bollywood carrier: 12वीं बाद फिल्मों में जाने का रास्ता हैं ये कोर्स

फ़िल्मी दुनिया का ग्लैमर हम सभी को कभी न कभी आकर्षित करता ही है. कुछ लोगों पर यह गलैमर मूवी देखने और फैशन तक ही रहता है. वहीं कुछ लोग बॉलीवुड में काम करने का सपना भी देखते हैं. आमतौर पर फिल्मों में काम करने के लिए कौन सी डिग्री की जाए और इससे संबंधित कोर्स कहां से किए जा सकते हैं.

0 1,090

फ़िल्मी दुनिया का ग्लैमर हम सभी को कभी न कभी आकर्षित करता ही है. कुछ लोगों पर यह गलैमर मूवी देखने और फैशन तक ही रहता है. वहीं कुछ लोग बॉलीवुड में काम करने का सपना भी देखते हैं. आमतौर पर फिल्मों में काम करने के लिए कौन सी डिग्री की जाए और इससे संबंधित कोर्स कहां से किए जा सकते हैं. इन बातों की जानकारी काफी कम होने के कारण बॉलीवुड में काम करना केवल सपना बनकर ही रह जाता है. 

जानें कोर्स के बारे में 

सम्बंधित लेख - पढ़िए

एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री तेजी के साथ ग्रोथ कर रही है. अआपने यदि 12वीं तक पढ़ाई कर ली है और एक्टिंग की फील्ड में करियर बनाने का मन है तो किसी अच्छे एक्टिंग स्कूल में दाखिला ले लें. यदि आपने ग्रेजुएशन कर लिया है तो भी आप अप्लाई कर सकते हैं. आप पीजी डिप्लोमा इन एक्टिंग का दो वर्षीय कोर्स, डिप्लोमा इन एक्टिंग तीन वर्षीय कोर्स, पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन सिनेमा के तीन वर्षीय कोर्स और एक्टिंग फास्ट ट्रैक के छह महीने के कोर्स में से किसी को भी चुन सकते हैं.

जाने एक्टिंग स्कूलों के बारे में 

यदि आपको फ़िल्मी दुनिया में बेहतर करियर बनाना है तो आपको एक्टिंग स्कूल का चुनाव करते टाइम सावधानी बरतनी होगी. नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा नई दिल्ली, फिल्म इंस्टीट्यूट पुणे, सत्यजीत रे फिल्म इंस्टीट्यूट कोलकाता,  एशियन अकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन नोएडा, दिल्ली फिल्म इंस्टीट्यूट नई दिल्ली, अनुपम खेर एक्टर प्रिपेयर्स इंस्टीट्यूट, व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल देश के जाने-माने एक्टिंग इंस्टीट्यूट के नाम हैं. आप इनमें से किसी भी इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेकर एक्टिंग के गुण सीख सकते हैं.

आसान नहीं फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री

फिल्म इंडस्ट्रीज में करियर बनाना इतना आसान नहीं होता. अगर आपका फ़िल्मी बैकग्राउंड नहीं है तो आपको शुरुआत में थोड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा. स्टार बैकग्राउंड न होने के बावजूद भी अपने टैलेंट के दम पर कई एक्टर्स ने अपना करियर संवारा है. एक्टिंग में करियर में बड़े रोल पाने के लिए आप एंकरिंग, टीवी विज्ञापन, शो-होस्टिंग और टीवी सीरियल में भी काम ढूढ़ सकते हैं. 

थियेटर में भी हैं संभावनाएं 

एक्टिंग कोर्स करने के बाद यदि अपनी अभिनय क्षमता को निखारना चाहते हैं तो आप किसी थियेटर ग्रुप को भी ज्वाइन कर सकते हैं. थियेटर में काम करने से आपकी एक्टिंग को एक नई दिशा मिलेगी. इसके साथ ही आप एक्टिंग से जुड़ी वर्कशॉप भी ज्वाइन कर सकते हैं. ये सारा एक्सपीरियंस आपको किसी बड़े रोल को दिलाने में मददगार होगा.

Review Points

फ़िल्मी दुनिया की राह आसान नहीं है. यहां काम करते टाइम आपको एक्टिंग फील्ड की पॉजिटिव और निगेटिव दोनों ही बातों को जान लेना चाहिए. फ़िल्मी दुनिया में शोहरत और दौलत की तो कोई कमी नहीं है. यहां काम करने के रोजाना नये से नये अवसर मिलते हैं और रिटायरमेंट की कोई उम्र नहीं है. इस फील्ड में करियर बनाने के बाद आपका निजी जीवन नहीं रह जाता. हर कोई आपकी जिंदगी के बारे में छोटी से छोटी बात जानना चाहता है.