veg vs non veg : क्या फायदेमंद है शाकाहार? मांसाहार से होता है नुकसान?

शाकाहार और मांसाहार के फायदे और नुकसान पर बहस बहुत पुरानी है. अनेक लोगों का मानना है कि मांस खाने से शरीर में ताकत आती है और बॉडी को एनर्जी ज्यादा मिलती है. एक हद तक यह सही भी है क्योंकि  कई विटामिंस जैसे B12, या हार्ट के लिए Omega3 या फिर मसल्स के लिए प्रोटीन नॉनवेज में ज्यादा होते हैं.

0 1,761

शाकाहारी होना मानव सूचकांक स्तर पर ऊंचा माना जाता है. इस समय पूरी दुनिया में शाकाहार अपनाने को लेकर एक बहस चल रही है. खास बात यह है कि Health और fitness का ध्यान देने वाले लोग तेजी से vegetarian भी हो रहे हैं. इस समय non vegetarian होना भी कई बीमारियों को बुलावा देने के समान ही है.

बहरहाल vegetarian और non vegetarian फायदे और नुकसान पर बहस बहुत पुरानी है. कई लोगों का मानना है कि मांस खाने से शरीर में ताकत आती है और बॉडी को एनर्जी ज्यादा मिलती है.

सम्बंधित लेख - पढ़िए

एक हद तक यह सही भी है क्योंकि कई विटामिंस जैसे B12, या हार्ट के लिए Omega3 या फिर मसल्स के लिए प्रोटीन नॉनवेज में ज्यादा होते हैं. लेकिन भी कई रिसर्च और स्टडी ये मानती है कि मांसाहार के फायदे कम नुकसान ज्यादा हैं. कई रिसर्च बताती है कि हमारी बॉडी नॉनवेज को डाइजेस्ट करने के लिए नहीं बनीं है. मांसाहार को पचाने के लिए शरीर, विशेष रूप से हमारी आंतों और लीवर को बहुत मेहनत करनी होती है.

शाकाहार का महत्व और फायदे (know about vegetarian benefits and disadvantages)

शाकाहार हमें प्रकृति के करीब लाता है. वेजिटेरियन डाइट आसानी से डाइजेस्ट होती है और हेल्थ भी बढ़ती है. हम जितना कम मिर्च, मसाले वाला और कच्चा भोजन करेंगे ये हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद रहेगा. नॉन वेज ना केवल वजन बढ़ाता है बल्कि यह कई घातक बीमारियों को भी पैदा करता है.

सब्जियों और अनाज में होते हैं ये विटामिन vitamins in vegetables and grains in hindi 

सब्जियों में विटामिन, एंटी ऑक्सीडेंट, अमीनो एसिड होते हैं जिससे कई घातक बीमारियों से बचा जा सकता हैं. शा‍काहारी भोजन में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसायुक्त पदार्थ स्वास्‍थ्‍य के लिए लाभदायक होते है. यही नहीं शाकाहारी भोजन में शरीर की जरूरत के हिसाब से कैलोरीज और विटामिन होते हैं जो शरीर को फिट रखते हैं.

शाकाहार से बीमारियों की संभावना कम (vegetarian diet and disease prevention)

जो लोग वैजिटेरियन हैं उन्हें हार्ट, कैंसर और दूसरी आंतों संबंधी बीमारियां कम होती हैं. मांसाहार की तुलना में शाकाहारी भोजन में संतृप्त वसा और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है, जिससे यह हृदय रोगों की आशंका कम करता है. वेज डाइट जल्द ही पचती है. रिसर्च कहती है कि शाकाहार व्यक्ति कम अवसादग्रस्त रहते हैं और फिट और फ्रेश रहते हैं.

 

Image source: Pixabay.com
Image source: Pixabay.com

शाकाहार रखेगा बीपी, कैंसर से दूर  (vegetarian diet cancer and blood pressure prevention)

वैजिटेरियन डाइट आपको कई तरह के गंभीर रोगों से बचाती है. शाकाहारी लोग फेफड़ों का कैंसर, आंत का कैंसर से बचते हैं. रिसर्च कहती है कि शाकाहारी व्यक्तियों में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा भी कम होता है. दरअसल, ऐसा शाकाहारियों में एस्ट्रोजन की कम मात्रा के कारण होता है. आपको बता दें कि अनाज, फली, फल और सब्जियों में रेशे और एंटीऑक्सीडेंट ज्यादा होते हैं, जो कैंसर को दूर रखते हैं. इसके अलावा वेजिटेरियन लोग किडनी की समस्या या किडनी से संबंधित रोगों से भी बचते हैं.

शाकाहर से रहती है किडनी की बीमारियां दूर

स्टडी कहती है कि चूंकि फल, सब्जियों, अनाजों दालों में एंटीऑसक्सीडेंट ज्यादा होतें हैं इसलिए सारी गंदगी पेशाब के जरिये बाहर आती रहती है. इसमें विशेष रूप से प्रोटीन भी शामिल होता है वह निकल जाता है जिससे कोशिकाओं द्वारा रक्त छनने की गति, किडनी में ब्लड सर्कुलेशन मांसाहारियों की तुलना में शाकाहारियों में ज्यादा अच्छा होता है और उनमें किडनी के रोग कम पाए जाते हैं.

(नोट: यह लेख आपकी जागरूकता बढ़ाने के लिए साझा किया है. किसी बीमारी के शिकार हैं तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें.)