कैसे डूब सकता है बैंक में जमा पैसा, जानिए कितनी है कैश गारंटी लिमिट?

बैंकों में पैसा तो हम सब रखते हैं और आज तक हमें कोई दिक्कत नहीं हुई है. वैसे क्या आप जानते हैं अगर आप 1 लाख से ज़्यादा रूपए बैंक में रखते हैं तो आपके पैसे डूब भी सकते हैं. बैंकों के कुछ ऐसे नियम हैं जिनकी वजह से आपका बैंक में रखा पैसा डूब सकता है और आप कुछ भी नहीं कर सकते हैं. बैंकों में जमा पैसों पर सुरक्षा डिपाॅजिट इंश्योरेंस एवं क्रेडिट गारंटी काॅर्पोरेशन की तरफ से एक गारंटी आपके धन पर दी जाती है लेकिन इसकी एक सीमा है. इससे ज़्यादा अगर आप बैंक में जमा करते हैं तो उस धन राशि को पाना मुश्किल हो जाता है.

0 458

बैंकों में पैसा तो हम सब रखते हैं और आज तक हमें कोई दिक्कत नहीं हुई है. वैसे क्या आप जानते हैं अगर आप 1 लाख से ज़्यादा रूपए बैंक में रखते हैं तो आपके पैसे डूब भी सकते हैं. बैंकों के कुछ ऐसे नियम हैं जिनकी वजह से आपका बैंक में रखा पैसा डूब सकता है और आप कुछ भी नहीं कर सकते हैं. बैंकों में जमा पैसों पर सुरक्षा डिपाॅजिट इंश्योरेंस एवं क्रेडिट गारंटी काॅर्पोरेशन की तरफ से एक गारंटी आपके धन पर दी जाती है लेकिन इसकी एक सीमा है. इससे ज़्यादा अगर आप बैंक में जमा करते हैं तो उस धन राशि को पाना मुश्किल हो जाता है.

कैसे डूब सकता है बैंक में जमा पैसा? (How much of your money is guaranteed in a bank?)

एक आम इंसान बैंक में अपनी सेविंग्स रखता है जो कभी-कभी एक-दो या पांच-छः लाख तक पहुंच जाती है. अगर आपके अकाउंट में भी 1 लाख रूपए से ज़्यादा पैसे जमा है तो उस पर कोई गारंटी नहीं होती. मान लीजिए बैंक किसी कारण से दिवालिया या डिफाॅल्टर हो गया तो आपका पैसा डूब जाएगा. (What happens to my money if a bank fails?) यहां से सिर्फ आपका 1 लाख रूपया ही रिकवर हो पाएगा. हालाकि भारत में ऐसा अभी तक हुआ नहीं है. बैंकों पर मुसीबत आते ही उनका विलय कर दिया गया जिससे बैंक और कस्टमर किसी का नुकसान नहीं हुआ.

बैंकों में कितना पैसा सुरक्षित होता है? (Is my money safe in bank?)

बैंकों में वैसे तो आप करोड़ों-अरबों रूपए जमा कर सकते हैं लेकिन उसमें से सुरक्षित सिर्फ 1 लाख रूपया होता है. क्योंकि उस 1 लाख पर गारंटी होती है. 1 लाख रूपए में आपके द्वारा जमा की गई राशि और ब्याज दोनों ही गिना जाएगा. अगर ये दोनों 1 लाख से ज़्यादा है तो भी आपको सिर्फ 1 लाख पर ही गारंटी मिलेगी. इसके अलावा आपके एक ही बैंक के कई ब्रांच में अकाउंट है तो भी आपका कुल धन गिनकर आपको 1 लाख पर गारंटी दी जाएगी.

पैसा बचाने के लिए क्या करें? (How to save money in bank)

बैंकों से पैसे बचाने के लिए आप अलग-अलग बैंकों में 1 लाख रूपए जमा कर सकते हैं. ऐसी स्थिति में आपको हर अकाउंट पर 1 लाख रूपए की गारंटी मिलेगी और आपका पैसा डूबने से भी बच जाएगा. यहाँ ध्यान देने वाली बात है कि बैंक अलग होना चाहिए ब्रांच के अलग होने से कुछ नहीं होगा. अगर आपका एक अकाउंट एसबीआई में है तो दूसरा पीएनबी में, फिर एचडीएफसी में या किसी अन्य बैंक में होना चाहिए. बैंकों का चुनाव आप अपनी मर्जी के मुताबिक कर सकते हैं.

ज्वाइंट अकाउंट में भी डूब सकता है पैसा (Joint account in bank rule)

अगर आपके किसी एक ही बैंक में दो अकाउंट है जिनसमें 1 ज्वाइंट अकाउंट और दूसरा सिंगल अकाउंट है तो भी दोनों को एक ही अकाउंट माना जाएगा. इस स्थिति में मान लीजिए ज्वाइंट अकाउंट में 1.5 लाख हैं और सिंगल अकाउंट में 1.5 लाख रूपए. तो कुल मिलाकर 3 लाख रूपए गिने जाएंगे और गारंटी देने के समय आपको 3 में से सिर्फ 1 लाख रूपए ही वापस मिल पाएंगे.

आपका ये पैसा सिर्फ बैंक के दिवालिया होने पर ही डूब सकता है. हालंाकि भारत के बैंक के इतिहास में अभी तक ऐसा नहीं हुआ है. बैंकों ने कभी अपने निवेशकों का भरोसा नहीं तोड़ा. आज तक कई बैंकों को दिवालिया होने की कगार से भारत सरकार और आरबीआई ने बचाया है. कई बैंकों को विलय कर इस समस्या को सुलझाने का प्रयास किया गया है. लेकिन फिर भी हर अकाउंट होल्डर को ये पता होना चाहिए कि बैंक में उसका कितना पैसा सुरक्षित है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!