चार्जेज के नाम पर आप भी तो नहीं चुका रहे बैंक को बेवजह पैसा

बैंक के द्वारा कई सेवाओ का नाम देकर व्यक्तियों से जो पैसे वसूले जाते है, उससे सबसे ज्यादा परेशान आम आदमी को होना पड़ता है.

0 490

आज के बदलते Technology के क्षेत्र मे हर व्यक्ति बहुत कम कम समय मे अधिक से अधिक काम करना चाहता हैं. पैसों के हस्तांतरण के लिए हमे पहले काफी परेशानिया उठानी पड़ती थी, जैसे बैंक मे जाकर लंबी-लंबी लाइन मे खड़े होकर घंटो तक अपना नंबर आने का इंतेजार करना पड़ता था, लेकिन Technology इस कदर बदल गई हैं, की अब आप घर बैठे बड़े आराम से पैसों को ट्रांसफर कर सकते हैं . लेकिन बैंक का काम तो आसान हो गया हैं, लेकिन उसकी सेवाएं काफी महंगी हो गई हैं.

बैंक के द्वारा कई सेवाओ का नाम देकर व्यक्तियों से जो पैसे वसूले जाते है, उससे सबसे ज्यादा परेशान आम आदमी को होना पड़ता है. देखा जाये तो बैंकों की अत्यधिक कमाई तो चेक, एटीएम ट्रांजैक्शन, बैंक ड्राफ्ट, लॉकर चार्ज, एफडी और लोन पर टैक्स लगाकर होती है. जब भी हम बेंक मे कसी ताह का कोई ट्रांजैक्शन करते है, वह उस ट्रांजैक्शन से भी अतिरिक्त चार्ज का नाम दे कर कमाई करते हैं. यदि आप कुछ बेहतर तरीको पर ध्यान देते है, तो आप बड़ी रकम को बचा सकते हैं. ओर बैंकिंग से जुड़े कई चार्ज से छुटकारा पा सकते हैं.

शाखाओं से ट्रांजैक्शन न करें:

यदि आपको बैंक द्वारा सेवाओ का नाम देकर वसूले जा रहे पैसे बचाना है, तो बैंक के ब्रांच में जाकर कोई ट्रांजैक्शन न करें. अधिकांश बैंक ब्रांच के माध्यम से 3 या 4 फ्री ट्रांजैक्शन की सुविधा मुहैया करती हैं. इस तरह आप 150 रुपए तक बचा सकते हैं.

समय पर भरें क्रेडिट कार्ड का बिल

39 से 42 फीसदी सालाना ब्याज आप महज क्रेडिट कार्ड पर देते हैं. यदि 3 दिन की आपको देरी हो जाती हैं, तो बैंक आपसे अतिरिक्त चार्ज के 750 रुपए रुपए लेती हैं.

मिनिमम बैलेंस

बैंक अकाउंट में मिनिमम बैलेंस का खास ध्यान रखें. यदि आपके अकाउंड मे मिनिमम बैलेंस से कम पैसे है तो बैंक आपसे मिनिमम बैलेंस के नाम पर फीस वसूलेंगे.

ATM

आप ATM का उपयोग करते समय सदेव समझदारी का परिचय दिखाना चाहिए. बैंक एटीएम से महज 1 महीने में 5 ही फ्री ट्रांजैक्शन की सुविधा देती हैं. यदि आप इससे अधिक बार ATM से ट्रांजैक्शन करते हैं , तो हर ट्रांजैक्शन पर 10 से 20 रुपए आपको अतिरिक्त देना पड़ते हैं.

क्रेडिट कार्ड की लिमिट

यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट को बढ़वाते हैं, तो इसके लिए बैंक आपसे इसकी फीस वसूलती हैं, जो कम से कम 500 रुपए तक भी हो सकती है.

क्रेडिट कार्ड से न निकालें पैसा

जब को बैंक क्रेडिट कार्ड जारी करती हैं, तो वह ब्याज तो लेती ही हैं, साथ ही ट्रांजैक्शन फीस भी आपको चुकाना पड़ता हैं. इस तरह बैंक आपसे कम से कम 300 से 500 रुपए तक अतिरिक्त लेती हैं.

नेट बैंकिंग

कई व्यक्ति इंटरनेट बैंकिंग से डरते हैं, उनका मानना होता है की यह खतरनाक हो सकती हैं, लेकिन इस तरह की सोक्ष्च रखने वाले व्यक्ति खुद का बड़ा नुकसान कर रहे हैं. नेट बैकिंग के माध्यम से आप मुफ्त ट्रांजैक्शन कर सकते हैं. इस तरह आप चेकबुक पर करीब 20 से 150 रुपए बचा सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!