जलने पर राहत दिलाएंगे ये घरेलू उपचार

जलने पर त्वचा में फफोले हो जाते हैं जब ये फूटते हैं तो बहुत दर्द होता है. आप जलने के बाद आप कई सारी दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं जो आपके लिए हानिकारक होती हैं. आइए हम आपको कुछ घरेलू उपचार के बारे में (treatment of burn) बताते हैं जिनके द्वारा आप जलन को कम करने के साथ ही ठीक कर सकते हैं.

आग की चपेट में आने पर शरीर के किसी भी अंग के जलने पर काफी तकलीफ होती है. कई बार तो जलन इतनी ज्यादा होती हैं की असहनीय हो जाती हैं. थोड़ा सा जल जाने पर भी काफी तकलीफ होती है क्योंकि इन्सान की त्वचा कोमल होती है. जलने के कारण किसी काम को करने में मन नहीं लगता है.

जलने पर त्वचा में फफोले हो जाते हैं जब ये फूटते हैं तो बहुत दर्द होता है. आप जलने के बाद आप कई सारी दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं जो आपके लिए हानिकारक होती हैं. आइए हम आपको कुछ घरेलू उपचार के बारे में (treatment of burn) बताते हैं जिनके द्वारा आप जलन को कम करने के साथ ही ठीक कर सकते हैं.

जलने का घरेलू उपचार
तुलसी- तुलसी (Tulsi benefits) का पौधा कई बहुत सारी तकलीफों की दवा है, इससे जली त्वचा को भी ठीक किया जाता है. जली हुई त्वचा पर तुलसी का रस लगाने से काफी आराम मिलता है. इससे जलन भी चुटकियों में दूर होती है और निशान भी नहीं पड़ते हैं.

गेहूं का आटा- किचन में काम करते समय अगर गर्म तेल के कारण कोई अंग जल जाता है और इस पर घाव भी हो जाता है तो इसके लिए आप आटे की लोई बनाकर इस पर लगा लें. इससे घाव पर ठंडक मिलेगी और घाव जल्दी ठीक होगा.

बर्फ की सिकाई- शरीर के किसी भी अंग को जलने पर (ice burn skin treatment) सबसे पहले बर्फ की सिकाई करें. बर्फ को 10 से 15 मिनिट तक धीरे-धीरे रगड़ें. इससे जलन कम होगी और फफोले नहीं होंगे  और सूूजन भी कम हो जाएगी. साथ ही घाव होने से बच जाएगा.

शहद- जलने से राहत पाने का एक विकल्प शहद भी है.  (honey for burns on skin) शहद में कई एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं. जो हमारी सेहत को लाभ पहुंचाने के साथ साथ जलने की समस्या से भी राहत दिलाते हैं. हाथ जलने पर शहद का इस्तेमाल करने से काफी आराम मिलता है. यदि आप शहद में त्रिफला मिलाकर पेस्ट बनाकर लगाएंगे तो आपको और भी जल्दी आराम होगा.

एलोवेरा- (aloe vera for burn skin) जलने पर एलोवेरा काफी फायदा पहुंचाता है. एलोवेरा ठंडक देने के साथ ही निशान होने से बचाता है. पानी या दूध से घाव को धोने के बाद ताजे एलोवेरा के जेल को जले हुए स्थान पर लगाएं. इसे लगाने से घाव जल्दी ही सूख जाता है. और जलन भी कम होती है.

टूथपेस्ट- टूथपेस्ट दांतों को साफ करने के अलावा जलने पर भी काफी फायदेमंद हैं. (toothpaste on burn) जले हुए स्थान पर टूथपेस्ट लगाकर कुछ देर सूखने के लिए छोड़ दें. इससे जलन भी नही होगी और घाव पर निशान बनने से भी बच जाएगा.

आलू- आलूू में स्टार्च होता है जो जले हुए घाव पर (potato skin burn treatment) संक्रमण होने से रोकता है. जले हुए स्थान पर आलू या आलू का छिलका लगाकर रखने से भी जलन से राहत मिलेगी और ठंडक  मिलती है. इसके लिए आलू को दो भागों में काटकर उसे जख्म पर रखें. जलने के तुरंत बाद यह करना काफी फायदेमंद होगा.

चूना- जलने पर चूना लगाने (chuna burn treatment) से भी काफी आराम मिलता है. यदि गर्म तेल के कारण कोई अंग जल जाता है और इस पर घाव भी हो जाता है तो इसके लिए पुराने चूने का  इस्तेमाल करें. चूने को पीसकर इसे दही में मिलाकर कर घाव पर लगाएं. पुराने से पुराना घाव ठीक हो जाएगा.

तिल- तिल का उपयोग भी जलने पर राहत पहुंचाने में सहायक है. तिल को पीसकर जले हुए स्थान पर लगाने से जलन और दर्द नहीं होगा. तिल लगाने से जलने वाले हिस्से पर से  दाग-धब्बे भी समाप्त होते हैं. तिल ठंडक भी करता है.

अंडे की सफेदी- जब स्किन जल जाती है, तो उसमें तेज़ी से जलन होने लगती है. (egg for burn treatment) इसी जलन को मिटाने के लिए अंडे का स़फेद भाग लगाएं और उसे कुछ देर तक सूखने दें. दर्द दूर  करने और दाग़ न पड़ने के लिए इसे दिन में तीन बार लगाएं. जल्द ही आराम हो जाएगा.

नोट: यह लेख आपकी जानकारी बढ़ाने के लिए साझा किया गया है. यदि आपकी त्वचा ज्यादा जल गई है तो किसी भी तरह के घरेलू उपाय से पहले अपने नजदीकी डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!