार भरा रहेगा. 

कर्क राशि के जातक करें सिद्ध कुंजिका स्त्रोत 

कर्क राशि वाले सिद्ध कुंजिका स्तोत्र के मंत्रों से महालक्ष्मी का पूजन विधि पूर्वक करें. साथ ही धान के लावे, चमेली का इत्र और कनेर का पुष्प भी माता को अर्पित करना लाभकारी होगा. इसके अलावा दीपावली पर सूर्य व शुक्र यंत्र लाएं और उन्हें अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित कर दें. मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होगी.

सिंह राशि वाले करें ‘ॐ नमो नारायणाय’ का जाप 

दिवाली के दिन सिंह राशि के जातक बुध यंत्र को अभिमंत्रित कर पूजन स्थल पर स्थापित करें और रोजाना उसका दर्शन और पूजन करें. इन प्रयोगों से माता लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होगी. साथ ही दीपावली से ‘ॐ नमो नारायणाय’ मंत्र का विष्णु जी के सामने जाप रोजाना करने से धनलाभ मिलेगा.

कन्या राशि के  जातक करें चंद्र व शुक्र यंत्र का पूजन 

“ॐ ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं ह्रीं ऐं नमः” मंत्र से माता लक्ष्मी का पूजन करें और दीपावली के दिन चंद्र व शुक्र यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित कर नित्य दर्शन व पूजन करें. इस प्रयोग से आर्थिक संकट दूर होते हैं. गाय को मूंग खिलाएं और कांच की बोतल में गंगाजल भरकर धरती पर प्रवाहित करें. 

तुला राशि के जातक करें श्रीयंत्र की प्राण-प्रतिष्ठा

तुला राशि के जातक दीपावली के दिन श्रीयंत्र का पूजन करना लाभदायक है. इससे सभी प्रकार के दुख, रोग व दरिद्रता का नाश होगा. साथ ही दीपावली पर सूर्य और मंगल यंत्र का पूजन कर घर के पूजा स्थल पर स्थापित कर प्रतिदिन पूजन करें. विशेष रूप से धान का लावा और दूर्वा लेकर गणेश, लक्ष्मी का अर्चन करें. 

जलीय जीवों को गुड़ खिलाएं वृश्चिक राशि के जातक

वृश्चिक राशि के जातक दिवाली के दिन मछली, कछुआ आदि जलीय जीवों को गुड़ से बने आहार खिलाएं, इससे धन व मानसिक लाभ होगा. साथ ही दीपावली से गुरु और बुध यंत्रों का पूजन करें. मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होगी. मंगल यंत्र के सम्मुख दीपावली से रोजाना ‘ऋणहर्ता मंगल स्तोत्र’ का पाठ करें. 

सूर्य को दें अर्घ 

धनु राशि के जातक कमल पुष्प, अपराजिता की जड़, गुलाब इत्र, अनार, शहद और काले तिल से मां लक्ष्मी का पूजन करें. साथ ही दीपावली पूजन में ‘ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं सौं ॐ ह्रीं क ए ई ल ह्रीं ह स क ह ल ह्रीं सकल ह्रीं सौं ऐं क्लीं ह्रीं श्रीं ॐ’ मंत्र की 21 माला रोजाना करें तो अक्षय धन की प्राप्ति होती है.

“श्री सूक्त” का पथ करें मकर राशि के जातक 

मकर राशि के जातक दीपावली को “श्री सूक्त” का 101 बार पथ करें. साथ ही शनि व मंगल यंत्र को स्थापित कर एक वर्ष तक पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होगीदीपावली के ही दिन शनि यंत्र को घर की पश्चिम दिशा में नीले कपड़े के आसन पर स्थापित कर शनि मंत्रों से जप करें व तेल का दीपक जलाएं.

कुंभ राशि वाले करें गुरु यंत्र का पूजन 

दीपावली को कुंभ राशि वाले गुरु यंत्र को घर के मंदिर में स्थापित करें व रोजाना दर्शन, पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है. दीपावली की अमावस्या की रात से पहले आने वाले शनिवार से घर की पूरी साफ-सफाई शुरू कर टूटी चीजें घर से निकाल कर सभी सामान व्यवस्थित रखें.

मीन राशि वाले करें “गोपाल सहस्त्रनाम” का पाठ 

मीन राशि के जातक दीपावली को “गोपाल सहस्त्रनाम” का पाठ करें. साथ ही शनि व मंगल यंत्र स्थापित कर पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है. दीपावली के दिन 11 हल्दी की गांठों को पीले कपड़े में बांधकर “ॐ वक्रतुण्डाय हुं” मंत्र का 11 माला जाप कर तिजोरी में रख दें. व्यापार की उन्नति होने लगेगी.

(नोट: यह लेख आपकी जागरूकतासतर्कता व समझ बढ़ाने के लिए वाराणसी निवासी डॉ. रजनीश तिवारी से बातचीत के आधार पर तैयार किया गया है. डॉ. रजनीश विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में धार्मिक विषयों पर लेखन करते रहते हैं.)