Browsing Category

धर्म-कर्म

क्यों पसंद है शिव को बिल्व पत्र? कैसें करें अर्पित

शिव जी को बिल्व पत्र क्यों प्रिय है इसकी मूलकथा योगिनीतंत्रम में आती है, जिसमें नारद जी से भगवान शिव ने बिल्व पत्र पसंद होने की कथा विस्तार से कही है. इस ग्रंथ के अनुसार नारजी ने जब पूछा कि आपको इस संसार में सबसे प्रिय क्या है? और आप कैसे…
Read More...

आखिर भगवान शिव को क्यों पसंद है श्रावण मास

28 जुलाई से श्रावण मास का आरंभ हो रहा है. इस दिन शनिवार  है जो बेहद खास है. यह महीना भगवान शिव को समर्पित है. श्रावण मास के ये 30 दिन भगवान शिव की आराधना, पूजा और उनके प्रति आस्था के दिन हैं.
Read More...

आरती के बाद क्यों बोला जाता है कर्पूरगौरं मंत्र

जो कर्पूर जैसे गौर वर्ण वाले हैं, करुणा के अवतार हैं, संसार के सार हैं और भुजंगों का हार धारण करते हैं, वे भगवान शिव माता भवानी सहित मेरे ह्रदय में सदैव निवास करें और उन्हें मेरा नमन है.
Read More...

जगन्नाथ पुरी रथ यात्रा 2018: जहां भाई-बहन के साथ विराजित हैं श्री कृष्ण

भारत के पूर्वी तट पर स्थित उड़ीसा के पुरी शहर में भगवान जगन्नाथ का मंदिर पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है. यहां भगवान श्री कृष्ण को जगन्नाथ के रूप में पूजा जाता है. श्री कृष्ण यहां अपने भाई बलराम और बहन सुभद्रा के साथ विराजित हैं. यहां हर साल…
Read More...

भारतीय संस्कृति में क्यों आस्था के केंद्र हैं मंदिर

तीर्थ स्थलों की महत्त्वपूर्ण भूमिका को जानना जरूरी है. देश की एकता, अखंडता और समृद्धि में तीर्थस्थलों की सकारात्मक भूमिका रही है. देश की सभ्यता एवं संस्कृति का संरक्षण तीर्थ स्थल करते आए हैं. यही वजह है कि विदेशी आक्रमणकारियों ने सर्वप्रथम…
Read More...

दुख की वजह है जीवन का मोह और मृत्यु का भय

हर जीव को जीवन से प्यार है व उसमें जीने की प्रबल इच्छा है. मनुष्य को जीवन बहुत प्यारा लगता है. इसी जीवन में सालों तक मौजमस्ती उड़ाने पर भी उसका मन नहीं भरता और इसे छोड़ना नहीं चाहता.
Read More...

ग्रहों की शांति के लिए ध्यान से करें रत्नों का उपयोग

ग्रहों के अरिष्ट निवारण या ग्रहों के शुभ प्रभाव बढ़ाने के लिए रत्नो को पहनने की प्रथा प्राचीन काल से चली आ रही है. ज्योतिष शास्त्र में इनका उपयोग अधिक बताया गया है. लेकिन रत्नो को पहनते समय कई सावधानियों का ध्यान रखना होता है.
Read More...

पूजा-पाठ करने से दूर होगा तनाव और बढ़ेगी उम्र

प्रतिदिन आधा घंटा पूजा में अपना समय व्यतीत करते हैं तो आपको दिल का दौरा पड़ने की आशंका पचास फीसदी कम हो जाती है. अगर आप ईसाई हैं और नियमित रूप से चर्च जाकर ‘संडे प्रेयर’ में भाग लेते हैं तो आप में तनाव की संभावना 60 से 80 फीसदी तक कम हो…
Read More...

देश में ही अलग-अलग हैं होली के रंग, रंग हैं हजार और हर रंग में बरसता है प्यार,

रंगों का त्योहार होली भारत भर में कई रूपों में इसलिए मनाया जाता है, क्योंकि इन सभी के साथ अपने-अपने आंचलिक नाम, और महत्ता जुड़ी हुई हैं. कहीं होली नववर्ष के शुभारंभ के उपलक्ष्य में मनाई जाती है तो कहीं इस दिन भगवान श्रीकृष्ण के अमर-प्रेम…
Read More...

उज्जैैैन में आखिर ये क्या हुआ महाकाल को? क्यों दिया सुप्रीम कोर्ट ने ये बड़ा फैसला..!

ऐतिहासिक धार्मिक और सांस्कृतिक धरोहरों को बचाने हेतु जागरूकता की बेहद कमी है. धार्मिक आस्था के कारण अगर देश के ये तमाम धरोहर नष्ट हो जाते हैं तो ऐसी श्रद्धा और आस्था किस काम की. ऐसी ही आस्था के चलते विश्व प्रसिद्ध उज्जैन के महाकाल मंदिर में…
Read More...