कमर्शियल पायलट कैसे बनें? कोर्स, फीस, योग्यता पूरी जानकारी

12वीं पास करने के बाद क्या करें? इस सवाल का जवाब कई स्टूडेंट ढूंढते हैं लेेकिन इस सवाल का जवाब आपको अपने आप में ही तलाश करना चाहिए उसके बाद आपको ये ढूंढना चाहिए कि आपको उसे पूरा करने के लिए क्या करना है. वैसे कई लोग 12वीं के बाद पायलट बनना चाहते हैं. पायलट कैसे बना जाए (Can I become a pilot?) और इसके लिए किस एजुकेशन की जरूरत होती है (Education qualification for pilot) ये सारी बातें इस लेख में आप पढ़ेंगे.

0 524

12वीं पास करने के बाद क्या करें? इस सवाल का जवाब कई स्टूडेंट ढूंढते हैं लेेकिन इस सवाल का जवाब आपको अपने आप में ही तलाश करना चाहिए उसके बाद आपको ये ढूंढना चाहिए कि आपको उसे पूरा करने के लिए क्या करना है. वैसे कई लोग 12वीं के बाद पायलट बनना चाहते हैं. पायलट कैसे बना जाए (Can I become a pilot?) और इसके लिए किस एजुकेशन की जरूरत होती है (Education qualification for pilot) ये सारी बातें इस लेख में आप पढ़ेंगे.

पायलट बनने के लिए क्या करें? (What qualifications do you need to be a pilot?)

सम्बंधित लेख - पढ़िए

पायलट बनना इतना आसान नहीं है जितना सोच जाता है. पायलट बनने के लिए आपको 12वीं फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स के साथ पास करना जरूरी है. इसके अलावा 12वी में उसके माक्र्स 50 प्रतिशत से कम नहीं होना चाहिए. पायलट बनने के लिए शारीरिक योग्यता भी मांगी जाती हैै तथा आपका मेडिकल टेस्ट भी लिया जाता है. इसमें ये चेक किया जाता है कि आप पायलट बनने के लिए स्वस्थ हैं या नहीं.

पायलट बनने के लिए पढ़ाई? (Pilot course qualification)

12वीं पीसीएम से करने के बाद आपको स्टूडेंट पायलट लाइसेंस (Student pilot license) के लिए अप्लाइ करना होता है. इसे एसपीएल (SPL) कहा जाता है. (How do I get a new student pilot certificate?) इसके लिए आप DGCA यानि Directorate General of Civil Aviation के अंडर आने वाले काॅलेजों में एडमिशन ले सकते हैं. यहां एडमिशन लेने से पहले आपको एक एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होता है तथा मेडिकल टेस्ट भी देना होता है. (Do you need a medical to get a student pilot certificate?) मेडिकल में आपकी आंखें की नज़र यानि आई विजन सही होना चाहिए.

प्राइवेट पायलट लाइसेंस के लिए अप्लाय (Private pilot license india )

स्टूडेंट पायलट लाइसेंस क्लियर होते ही आपको प्राइवेट पायलट लाइसेंस के लिए अप्लाय करना होता है. इसे PPL कहते हैें. यहां भी आपको एग्जाम देना होगा और फिर पायलट बनने के लिए ट्रेनिंग पूरी करनी होगी. ये स्टूडेंट पायलट लाइसेंस के मुकाबले थोड़ा मुश्किल है पर पायलट बनने के लिए जरूरी है. इसे करने के बाद आपको पीपीएल सर्टिफिकेट दिया जाएगा.

कमर्शियल पायलट लाइसेंस के लिए अप्लाय (Commercial pilot license)

जैसे ही आपका पीपीएल क्लियर होता है वैसे ही आपको कमर्शियल पायलट लाइसेंस के लिए अप्लाय करना होता है. इसकी मदद से आप सीधे एक कमर्शियल पायलट बनते हैं. इसे सीपीएल कहते हैं. सीपीएल में भी कुछ एग्जाम आपको देने होते हैं. ये एग्जाम एसपीएल और पीपीएल के मुकाबले कठिन होते हैं लेकिन ये पायलट बनने का आखिरी चरण है इसलिए इसे पूरा करना जरूरी है.

पायलट बनने के लिए काॅलेज (Institute for pilot course)

पायलट बनना कोई आसान बात नहीं है. इसके लिए आपको काफी मेहनत और पैसा खर्चा करना पड़ता है. पायलट कोर्स करने से पहले आपको काॅलेज का भी चुनाव करना होता है. भारत में कई संस्थान है जो पायलट का कोर्स करवाते हैं लेकिन जहां तक हो सके आप एक अच्छे संस्थान में ही जाने की कोशिश करें जहां पहले लोगों के प्लेसमेंट हुए हो. वैसे यहां आप भारत के कुछ अच्छे पायलट संस्थानों की सूची देख सकते हैें.

– Indira Gandhi Rastriya Udan Academy, Bareli
– All India Institute of Aeronautic, Dehradun
– Ashiyatic International Aviation Academy, Indore
– Government Flying Training School, Banglore
– International School of Aviation, New Delhi

पायलट बनने में कुल खर्च (Cost for pilot course in India)

पायलट बनने के लिए आप किसी भी संस्थान को चुन सकते हैं लेकिन यहां फीस बहुत ही महत्वपूर्ण है. यहां आपको हवाई जहाज उड़ाना सीखाया जाता है. इसलिए जितना ट्रेनिंग में आप हवाई जहाज को उड़ाते हैं उस हिसाब से आपसे फीस मांगी जाती है. इसके अलावा अन्य खर्चें भी शामिल होते हैं. भारत में अगर किसी प्राइवेट संस्थान की बात करें तो यहां पायलट बनने के लिए आपको 50 से 90 लाख रूपए खर्च करना पड़ सकते हैं.

तो ये था पायलट बनने का प्रोसेस. पायलट बनने के लिए किसी काॅलेज के चयन में हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि क्या आप यहां से जाॅब पा सकते हैं. अगर आपको जवाब ‘न’ में मिले तो फिर किसी ऐसे संस्थान को चुने जो आपको जाॅब दिला सके. क्योंकि इतनी फीस देने के बाद हर कोई चाहेगा कि उसे जाॅब मिले.