CA की तैयारी कैसे करें, चार्टर्ड अकाउंटेंट कैसे बनें?

भारत में अधिकतर लोग कॉमर्स लेते हैं. कई लोग कॉमर्स को अच्छा नहीं समझते लेकिन ऐसा नहीं इसमें भी ऐसे स्कोप (Jobs after commerce) हैं जो आपके एक अच्छी सैलरी दिला सकते हैं. अगर आपने 10th के बाद कॉमर्स लिए है तो आप चार्टर्ड अकाउंटेंट (Chartered accountant) यानि सीए बन सकते हैं. वैसे जितना आसान कॉमर्स पढ़ना है उतना आसान सीए बनना नहीं है. इसके लिए आपको पूरी मेहनत से लंबे समय तक पढ़ाई करनी पड़ती है.

भारत में अधिकतर लोग कॉमर्स लेते हैं. कई लोग कॉमर्स को अच्छा नहीं समझते लेकिन ऐसा नहीं इसमें भी ऐसे स्कोप (Jobs after commerce) हैं जो आपके एक अच्छी सैलरी दिला सकते हैं. अगर आपने 10th के बाद कॉमर्स लिए है तो आप चार्टर्ड अकाउंटेंट (Chartered accountant) यानि सीए बन सकते हैं. वैसे जितना आसान कॉमर्स पढ़ना है उतना आसान सीए बनना नहीं है. इसके लिए आपको पूरी मेहनत से लंबे समय तक पढ़ाई करनी पड़ती है.

सीए क्या होता है? (Job profile of CA)

सीए का मतलब होता है चार्टर्ड अकाउंटेंट. सीए कोर्स में हिसाब-किताब के बारे में सिखाया जाता है. इनका प्रमुख काम लोगों को वित्तीय सलाह देना, वितत्य क्षेत्र से जुड़े विवाद सुलझाना, कंपनी या व्यक्ति का टैक्स रिटर्न भरना, बैलेंस शीट बनाना. इस तरह के काम सीए के द्वारा किए जाते हैं. वैसे सीए काफी प्रतिष्ठित पोस्ट है जो किसी डॉक्टर या इंजीनियर के मुक़ाबले कम नहीं है.

सीए की तैयारी कैसे करें? (Preparation of CA)

सीए की तैयारी आप स्कूल में रहते हुए भी कर सकते हैं और कॉलेज के साथ भी कर सकते हैं. अधिकतर लोग सीए की तैयारी कॉलेज के साथ ही करते हैं. सीए की पढ़ाई का एडमिशन लेने के लिए आपको CPT परीक्षा देनी होती है. जिसमें आप 12वी तथा कॉलेज के आधार पर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

12वीं के बाद सीए की तैयारी (After 12th CA)

सीए की तैयारी करने का सही समय स्कूल के साथ ही होता है. क्योंकि इसके कोर्स पूरा होने के समय में आपका कॉलेज भी पूरा हो जाएगा. आप सीए की तैयारी को 10वीं से ही शुरू कर सकते हैं. कोई भी व्यक्ति कॉमर्स से 12वीं पास करके सीए की प्रारम्भिक परीक्षा यानि CPT दे सकता है. 12वीं में आपके अंक 50 प्रतिशत से ज्यादा होने चाहिए. अगर आपके 12वीं में इतने मार्क्स हैं तो आप CA CPT Exam दे सकते हैं. इस परीक्षा को सालभर में दो बार जून तथा दिसंबर में आयोजित किया जाता है.

12वीं के बाद जो लोग CPT परीक्षा देकर पास हो जाते हैं उन्हें IPCC (Integrated Professional Competence Course) की इंट्रेन्स एक्जाम पास करनी पड़ती है. तब जाकर आप इस कोर्स में रजिस्टर होते हैं. इसकी तैयारी के लिए आपको CPT देने के बाद 9 महीने का वक़्त मिलता है. CPT की तरह ही ये परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है.

बी. कॉम के बाद सीए कैसे बनें? (After B.com aur college CA)

जो लोग 12वीं के बाद सीए बनना चाहते हैं उन्हें CPT Exam देनी पड़ती है लेकिन अगर आप बी.कॉम कर लेते हैं तो आपको CPT देने की कोई जरूरत नहीं होती है. बी.कॉम करने के बाद आप सीधे IPCC प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए आपके ग्रेजुएशन में 55% अंक होने चाहिए.

इन परीक्षा को पास करने के बाद आपको 3 साल तक प्रेक्टिस ट्रेनिंग या इंटर्नशिप करनी होती है. 3 साल पूरे होने के बाद आपको सीए बनने के लिए एक फ़ाइनल एक्जाम देनी होती है. अगर आप इसमें पास हो गए तो आप सीए बन जाते हैं.

CA CPT Exam Pattern

इस परीक्षा में दो सेक्शन होते हैं और ये पूरा पेपर 200 मार्क्स का होता है.

Section 1

Fundamental of Accounting – 60 Marks
Mercantile Laws – 40 Marks

Section 2

General Economics – 50 Marks
Quantitative Aptitude – 50 Marks

CA IPCC Exam

जो लोग CPT पास कर लेते हैं या फिर बी. कॉम करने के बाद सीए की पढ़ाई करना चाहते हैं उन्हें CA IPCC Exam देना होता है. ये परीक्षा 2 ग्रुप में होती है. इसमें पहले ग्रुप में 4 पेपर और दूसरे ग्रुप में 3 पेपर होते हैं.

Group 1

Accounting – 100 Marks
Business Laws ethics and communication – 100 marks
Cost accounting and financial management – 100 marks
Taxation – 100 marks

Group 2

Advance accounting
Auditing and Assurance
Information and Technology and strategic management

इस परीक्षा में पास होने के लिए आपको हर विषय में 40% पासिंग मार्क्स और कुल 50 % मार्क्स होने चाहिए.

CA Article ship/Internship

IPCC की परीक्षा को पास करने के बाद आपको 3 साल की इन्टरन्शिप करनी होती है जिसमें आपको किसी सीए के अंडर ट्रेनिंग लेनी होती है. जैसे ही आपके 3 साल की प्रेक्टिस पूरी हो जाती है तो आपको 6 महीने बाद एक परीक्षा देनी होती है. सीए बनने के लिए ये अंतिम परीक्षा होती है.

CA Final Exam

ये परीक्षा बहुत ही हाइ लेवल की होती है. इस परीक्षा को दो भागों में बांटा गया है. इसमें दोनों ग्रुप में 4-4 पेपर होते हैं.

Group 1

Financial Reporting
Strategic Financial Management
Advanced Auditing and professional ethics
Corporate and allied laws

Group 2

Advanced management accounting
Information systems control
Audit, Direct tax laws
Indirect tax laws

इन सभी परीक्षाओं को पास करने के बाद आप एक सीए बनते हैं .

सीए कोर्स कितने साल का है? (Duration of CA Course)

सीए कोर्स 12वीं पास और ग्रेजुएट दोनों के लिए साढ़े तीन साल का कोर्स है. इसमें आपको किसी कॉलेज जाकर पढ़ाई नहीं करनी है बल्कि इसकी परीक्षा देने के लिए या तो आपको सेल्फ स्टडी या फिर किसी कोचिंग का सहारा लेना पड़ेगा.

यह भी पढ़ें :

PMRF : प्रधानमंत्री रिसर्च फ़ेलोशिप योजना क्या है, इसमें कितनी राशि मिलती है?

SSC CHSL 2020 : SSC CHSL की तैयारी कैसे करें, एक्जाम पैटर्न और सिलेबस?

NTSE Exam : राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

error: Content is protected !!