फ्लोरिंग से कलर तक में छिपी है डाइनिंग रूम की सजावट

होम डेकोरेशन में हम ड्राइंग रूम को प्राथमिकता देते हैं किंतु डाइनिंग रूम भी ऐसा रूम है जहां मेहमानों का आना जाना रहता है ,अब चाहे मेहमानो को हम इन्वेटेशन दें या वह स्वयं हमारे घर का डेकोरेशन देखने हमारे डाइनिंग रूम तक आये.

0 953

होम डेकोरेशन में हम ड्राइंग रूम को प्राथमिकता देते हैं किंतु डाइनिंग रूम भी ऐसा रूम है जहां मेहमानों का आना जाना रहता है ,अब चाहे मेहमानो को हम इनविटेशन दें या वह स्वयं हमारे घर का डेकोरेशन देखने हमारे डाइनिंग रूम तक आये. हमारे लिए यह बहुत इम्पोर्टेन्ट है कि जिस तरह हम हमारे घर का डेकोरेशन करते है, उसी तरह हम हमारे डाइनिंग रूम को भी इम्पोर्टेन्ट देते है.

सबसे पहले आप दीवारों के कलर की तरफ ध्यान दें, लाइट पिंक , क्रीम और चॉकलेट कलर डाइनिंग रूम की दीवारों के लिए काफी अच्छा ऑप्शन है. आप दीवारों पर वाल पेपर के लाइट कलर व सेल्फ प्रिंट का भी यूज़ सकते हैं. आप फ्लोरिंग कवरिंग के डेकोरेशन के लिए दरी, कारपेट, विनाइल फ्लोरिंग, कराकर फर्श को भी ले सकते हैं.

सम्बंधित लेख - पढ़िए

लाइट की अहमियत-

अन्य कमरों की अपेक्षा डाइनिंग रूम में लाइट की अच्छी व्यवस्था होनी चाहिए. खास कर बच्चों के खाना खाते समय तो यह बहुत जरुरी है. डाइनिंग टेबल के ठीक ऊपर तेज दूधिया रंग की लाइट तथा कमरे के अन्य हिस्सों में हल्की लाइट बेहद खुबसूरत लगती है. पर्दे का सिलेक्शन भी दीवारों के कलर के मुताबिक करे.

अगर ड्राइंग रूम में साथ पार्टीशन है तो नेट के पर्दे लगाकर आप ग्लैमरस टच दे सकते हैं. दरवाजों पर डोर मैट भी लगाया जा सकता है. यह भी आवश्यक है कि आप देखें कि आपको यहां किन वस्तुओं को रखना है. प्रायः रेफ्रीजिरेटर, माइक्रोवेव या साधारण ओवन, मिक्सी, कांच के वार्डरोब, जिसमें आप क्राकरीज रखते हैं आदि फर्नीचर रखा जाता है.

सामान को ठीक तरह से रखे-

ज्यादा सामान होने पर यह प्रॉब्लम जरूर आती है कि कैसे जमाए जिससे आपका रूम खुबसूरत दिखे. इसके लिए आपको टेंशन लेने की जरुरत नहीं है बस थोड़ी सूझबूझ से काम ले. सबसे पहले देखें कि जब आप डाइनिंग टेबल का आर्डर दें तो वह कैसा हो?

बांस के हल्के फर्नीचर, जिनके टेबल के बीच कांच लगा रहता है, कास्ट आयरन, कांच, थर्मोपलास्ट के साथ साधारण लकड़ी के आकर्षक डिजाइनों के फर्नीचर आपके बजट के अनुसार उपलब्ध हैं जिन्हें आप या तो स्वयं डिजाइन दे कर बनवा सकते हैं या फिर रेडीमेड ही ला सकते हैं.

इसके अतिरिक्त आप यह भी देख लें कि आपको पारंपरिक या नई डिजाइन में फर्नीचर चाहिए. अपने रूम की सजावट को ध्यान में रखते हुए ही आप आर्डर करें.

ऐसे डेकोरेट करे डाइनिंग रूम –

पूरे रूम का डेकोरेशन कैसे करे. इसके लिए आपको थोड़ा ध्यान देने की आवश्यकता है जैसे आप कमरे के कार्नर में गमले रख सकते हैं. इसके अतिरिक्त संगमरमर के बस्ट, मूर्तियां व पिलर भी लगा सकते हैं. पर्दे के किनारे आर्टिफिशियल क्रीपर लगा सकते हैं जिसमें आप आर्टिफिशियल फल-सब्जियां भी लगा सकते हैं.

रेफ्रीजिरेटर के ऊपर आप मैट लगाएं. बांस, कटवर्क के कवर अधिक आकर्षक लगते हैं. आप यहां साफ्ट टॉय के साथ-साथ अपने बच्चे की फोटो भी लगा सकते हैं. छोटे-छोटे फ्लावरपाॅट भी यहां आकर्षक लगते हैं.

माइक्रोवेव, मिक्सी आदि पर भी कवर लगाएं. क्राकरी के कांच के वार्डरोब पर आप छोटे-खिलौने रख सकते हैं. दीवारों पर फलों से संबंधित पोस्टर आदि भी लगा सकते हैं.

डाइनिंग रूम ऐसा रूम है, जहां सुबह-सुबह स्कूल, ऑफिस आदि में जाने के लिए नाश्ता करते हुए घड़ी की सुइयों की तरफ आपका ध्यान रहता है अतः यह आवश्यक है कि आप इस रूम में वाल क्लाक की व्यवस्था करें.

इसके अलावा आप डाइनिंग टेबल पर बांस की बास्केट जिसमें फल आदि रखे हुए हों, कपड़े, प्लास्टिक या फिर बांस के मैट रखें. नमक व काली मिर्च के पाउडर की छोटी-छोटी दानियां रखें। अचार आदि के पाॅट भी रखे जा सकते हैं.