Browsing Tag

नवरात्रि की कहानियां

माँ सिद्धिदात्री की कथा व महत्व, सभी सिद्धियाँ देने वाली देवी

नवरात्रि का नौवां दिन (navratri 9th day) होता है माँ सिद्धिदात्री (maa siddhidatri) की उपासना करने का. ये माँ दुर्गा (maa durga) की नौवीं शक्ति का नाम है. माँ सिद्धिदात्री (maa siddhidatri) सभी प्रकार की सिद्धियों को देने वाली देवी हैं. इनकी साधना और उपासना करने से साधकों को सभी सिद्धियाँ प्राप्त हो जाती है. इन सिद्धियों को पाने के बाद सृष्टि में…
Read More...

नवरात्रि का आठवां दिन: महागौरी कथा व महत्व, माता पार्वती का…

नवरात्रि का आठवा दिन (navratri 8th day) काफी खास और महत्वपूर्ण होता है क्योंकि ये दिन देवी महागौरी (mahagroui) की उपासना का होता है. महागौरी माँ पार्वती (maa…
Read More...

मां कालरात्रि की कथा व महत्व, रक्तबीज तथा महाकाली का युद्ध

मां दुर्गा का सातवा स्वरूप है मां कालरात्रि (kaalratri). नवरात्रि के सातवें दिन साधक का मन 'सहस्रार चक्र' में स्थित होता है. उनके लिए संसार की समस्त सिद्धियों…
Read More...

मांं कात्यायनी की कहानी और महत्व, मनचाहा वर देने वाली देवी

नवरात्रि का छठवाँ दिन (navratri 6th day) माँ कात्यायनी (Maa Katyayani) की उपासना का होता है. माँ कात्यायनी माँ पार्वती का दूसरा नाम है. माँ पार्वती के अन्य नाम उमा, काली, गौरी, हेमावाती और ईश्वरी है. इन्हें दुर्गा, शक्ति, भद्रकाली और चंडिका भी कहा जाता है. नवरात्रि का छठवा दिन भी साधकों के लिए काफी खास होता है क्योंकि इस दिन साधक का मन आज्ञा चक्र…
Read More...

स्कन्दमाता की कहानी और महत्व, स्कन्द कुमार की देवी

नवरात्रि का पांचवा दिन माँ स्कन्दमाता (skandmata) की उपासना का होता है. नवरात्रि पूजन के पांचवे दिन को शास्त्रों में पुष्कल महत्व बताया गया है. इस दिन में साधक…
Read More...

मां कुष्मांडा की कथा और महत्व, सृष्टि और ब्रह्मांड की रचना…

नवरात्रि का चौथा दिन कुष्मांडा देवी (Kushmanda devi) की उपासना का दिन होता है. कुष्मांडा देवी (maa kushmanda) को सबसे ज्यादा शक्तिशाली और सहनशील माना जाता है.…
Read More...

मां चंद्रघंटा की कथा और महत्व, महिषासुर का वध करने वाली देवी

नवरात्रि का त्योहार हिन्दू धर्म में काफी धूम-धाम (why is navratri celebrated) से मनाया जाता है. ऐसा नहीं है कि इसे सिर्फ हिन्दू या भारतीय लोग ही मनाते हैं कई विदेशी लोग भी नवरात्रि को धूम-धाम से मनाते हैं. नवरात्रि का तीसरा दिन मां दुर्गा के तीसरा स्वरूप 'मां चंद्रघंटा' (maa chandraghanta) है.
Read More...

नवरात्रि का दूसरा दिन, मांं ब्रह्मचारिणी की कथा और महत्व

नवरात्रि का त्योहार माँ दुर्गा की पुजा अर्चना करने का त्योहार होता है. नवरात्रि के नौ दिनों तक (why is navratri celebrated) मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा (nine…
Read More...

नवरात्रि: मांं शैलपुत्री की कहानी, महत्व और माता सती का…

मांं दुर्गा के नौ रूपों में से पहला रूप मांं शैलपुत्री (first day maa shailputri) के नाम से जाना जाता है. मांं शैलपुत्री पर्वत राज हिमालय के घर में जन्मी थी…
Read More...

नवरात्रि में कन्या पूजन व कन्या भोज कैसे करें, कंजक पूजन का महत्व

नवरात्रि में कन्या पूजन (kanya pujan) और कन्या भोजन (kanya bhojan navratri) का रिवाज सभी के यहाँ होता है. जो लोग माता पूजन करते हैं वो अपने अनुसार तिथि को कन्याओं को बुला कर उनकी पूजा करते हैं उन्हें अपना यहाँ भोजन करवाते हैं. कई जगह इन्हें कंजक खिलाना (kanjak poojan) भी कहते हैं. कन्या पूजन और भोजन में आपको कई बातों का ध्यान रखना होता है. कन्या…
Read More...
error: Content is protected !!