Monkeypox क्या है, भारत पर इसका कितना असर होगा, लक्षण और इलाज क्या है?

Monkeypox के लक्षण 6 से 13 दिन के भीतर शुरू होते हैं और 21 दिनों तक रह सकते हैं. इसमें बुखार, तेज सिरदर्द, लिम्फ़ नोड्स की सूजन, पीठ दर्द, मांसपेशियों में दर्द और एनर्जी की कमी.

पूरा विश्व कोरोना महामारी से उभरा नहीं और एक नई बीमारी ने दस्तक दे दी है. Monkeypox नाम की बीमारी कई देशों में तेजी से लोगों को अपना निशाना बना रही है. हालांकि इसके इतने ज्यादा केस भी देखने को नहीं मिल रहे हैं लेकिन जिस तरह से ये Monkeypox फैल रहा है उससे ये अनुमान लगाया जा रहा है कि ये लोगों को काफी जल्द निशाना बनाएगा.

Monkeypox क्या है? (Monkeypox detail in Hindi) 

Monkeypox एक ऐसी बीमारी है जो जानवरों से इन्सानों में फ़ेल रही है. इसके लक्षण चेचक की तरह है और ये इलाज की दृष्टि से कम गंभीर है. साल 1980 के दौर में जब चेचक टीकाकरण उन्मूलन किया गया था तब Monkeypox एक गंभीर समस्या बनकर उभरा था. इसमें डबल स्ट्रैंडेड डीएनए वाइरस है जो पोक्स विरीदे परिवार के ओर्थो पोक्स वाइरस जीन्स से संबन्धित है.

किन जानवरों से फैलता है Monkeypox? (Which animal effected by monkeypox?) 

Monkeypox से बचाव का सबसे बड़ा रास्ता ये है कि आप ये जान लें Monkeypox किन जानवरों के कारण हो रहा है. ये अफ्रीका में लंबे समय से है. साल 1958 में बंदरों में पहली बार इसकी पहचान की गई थी, तब इसका नाम Monkeypox पड़ा था. एक स्टडी ये भी बताती है कि ये वाइरस कुतरने वाले जानवर जैसे गिलहरी, चूहे आदि के जरिये भी फैलता है. 

MonkeyPox का इतिहास (History of Monkeypox) 

Monkeypox कोई आज का वायरस नहीं है और न ही ये पहली बार दुनिया के किसी देश में फैल रहा है. इसकी पहचान सबसे पहले साल 1960 में रिपब्लिक ऑफ कांगो में एक नौ साल के लड़के में की गई थी. इस वाइरस को 1968 में समाप्त कर दिया गया था. इसके बाद इसके मामले पश्चिमी अफ्रीका मे तेजी से बढ़ने लगे. 

Monkeypox के लक्षण (Symptoms of Monkeypox) 

Monkeypox के लक्षण 6 से 13 दिन के भीतर शुरू होते हैं और 21 दिनों तक रह सकते हैं. इसमें बुखार, तेज सिरदर्द, लिम्फ़ नोड्स की सूजन, पीठ दर्द, मांसपेशियों में दर्द और एनर्जी की कमी. इसके कई लक्षण चेचक की तरह है. इसमें आपके शरीर पर चेचक की तरह दाने उभर आते हैं जो चेचक से बड़े होते हैं. ये चेहरे, हाथ की हथेली और पैरों के तलवे पर ज्यादा होते हाइओन. 

किन देशों में फैला है Monkeypox? (Monkeypox effected country) 

Monkeypox के सबसे ज्यादा मामले अफ्रीका में देखने को मिले हैं. लेकिन वर्तमान हालत को देखे  तो इस समय यूरोप के करीब 9 देशों में Monkeypox ने दस्तक दी है. इन 9 देशों में बेल्जियम, फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड, पुर्तगाल, स्पेन, स्वीडन और ब्रिटेन शामिल है. 

क्या भारत पर भी है Monkeypox का खतरा? (Monkeypox effect in India) 

ताजा हालत को देखें तो भारत पर Monkeypox का कोई असर नहीं है. लेकिन यदि सावधानी नहीं बरती गई तो भारत आने में इस नई बीमारी को कोई देर नहीं लगेगी. ये बीमारी ऐसी है जो चुने से फैलती है. ऐसे में यदि कोई व्यक्ति जो Monkeypox से संक्रमित हो भारत आता है तो उसके जरिये इसके फैलने के आसार ज्यादा है.

Monkeypox Vaccine

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक ये काफी जाना-पहचाना वाइरस है और इसके लिए टीके और उपचार उपलब्ध है. ये चेचक से काफी मिलता-जुलता है इसलिए चेचक के टीके भी इस पर प्रभावी माने गए हैं. 

लेकिन वहीं दूसरी ओर यूनाइटेड स्टेट्स सेंटर फॉर डिसिज कंट्रोल एंड पृवेंशन ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि इसके संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए कोई खास उपचार उपलब्ध नहीं है, लेकिन दवा के साथ इसे फैलने से नियंत्रित किया जा सकता है. 

Monkeypox एक ऐसी बीमारी है जो छूने से फैलती है. अगर किसी व्यक्ति को पहले से ही ये बीमारी है और कोई दूसरा व्यक्ति उसके घाव को छूता है तो उसे भी monkeypox होने की संभावना रहती है. इसलिए इससे खुद का बचाव अवश्य करें.

यह भी पढ़ें :

Corona Symptoms: WHO, NHS और CDC ने जारी की कोरोना के 32 लक्षणों की लिस्ट, 3 लक्षण हैं गंभीर

कोरोना चौथी लहर : भारत में बढ़ी कोरोना की रफ्तार, नए वेरिएंट से बचाव के लिए रखें सावधानी

किसे करवाना चाहिए कोरोना टेस्ट, जानिए ICMR की नई गाइडलाइन?

error: Content is protected !!