Private Limited Company कैसे Register करें?

प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का तात्पर्य (Private limited company definition) ऐसी कंपनी से होता है जिस पर निजी स्वामित्व होता है. इसमें सदस्यों की संख्या 2 से 200 तक हो सकती है. इसमें कंपनी के जो शेयरधारक होते हैं वो कंपनी के मालिक होते हैं.

कई लोग नौकरी को छोड़कर बिजनेस शुरू कर रहे हैं. यदि आप भी अपना खुद का बिजनेस शुरू कर रहे हैं या फिर कोई कंपनी शुरू कर रहे हैं तो आपको अपनी कंपनी को रजिस्टर (How to register private company?) करवाने की जरूरत होती है. इस लेख में आप Private Limited Company को Register कराने का process जानेंगे. जिसके बाद आप खुद अपनी कंपनी को रजिस्टर करवा पाएंगे.

Private Limited Company क्या होती है?

प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का तात्पर्य (Private limited company definition) ऐसी कंपनी से होता है जिस पर निजी स्वामित्व होता है. इसमें सदस्यों की संख्या 2 से 200 तक हो सकती है. इसमें कंपनी के जो शेयरधारक होते हैं वो कंपनी के मालिक होते हैं. Private Limited Company को Stock Exchange में लिस्ट नहीं किया जा सकता है. इसमें निजी लोगों द्वारा ही Fund Raise किया जा सकता है.

Private Limited Company Register करने के लिए Documents

अपनी कंपनी को प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रूप में रजिस्टर करवाने के लिए आपके पास कुछ जरूरी documents भी होना चाहिए.
– पासपोर्ट साइज फोटो
– हाल ही में उपयोग किए गए बिजली बिल
– मालिक का एनओसी
– आवासीय पते का प्रमाण पत्र
– कंपनी के ग्राहकों का एक हलफनामा
– कंपनी के मालिक का पहचान पत्र

प्राइवेट लिमिटेड कंपनी कैसे रजिस्टर करें?

Private limited company को आप कुछ ही स्टेप्स में Register कर सकते हैं.

# Director Identification Number (DIN)

सबसे पहले आपको Director Identification Number के लिए apply करना होता है जिसे आप Ministry of Corporate Affairs (MCA) पर जाकर कर सकते हैं.

# Digital Signature

आपको Digital Signature की भी जरूरत होती है जिसे आप भारत सरकार के द्वारा अधिकृत संगठन जैसे ई-मुद्रा, सिफी से करवा सकते हैं.

# Name Availability

आपके बिजनेस का नाम Available है या नहीं ये भी आपको चेक करना होता है. इसे आप MCA की वेबसाइट पर जाकर ही चेक कर सकते हैं.

# Apply for Registration

इतना सब करने के बाद आपको MCA की official वेबसाइट www.mca.gov.in पर जाकर New Business Registration के लिए Apply करना है. इसके लिए आपके बिजनेस के आधार पर फीस लगेगी. जिसे जमा करके आप अपने बिजनेस का रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

# Submit Power Of Attorney

फॉर्म को सबमिट करने के बाद आपको MOA, AOA और Power of Attorney
Submit करनी होती है.

# Registered Office

आगे आपको कंपनी के Registered office का Declaration देना है जिस पर Director, Company Secretary या Managing Director के Signature होना चाहिए.

Private Limited Company के नियम 

प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को रजिस्टर करवाने से पहले आपको इसके नियम (Private Limited Company Registration rule) के बारे में जान लेना चाहिए.

– इसमें सदस्यों की संख्या कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 200 होनी चाहिए.
– Director की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए.
– Registration करवाने के लिए सभी दस्तावेज़ होने चाहिए.

Private Limited Company Registration के फायदे

प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को शुरू करने के कई फायदे रहते हैं.

– इसे आप सिर्फ 2 लोगों के साथ शुरू कर सकते हैं.
– इसमें किसी तरह की Statutory Meeting नहीं होती है अतः आपको Statutory Report भी जमा नहीं करनी होती है.
– इसमें आप सरकर द्वारा लगाए जाने वाले High Tax से भी बच जाते हैं.

अगर आप बिजनेस कर रहे हैं और आपने कोई कंपनी शुरू की है तो आपको उसे Private limited company के तौर पर रजिस्टर करा ही लेना चाहिए. क्योंकि इसके रजिस्ट्रेशन से आपकी कंपनी को सरकारी मान्यता मिल जाती है. इसके साथ ही सरकार की ओर से दिये जाने वाले फ़ायदों के लाभ भी आपको मिल जाते हैं.

यह भी पढ़ें :

GST Cancellation Online: कंपनी या फ़र्म बंद हो चुकी है कैसे करें जीएसटी सरेंडर?

डीमैट अकाउंट क्या है, कैसे खुलवाएं, डीमैट अकाउंट खोलने वाली कंपनी

आखिर क्या है कंपनी में हिट होने का फॉर्मूला?

error: Content is protected !!