शनि के प्रकोप से बचने करें हनुमानजी की भक्ति

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुंडली में हर ग्रह का अपना महत्व होता है, पर लोगों को सबसे ज्यादा डर न्याय के देवता शनि की दृष्टि से लगता है. वैसे तो शनि देव किसी को ऐसे परेशान नहीं करते हैं, हाँ लेकिन उनको न्याय पसंद है और वो अन्याय करने वालों पर नाराज़ रहते हैं.

0 380

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुंडली में हर ग्रह का अपना महत्व होता है, पर लोगों को सबसे ज्यादा डर न्याय के देवता शनि की दृष्टि से लगता है. वैसे तो शनि देव किसी को ऐसे परेशान नहीं करते हैं, हाँ लेकिन उनको न्याय पसंद है और वो अन्याय करने वालों पर नाराज़ रहते हैं.

शनि हर व्यक्ति को उसके कर्मों के अनुसार फल देते हैं और इसीलिए भी लोग उनसे डरते हैं. वैसे शनि देव किसी को बेवजह परेशान नहीं करते हैं. शनि के प्रकोप से बचने के लिए आपको हनुमानजी की साधना करने चाहिए. मंगलवार और शनिवार को हनुमान मंदिर में हनुमान जी को सिन्दूर चढ़ाएं और शाम को दीपक रखें.

सम्बंधित लेख - पढ़िए

सभी की कुंडली में होता है शनि का असर 

ज्योतिषियों के मुताबिक कभी न कभी सभी सभी की कुंडलियों में शनि की ढैय्या और साढ़ेसाती का प्रभाव पड़ता ही है. इनके आने से जीवन पर क्या असर होता है यह जानना ज़रूरी है. कब किस राशि पर ढैय्या और साढ़ेसाती का प्रभाव होगा व इसकी शांति के लिए क्या उपाय करने चाहिए, आइए इस बारे में आपको जानकारी दें. 

वृश्चिक राशि से समाप्त होने वाली है साढ़ेसाती 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार वृश्चिक राशि के जातकों पर लंबे समय से शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव चल रहा था. जल्द ही वृश्चिक राशि वालों को साढ़ेसाती से मुक्ति मिलेगी. साढ़ेसाती और ढैय्या वृश्चिक राशि  वालों को एक्सीडेंट और पारिवारिक जीवन में अशांति जैसी समस्याओं का सामना करना पद सकता है. 

वर्ष 2020 तक रहेगा कन्या राशि पर प्रभाव 

कन्या राशि पर वर्ष 2020 तक शनि की ढैय्या का प्रभाव रहेगा. इस दौरान कन्या राशि वाले जातकों को अपने गुस्से और वाणी पर संयम रखना होगा. जिससे आपका कोई भी काम प्रभावित न हो सके. ढैय्या के असर से आपको जमीन-जायदाद से संबंधित समस्या हो सकती है, इसलिए इस पर ध्यान देना आवश्यक होगा.

वृषभ राशि वालों के दांपत्य पर होगा असर 

वृषभ राशि के जातकों पर शनि की ढैय्या का प्रभाव होने से उनके दांपत्य जीवन में बिखराव की स्थिति आ सकती है. इसके अलावा पिता से बहस करने से भी बचें. बच्चों के भविष्य को लेकर भी चिंतित रहना स्वाभाविक है. गृह शांति के लिए ज़रूरतमंदों को जूते, कपड़ों और अन्य वस्तुओं का दान करें.

धनु राशि वालों को छोड़ना होगा नॉनवेज 

धनु राशि वाले जातक साढ़ेसाती और ढैय्या से बचने के लिए अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा. इसके अलावा यदि आप मांस और मदिरा खाते हैं, तो इनका त्याग कर दें. इससे आपके परिवारजनों को लाभ होगा. साथ ही आपको हनुमान जी की भी आराधना करनी चाहिए.

मकर राशि वाले रखें सेहत का ख्याल 

मकर राशि वालों को शनि की साढ़ेसाती का असर कम रहेगा. इसके बावजूद स्वास्थ्य का विशेष ध्यान मकर राशि के जातकों को रखना चाहिए. रास्ते में खाने-पीने से बचें.  साथ ही शनिदेव व हनुमानजी की साधना भी करें.

error: Content is protected !!