Indian Railway: कितने बदले ट्रेन में सीट बुकिंग और रिजर्वेशन के नियम?

इंडियन ट्रेन बीते 10 सालों में बहुत बदली है. सोशल मीडिया ने रेलवे को बदलने में अहम भूमिका निभाई है. इन दिनों ट्रेन में सीट रिजर्वेशन को लेकर भी बहुत बदलाव हुए हैं. कई लोग हैं जिन्हें इस चेंज की जानकारी नहीं है.

0 748

इंडियन रेलवे भारतीयों की लाइफ लाइन है. बिना ट्रेन के 125 करोड़ का यह देश यात्रा की कल्पना भी नहीं कर सकता. लाखों गांवों और हजारों शहरों को जोड़ने वाली ट्रेन सालों से भारत को एक किए हुए है.

इंडियन ट्रेन बीते 10 सालों में बहुत बदली है. सोशल मीडिया ने रेलवे को बदलने में अहम भूमिका निभाई है. इन दिनों ट्रेन में सीट रिजर्वेशन को लेकर भी बहुत बदलाव हुए हैं. कई लोग हैं जिन्हें इस चेंज की जानकारी नहीं है.

सम्बंधित लेख - पढ़िए

कितने बदले हैं ट्रेन में रिजर्वेशन के नये नियम

हाल के 5 सालों में तो इंडियन रेलवे का तेजी से डिजिटलाइजेशन हुआ है. टिकट अब मोबाइल से बुक हो रहे. एडवांस रिजर्वेशन टिकट 120 दिन पहले बुक की जा सकती है.

Indianrail.gov.in टिकट काउंटर पर रिजर्वेशन फॉर्म के जरिये केवल 6 टिकट बुक कर सकता है. रेलवे रिजर्व सीट पर 9 बजे से सुबह के 6 बजे तक ही सोने की परमिशन देता है. सुबह 6 से रात 9 बजे तक यात्रियों को बैठने की परमिशन है.

कब मिलता है ट्रेन में रिजर्वेशन

कई बार हमें ट्रेन में रिजर्वेशन नहीं मिलता है, ऐसे में हम सोचते हैं कि ट्रेन में पहुंचकर टीसी से बात कर एडजेस्ट कर लेंगे. लेकिन कई बार ऐसा संभव नहीं हो पाता. वैसे यदि आप चाहें तो रिजर्वेशन काउंटर ट्रेन के निर्धारित प्रस्थान से 4 घंटे पहले पहुंचकर रिवर्जेशन हासिल कर सकते हैं, बशर्त है चार्ट ना बना हो.

हालांकि आप चाहें तो आगे के स्टेशन से भी रिवर्जेशन करवा सकते हैं. बेहतर होगा कि आप प्लेेटफॉर्म पर टीसी से खाली सीट के बारे में पूछें. 

PNR और आईडी कार्ड

ट्रेन में ट्रैवल करते वक्त First-AC/second AC/First AC/ sleeper और General कंपार्टमेंट में यात्रा के वक्त एक पीएनआर (Passenger Name Record) पर बुक एक यात्री ही पहचान पत्र दिखा सकता है. सभी का बताना जरूरी नहीं है. यदि कोई भी यात्री आईडी कार्ड टीसी को  नहीं दिखा पाताा है तो सभी को ट्रेन में Without ticket  माना जाएगा.

ट्रेन में रिजर्वैशन टिकट कब होगा कैंसल

रिवर्जेशन टिकट यदि कन्फर्म है, तो यात्री का ट्रेन के निर्धारित प्रस्थान से 10 मिनट पहले तक पहुंचना जरूरी होता है. यदि वह कंपार्टमेंट में प्रवेश कर अपनी सीट पर नहीं पहुंचता है तो टीसी को उसका टिकट कैंसल करने का अधिकार है.

ट्रेन में RAC सीट के नियम 

खास बात यह है कि यह टिकट RAC सीट वाले यानी की reservation against cancellation वाले को दिया जाएगा. इंडियन रेलवे के मुताबिक यदि आपका नाम RAC यानी Reservation against cancellation के तहत आते हैं, तो उन्हें सीट तभी अलॉट होगी जब ट्रेन निकलने से पहले कुछ रिजर्व टिकट कैंसल हो. यही वे सीटें हैं जो RAC वालों को दी जाती है.