Robotic Engineering में करियर कैसे बनाएं?

रोबोट एक चलती फिरती मशीन है जो इंसानी तथा मशीनी कार्य करती है. इसके कार्य करने के पीछे कंप्यूटर प्रोग्राम और इलेक्ट्रॉनिक मशीनों का संयोजन होता है. रोबोट को आप जो काम देते हैं

इंसानों के कई सारे काम मशीन करने लगी है. इसी के चलते रोबोट का भी आविष्कार हुआ जिसे इंसान की तरह बनाया गया और उससे इंसानी कार्य कराए गए. इसका सबसे बेहतरीन उदाहरण सोफिया रोबोट है जो इंसानों की तरह बात करने में सक्षम है. अगर आप भी रोबोट में रुचि रखते हैं और इस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आप रोबोटिक इंजीनियर (Robotic Engineer) बनकर अपने करियर को सही दिशा दे सकते हैं.

रोबोटिक इंजीनियरिंग क्या है? (What is Robotic Engineering?)

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग क्या है इससे पहले ये जान लेना चाहिए कि रोबोट क्या होता है? रोबोट एक चलती फिरती मशीन है जो इंसानी तथा मशीनी कार्य करती है. इसके कार्य करने के पीछे कंप्यूटर प्रोग्राम और इलेक्ट्रॉनिक मशीनों का संयोजन होता है. रोबोट को आप जो काम देते हैं वो उसे पूरा करता है. जैसे आप गूगल असिस्टेंट को बोलते हैं ठीक वैसे ही आपको रोबोट को भी बोलकर काम करवाना होता है. रोबोटिक्स इंजीनियरिंग रोबोट के इर्द-गिर्द है. इसमें आप रोबोट निर्माण, डिजाइन, संचालन से संबंधित कार्यों को सीखते हैं.

रोबोटिक्स साइन्स की वह शाखा है जिसमें आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंसी को विकसित किया जाता है और ऑटोमैटिक मैकेनिकल डिवाइस और कंप्यूटर प्रोग्रामिंग की मदद से एक मशीन तैयार की जाती है जो ऑटोमैटिक और रिप्रोग्रामेबल होती है. जिसे रोबोट कहा जाता है. इसमें सेंसर, मैनिपुलेटर्स, पावर सप्लाई, कंट्रोल सिस्टम और सॉफ्टवेयर होता है.

रोबोटिक्स इंजीनियर कैसे बने? (How to become a robotic engineer?)

रोबोटिक्स इंजीनियर बनने के लिए आपकी रुचि तकनीक तथा आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंसी में होनी चाहिए. अगर आप इन दोनों में रुचि रखते हैं तो नीचे दिये गए प्रोसेस को फॉलो करके रोबोटिक इंजीनियर बन सकते हैं.

– सबसे पहले 11वी और 12वी फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ के साथ पास करें.

– 11वी और 12वी की पढ़ाई के साथ ही IIT Entrance Exam की तैयारी करें.

– 12वी पास होने के साथ ही IIT Entrance Exam दें. इसमें आई रैंक के आधार पर आपका एडमिशन देश के किसी कॉलेज में होगा.

– कॉलेज में आप कंप्यूटर, आईटी, मैकेनिकल, मेकाट्रोनिक्स, इलेक्ट्रिकल में से किसी एक ब्रांच को ले सकते हैं.

– ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद आप रोबोटिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं. इसके लिए आपको GATE एग्जाम देना होगा जिसके माध्यम से आपका प्रवेश पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए होगा.

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के बेस्ट कॉलेज (Robotics Best College)

रोबोटिक्स की पढ़ाई के लिए देश में कई बेहतरीन संस्थान हैं जिनमें पढ़कर आप रोबोटिक्स इंजीनियर बन सकते हैं.

– इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइन्स, बैंगलोर
– आईआईटी दिल्ली, कानपुर, मद्रास, मुंबई, खड़कपुर, गुवाहटी, रुड़की
– बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, पिलानी
– थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, पटियाला
– नेताजी सुभाष चंद्र बोस इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली
– सेंटर फॉर आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंसी एंड रोबोटिक्स, बैंगलोर

रोबोटिक इंजीनियर की सैलरी (Robotic Engineer Salary)

रोबोटिक इंजीनियरिंग एक ऐसी फील्ड है जिसमें जाने के बाद आपको सैलरी की चिंता करने की जरूरत नहीं होती है. इसमें शुरुआत में ही आपको 50 हजार से 1 लाख रुपये तक की सैलरी मिल जाती है. इसके बाद अनुभव के आधार पर आपकी सैलरी बढ़ती जाती है. अनुभव हो जाने के बाद आपकी सैलरी लाखों में हो सकती है.

यह भी पढ़ें

Genetic Engineering क्या है, जेनेटिक इंजीनियर कैसे बनें?

Mechanical Engineering क्या है, मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें?

Software Engineering in Hindi : सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनें, बेस्ट कॉलेज और फीस?

error: Content is protected !!