Reduce snoring tips: खर्राटों से परेशान हैं तो घर में ही मौजूद है इसका उपचार

खर्राटे का मुख्य (what causes snoring) कारण सोते समय सांस लेने में तकलीफ का होना हो सकता है, लेकिन ज्यादा खर्राटे  की वजह तनाव, मोटापा, थकान और दिल से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं.

खर्राटे (snore) लेना एक आम समस्या है. वे लोग जो अत्यधिक थक जाते हैं (Is it bad to snore) अथवा रोजाना की अपेक्षा दिनों बाद नींद पूरी करते हैं वे अक्सर खर्राटे लेते दिखाई देते हैं.

अंग्रेेेेजी में खर्राटों को स्नोरिंग कहते हैं (Meaning of खर्राटे मारना in English). आमतौर खर्राटे लेने की समस्या बुजुर्गों को होती है, लेकिन आजकल कम उम्र में ही, खासतौर पर युवा खर्राटे लेने की समस्या से जूझते दिखाई देते हैं.

देखा जाए तो खर्राटे लेना कोई बीमारी नहीं है लेकिन इससे दूसरे व्यक्ति की नींद जरूर खराब होती है. यही नहीं जिन्हें खर्राटे लेने की आदत है उनके लिए भी किसी सामाजिक जगह पर, अथवा ट्रेन में खर्राटे लेना शर्मिंदगी का कारण बनता है.

दरअसल, खर्राटे (snoring meaning in hindi) एक ऐसी समस्या है जिसमें खर्राटे लेने वाले को भले ही कुछ न पता चलता हो, लेकिन उसके साथ सोने वाले की तो नींद खराब होती ही है. यह कोई बीमारी नहीं (Symptoms and causes of Snoring) हैं यह एक सामान्य सी समस्या है, जो किसी भी उम्र के बच्चे, बड़े, महिला या पुरुष को हो सकती है.

खर्राटे का मुख्य (what causes snoring) कारण सोते समय सांस लेने में तकलीफ का होना हो सकता है, लेकिन ज्यादा खर्राटे की वजह तनाव, मोटापा, थकान और दिल से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं.कई बार खर्राटे की समस्या जीवनशैली के चलते होती है. (Lifestyle in Snoring Problem) खर्राटे वैसे तो ज्यादा खतरनाक नही होते पर यह आपके दिल की समस्या को दर्शाते हैं. आइए जानते हैं खर्राटे बंद करने के घरेलू उपाय.

खर्राटे बंद करने के घरेलू उपाय (how to stop snoring naturally)
यदि आपको खर्राटे लेने की आदत है तो कुछ (indian home remedies to stop snoring) घरेलू उपाय आपके लिए कारगर सिद्ध हो सकते हैं. यह उपाय ना केवल आपके खर्राटे रोकने (How I can stop my snoring) में मदद करेंगे बल्कि खर्राटे की समस्या को जड़ से भी खत्म कर सकते हैं.

हल्दी और दूध: (turmeric milk for snoring) हल्दी के एंटी-सेप्ट‍िक और एंटी-बायोटिक गुण के कारण यह खर्राटे दूर करने में सहायक है. आप (what to eat to stop snoring) यदि कुछ मात्रा में हल्दी इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपका नासा-द्वार साफ तो होता ही है बल्कि सांस लेना भी आसान हो जाता है. आप यदि खर्राटे की समस्या से जूझ रहे हैं तो कुछ दिन रात को सोने से पहले गर्म दूध में हल्दी डालकर पीने से आपको खर्राटे की समस्या से राहत मिलेगी.

ज्यादा पानी पिएंं: ज्यादा पानी पीना आपके लिए हर तरह से फायदेमंद है और (drinking water for snoring) खर्राटे की समस्या से भी राहत दिला सकता है.

दरअसल, खर्राटे की एक वजह नाक का सूख जाना भी होता है और यह स्थिति तब होती है जब आपके शरीर में पानी की मात्रा कम होने लगती है. (how to stop snoring immediately) पानी की कमी से नाक में श्वास दृार में नमी होती है और यह धीरे-धीरे सूखने लगती है लिहाजा सोते समय खर्राटे की समस्या पैदा होती है.

यही नहीं जब नाक सूखने लगती है तो साइनस हवा की गति को श्वास तंत्र में पहुंचने के बीच में सहयोग ही नहीं कर पाता और तब सांस लेना कठिन हो जाता है और खर्राटे की प्रवृत्ति बढ़ जाती है. पूरे दिन भरपूर मात्रा में पानी पीना आपको खर्राटे की समस्या से निजात दिला सकता है.

पुदीने का तेल- खर्राटे की समस्या से निजात दिलाने में (kharate rokne ke gharelu upay) पुदीना तेल राहत दिला सकता है. पुदीने का तेल गले और नासाछिद्रों के लिए अच्छा होता है. (pudina oil uses) इस तेल से गले और नासाछिद्रों किसी संक्रमण या एलर्जी के चलते सूजन हुई हो तो उसे कम किया जा सकता है.

पुदीने का तेल श्वास नलिका को खोल देता है जिससे सांस लेना आसान हो जाता है. आप इसका इस्तेमाल सोने से पहले कर सकते हैं. करना बस इतना होगा कि (peppermint oil for snoring) पिपरमिंट ऑयल की कुछ बूंदों को पानी में डालकर उससे गरारे कर लें और इसे तकरीबन एक माह तक करें इससे आपको जरूर फायदा होगा.

इलायची: इलायची श्वसन तंत्र के लिए फायदेमंद होती है. इलायची के प्रयोग से श्वसन तंत्र खुल जाता है, (Natural Way To Stop Snoring) जिसका सीधा असर ऑक्सीजन की आवाजाही पर पड़ता है, यानी की सांस लेने की तकलीफ ख़त्म होती है. आप यदि गुनगुने पानी में कुछ दाने (elaichi snoring treatment) इलायची के डालकर पिएंगे तो यह भी खर्राटे के लिए बेहद फायदेमंद होगा.

शुद्ध घी: शुद्ध घी या गाय का घी खर्राटे के (Desi ghee for snoring)  लिए गुणकारी औघधि के रूप में काम आता है. शुद्ध घी में ऐसे गुण होते हैं जो बंद श्वास नलिकाओं को साफ तो करता है बल्कि श्वसन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने में सहयोग करता है.

जिन लोगों को खर्राटे की समस्या है यदि वे रात को सोने से पहले शुद्ध घी गर्म करके गुनगुना होने के बाद अपनी नाक के दोनों द्वारों में डालें और सुबह भी यही प्रक्रिया करें तो इससे आपको खर्राटे की समस्या में तुरंत राहत मिल जाएगी.

भाप: भाप तो खर्राटे ही नहीं सर्दी का भी (kharate rokne ke liye kya kare) रामबाण इलाज है. दरअसल, खर्राटे का सबसे बड़ा कारण है नाक में कफ का जमाव. दिनभर के धूलकण, एलर्जी के चलते नाक में जमाव हो जाता है लिहाजा भाप इस जमाव को साफ कर देती है.

रात को सोने से पहले एक बर्तन में गर्म पानी करके उसमे 10 बूंद नीलगिरी का तेल डाल लें और तौलिया डालकर इसकी भाप लें. आप देखेंगे कि कुछ ही दिनों में आपको खर्राटे की समस्या से राहत मिल जाएगी.

लहसुन: खर्राटे बंद करने के लिए लहसुन रामबाण औषधि ही है. जिन लोगों की साइनस की समस्या है उनके लिए लहसुन इस्तेमाल करना फायदेमंद है. दरअसल, लहसुन जमाव साफ करने के साथ श्वसन-तंत्र को साफ करता है.

लहसुन का प्रयोग खर्राटे रोकने लिए करना हो तो (raw garlic for snoring) दो कच्चे लहसुन की कली को खाकर पानी पीकर सो जाएं. इससे आपको अच्छी नींद भी आएगी और खर्राटे भी कुछ ही दिनों में बंद हो जाएंगे.

शहद: शहद गले की सूजन को खत्म करता है और गले को चिकना बनाकर श्वास नलिका को साफ करता है. (honey treatment for snoring) आप खर्राटे की समस्या से जूझ रहे हैं तो रात को सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद डालकर पी लें इससे ना केवल शरीर में जमा कफ साफ होगा बल्कि खर्राटे की समस्या भी दूर होगी.

धूम्रपान न करें: धूम्रपान के चलते भी खर्राटे की समस्या उत्पन्न होती है. दरअसल, धूम्रपान से फेफड़े के काम करने की क्षमता कम होती है जिससे रात को सोते वक्त ऑक्सीजन की कमी से खर्राटे लेने की आदत होने लगती है. यह खर्राटे ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए शरीर अपनी आदत में ले आता है. यदि आप धूम्रपान करते हैं तो उसे शीघ्र ही छोड़ दें.

वजन कम करें: खर्राटे की एक वजह मोटापा और बढ़ा हुआ वजन भी है. दरअसल, (weight loss and snoring) मोटापे के कारण गले के आसपास ज्यादा वसा युक्त कोशिकाएं इकट्ठी हो जाती हैंं इससे गले में सिकुड़न होती है और खर्राटे की ध्वनि निकलने लगती है. दरअसल, यह चर्बी श्वास नलिका में हवा के रास्ते को भी रोकती है जिससे खर्राटे अधिक होते हैं.

यदि आपको खर्राटे की समस्या (how to stop snoring home remedies in hindi) जड़ से खत्म् करना है तो रोजाना एक्सरसाइज करें और वजन कम करें.

डिस्क्लेमर नोट: यह लेख आपकी जानकारी बढ़ाने के लिए साझा किया गया है और इसमें दर्शाए गए घरेलू नुस्खे सामान्य जानकारी के आधार पर बताए गए हैं. खर्राटों की समस्या से ज्यादा परेशान हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

 

error: Content is protected !!