Heart attack : क्या हैं हार्ट अटैक के लक्षण? क्या करें दिल का दौरा आने पर

लोग गलतियां करते हैं और हार्ट की बीमारियों पाल लेते हैं. पूरी दुनिया में हार्ट पेशेंट की संख्या बढ़ती जा रही है. इंडिया में भी दिल के रोगियों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. खास बात यह है कि अब हार्ट की बीमारियां किसे अपनी चपेट में…

क्यों और कितनी मात्रा में जरूरी है शरीर के लिए नमक?

शरीर को एक्टिव और स्कीन को चमकीला और भोजन को पाचक नमक ही बनाता है. बॉडी में शूगर की अधिकता जख्म भरने में देर करती है जबकि नमक की ज्यादा मात्रा तेजी से घावों को ठीक करता है. हालांकि खानपान में नमक की ज्यादा मात्रा नुकसानदेह ही है.

मप्र-राजस्थान और छत्तीसगढ़ में लौट पाएगी कांग्रेस?

2018 में तकरीबन 8 राज्यों में चुनाव होना है. राहुल गांधी डूबती हुई कांग्रेस की कमान संभाले हुए हैंं. सवाल यह है कि वे वर्तमान में कांग्रेस शासित राज्य हैं उन्हें बचा पाएंगे और बीजेपी से उसके किले छीन पाएंगे? गुजरात हारने और हिमाचल से बेदखल…

खतरनाक है फूड पाइजिनिंग, मन से ना लें दवाएं

विषाक्त भोजन या भोजन विषाक्तता को फूड पायजनिंग कहा जाता है. भोजन व खाना बनने में लापरवाही, खाना बासी या पुराना हो जाने, अथवा इसको असुरक्षित ढंग से रखने एवं खाने पर व्यक्ति को इस प्रॉब्लम का सामना करना पड़ सकता है. फ़ूड पाइजन के लक्षण दिखते ही…

बुढ़ापे में क्यों जरूरी है एक्टिव लाइफ और एक्सरसाइज?

अक्सर देखा गया है 60 वर्ष की उम्र पार कर लेने बाद लोग खुद को निष्क्रिय और निठल्ला समझने लगते है. यही वजह है कि उन्हें छोटी छोटी बीमारयां घेरने लगती है. जिन्हे वे बुढ़ापे की बीमारी कहकर टालने लगते है, लेकिन हकीकत में ऐसा होता नहीं है. बुढ़ापे…

देश में बढ़ती अमीरों की संख्या, विकास के शोर में कौन सुनेगा गरीबों की?

एक सर्वे के मुताबिक देश में अमीरों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, दूसरी ओर गरीब भी तेजी से बढ़ रहे हैं. देश में आर्थिक विषमता की यह तस्वीर बेहद चिंताजनक है. सर्वे बताता है कि देश की 73 प्रतिशत संपत्ति का पूरा 1 फीसदी धनाढ्यों की मुट्ठी में…

कर्नाटक चुनाव 2018: कांग्रेस-भाजपा में खींचतान, हिंदी भाषा के मुद्देे के बीच देवगौड़ा मजबूत

दक्षिण भारत के  बड़े राज्य कर्नाटक के लिए वर्ष 2018 चुनावी वर्ष है, लिहाजा यहां नाटक के लिए रूपरेखा बनने लगी है. राज्य में भाजपा, कांग्रेस एवं जनता दल सेकुलर का राजनीतिक प्रभाव है. इस बार भी विधानसभा चुनाव में इनके बीच त्रिकोणीय मुकाबला…

महिलाओं के लिए जानलेवा है ये लत, खराब हो सकतेे हैं लीवर, किडनी और हार्ट

कॉम्पिटीशन, जॉब और मॉर्डन होने के फेर में महिलाओं में धूम्रपान, शराब और नशाखोरी की लत लग रही है. यही नशा उनकी समय पूर्व जान ले रहा है. महानगरीय संस्कृति में धूम्रपान एवं शराब सामान्य बात हो गई है.
error: Content is protected !!