Pregnancy diet : डॉक्टर से जानें, कैसी हो प्रेगनेंसी में डाइट

प्रेग्नेंसी किसी भी महिला के लिए एक अलग ही अनुभव होता है. इसे बयां नहीं किया जा सकता. प्रेग्नेंसी के दौरान प्रेग्नेंट महिला का खासतौर पर ध्यान रखना होता है. उसे कब क्या करना है? प्रेग्नेंसी में क्या खाना है? (pregnancy food) प्रेग्नेंसी में क्या नहीं खाना है? (pregnancy food to avoid) इन सभी बातों की जानकारी प्रेग्नेंट महिला तथा उसके पति को होना चाहिए.

2 110

प्रेग्नेंसी किसी भी महिला के लिए एक अलग ही अनुभव होता है. इसे बयां नहीं किया जा सकता. प्रेग्नेंसी के दौरान प्रेग्नेंट महिला का खासतौर पर ध्यान रखना होता है. उसे कब क्या करना है? प्रेग्नेंसी में क्या खाना है? (pregnancy food) प्रेग्नेंसी में क्या नहीं खाना है? (pregnancy food to avoid) इन सभी बातों की जानकारी प्रेग्नेंट महिला तथा उसके पति को होना चाहिए.

प्रेग्नेंट महिला के लिए सही पोषण (pregnancy nutrition) काफी जरूरी होता है. प्रेग्नेंसी के दौरान महिला को पहले से ज्यादा पोषण की जरूरत होती है इसलिए उसे अच्छी और पौष्टिक चीजों का सेवन करना चाहिए ताकि उसका बच्चा तंदरुस्त रहे. इसके अलावा खान-पान में महिलाओं को कुछ चीजों से दूरी बनाकर भी रखना चाहिए.

प्रेग्नेंसी में क्या खाना चाहिए?

कोई बच्चा स्वस्थ पैदा होगा ये इस बात पर निर्भर करता है की प्रेग्नेंसी के दौरान महिला का खान-पान (best food in pregnancy) कैसा था. अगर प्रेग्नेंट महिला सही और पौष्टिक आहार (healthy diet for pregnant female) लेगी तो उसका बच्चा स्वस्थ पैदा होने के चांस रहेंगे. प्रेग्नेसी के दौरान निम्न चीजों का सेवन जरूर करना चाहिए.

– प्रेग्नेंसी के दौरान दूध और दूध से बनी चीजें (milk benefit in pregnancy) जैसे छाछ, पनीर, दही आदि महिला के लिए काफी फायदेमंद होता है क्योंकि दूध कैल्शियम का सबसे अच्छा स्त्रोत होता है. दूध में फास्फोरस, विटामिन बी, मेगनिसियम, और जिंक उच्च मात्रा में पाए जाते है।

– गर्भवती महिला को अपने भोजन में दाल को जरूर शामिल करना चाहिए. वे अपने भोजन में मसूर, मटर, सेम, छोले सोयाबीन, मूँगफली आदि दालों को शामिल कर सकते हैं. दालों को भोजन में शामिल करने का कारण ये है की इनमें प्रोटीन, फाइबर, आइरन और कैशियम अधिक मात्रा में होता है.

– अगर कोई महिला अंडों (eggs in pregnancy) का सेवन करती है तो उसे प्रेग्नेंसी में भी अंडों का सेवन जरूर करना चाहिए. एक अंडे में 77 कैलोरी होती है और अंडे में वो सभी पोशाक तत्व होते हैं जो एक प्रेग्नेंट महिला के लिए जरूरी होते हैं. इसमें प्रोटीन और वसा दोनों मौजूद होते हैं साथ ही कई तरह के विटामिन और खनिज भी पाये जाते हैं.

– प्रेग्नेंसी में हरी और पत्तेदार सब्जियों (green vegetable benefit in pregnancy) का सेवन भी फायदेमंद होता है. आप ब्रोकली, पालक, लौकी, बीन्स का सेवन कर सकते हैं. इनमें फाइबर, विटामिन सी, के, ए होते हैं. इसमें कैल्शियम, आइरन, फोलेट, पोटेशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है.

– किसी भी बच्चे के विकास में साबुत अनाज काफी जरूरी होते हैं. प्रेग्नेंसी के दौरान भी महिला को इनका सेवन करना चाहिए. प्रेग्नेंट महिला को ओट्स और कीनोवा का सेवन करना चाहिए. इसमें फाइबर, विटामिन और प्रोटीन होते हैं जो प्रेग्नेंसी के दौरान महत्वपूर्ण होते हैं.

– गर्भावस्था में सूखे मेवे और ताजे फलों का सेवन भी करना चाहिए. प्रेग्नेंस में ताजे फल जैसे सेब, अनार, केला (fruits for pregnant) काफी ज्यादा फायदेमंद होते हैं. वही सूखे मेवे जैसे काजू, बादाम, किशमिश, खजूर का सेवन भी करना चाहिए इनमें फाइबर, पोटेशियम, आइरन होते हैं.

– प्रेग्नेंसी के दौरान महिला को खाने के साथ-साथ पानी पीने का भी ध्यान रखना चाहिए. शिशु के विकास के लिए पानी को सही माना गया है. माना गया है की बच्चा पेट में पानी से ही जीवित रहता है. पानी की सहायता से ही भोजन का रस बच्चे तक पहुचाता है.

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को अच्छे प्रोटीन वाले भोजन जैसे दाल, पनीर, अंडे, नॉन वेज, मौसमी फल और दिन भर में 10 से 15 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए. इसके अलावा उन्हें फॉलिक एसिड, आइरन और कैल्शियम से भरपूर सपलीमेंट लेना चाहिए तथा प्रेग्नेंसी के 7वें महीने में शतावरी लेना चाहिए. 

प्रेग्नेंसी के दौरान क्या नहीं खाना चाहिए

एक तरफ जहां आपको पौष्टिक भोजन लेना है वही दूसरी ओर आपको ये ध्यान रखना है आप कुछ ऐसी चीजों का सेवन न करें (pregnancy food to avoid) जिनसे आपके बच्चे पर बुरा असर पड़े.

– प्रेग्नेंसी में महिला को कच्चे अंडे का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए. उबले अंडे उनके लिए फायदेमंद रहते हैं.

– प्रेग्नेंसी में चाय, कॉफी, जंक फूड, फास्ट फूड और एनर्जी ड्रिंक का सेवन नहीं करना चाहिए. कई रिसर्च में पाया गया है की ज्यादा कैफीन के सेवन से बच्चा समय से पहले और कम वजन वाला होता है.

– प्रेग्नेंसी में महिला को बियर, शराब और स्मोकिंग से दूर रहना चाहिए. अल्कोहल का सेवन बच्चे के विकास में बाधा बन सकता है.

– प्रेग्नेंसी में महिला को कच्चा पपीता नहीं खाना चाहिए. कच्चे पपीते में पेपसीन नामक पदार्थ होता है जो बच्चे की ग्रोथ और उसके विकास को रोकता है.

प्रेग्नेंसी एक नाजुक मामला है जिसमें सही खानपान एक अच्छे बच्चे के जन्म के लिए जरूरी होता है. प्रेग्नेंसी में महिला को अच्छा पोषण मिलेगा तो उसका बच्चा भी स्वस्थ होगा और आगे चलकर उसे कोई दिक्कत नहीं होगी. प्रेग्नेंसी में आपके लिए क्या खाना फायदेमंद है और क्या नुकसानदायक इस बात की जानकारी आप आपके डॉक्टर से भी ले सकते हैं.

डॉक्टर बबीता शियोकंद अरोरा (MBBS, DGO, DNB, DHM) गायनोकॉलिजिस्ट हैं. स्त्री रोग विशेषज्ञ के रूप में वे बीते 12 सालों से बतौर प्रोफेशनल अपनी सेवाएं दे रही हैं। वे दिल्ली के मैक्स, अपोलो सहित कई अस्पतालों में भी प्रोफेशल प्रैक्टिशनर रहीं हैं। वर्तमान में वे अपना निजी मेडिकल सेंटर चलाती हैं. 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!