सर्दियों में कई बीमारियों का इलाज़ है सनबॉथ

गुलाबी ठंड के शुरू होते ही लोग गुनगुनी धूप का आनंद भी लेने लगते हैं. ठंड भगाने का फ्री और बगैर मेहनत का सबसे कारगर तरीका होता है धूप सेंकना. आपको पता है कि ठंड भगाने के अलावा भी धूप सेंकने के कई और भी फायदे हैं. धूप सेंकने से पहले आपको इसका तरीका भी जान लेना चाहिए. 

0 1,048

गुलाबी ठंड के शुरू होते ही लोग गुनगुनी धूप का आनंद भी लेने लगते हैं. ठंड भगाने का फ्री और बगैर मेहनत का सबसे कारगर तरीका होता है धूप सेंकना. आपको पता है कि ठंड भगाने के अलावा भी धूप सेंकने के कई और भी फायदे हैं. धूप सेंकने से पहले आपको इसका तरीका भी जान लेना चाहिए.

कैसे सेंके गर्मियों में धूप 

सम्बंधित लेख - पढ़िए

ठंडी के दिनों में गुनगुनी धूप सेंकना किसे अच्छा नहीं लगता, लेकिन धूप में जाने से पहले आपको कुछ बातों का विशेष तौर पर ख्याल भी रखना चाहिए. भले ही ठंड के मौसम में धूप गर्मियों की तुलना में कम होती है, लेकिन नुकसानदायक यूवी रेडियेशन की रेडियो तरंग लंबाई बहुत अधिक होती है.

यूवी रेडियेशन हमारी त्वचा को नुकसान पहुंचाता है. इससे समय से पहले झुर्रियों और पिगमेंटेशन की समस्या हो सकती है. साथ ही स्किन त्वचा के ग्लो और रंगत पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है. हालांकि कुछ टिप्स हैं, जिनसे आप अपनी स्किन का पूरा ख्याल रख सकते हैं.

ज़रूर लगाएं सनस्क्रीन

आमतौर पर लोग सनस्क्रीन को गर्मियों के समय यूज करते हैं. ऐसे में आपको यह जानना ज़रूरी है कि सनस्क्रीन सर्दियों में धूप से आपको बचाने के लिए उतनी ही जरूरी है जितनी की गर्मियों में होती है. ठंड के मौसम में भी सनस्क्रीन लगाना न भूलें.

पहनें फुल स्लीव के कपड़े 

सर्दियों में यदि आप फुल स्लीव और अधिक से अधिक शरीर को कवर करने वाले कपड़े पहनते हैं तो आपकी स्किन यूवी किरणों से सुरक्षित रहेगी. इस तरह के कपड़े आपको सर्दी से भी सुरक्षित रखेंगे

एंटी-ऑक्सीडेंट करें यूज 

धूप के संपर्क में आने से स्किन पर फ्री ऑक्सीजन रेडिकल होने का खतरा बढ़ जाता है और फ्री ऑक्सीजन रेडिकल स्किन सेल्स को नुकसान पहुंचते हैं. इससे बचने के लिए आप रात में त्वचा पर एंटी ऑक्सीडेंट क्रीम लगाएंसाथ ही स्किन सेल्स को नष्ट होने से भी बचाती है.

एंटी ऑक्सीडेंट की खुराक के लिए अलग-अलग रंग के फल व सब्जियों का सेवन करना बेहद फायदेमंद होता है. अलग-अलग प्रकार के ऐंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो कि त्वचा के कोशिकीय नुकसान को रोकते हैं. चुकंदर, पालक, ब्रोकली और टमाटर में एंटी ऑक्सीडेंट्स का भंडार हैं.

विटामिन “डी” का स्रोत है धूप 

धूप सेंकने से शरीर को भरपूर मात्रा में विटामिन डी मिलता है. इससे हड्डियां मजबूत बनती हैं. इसके साथ ही धूप सेंकने से जोड़ों का दर्द और सर्दी से होने वाले बदन दर्द से भी राहत मिलती है. धूप सेंकने से शरीर में मेलाटोनिन हार्मोन पैदा होता है और यह हार्मोन सुकुन भरी नींद के लिए फायदेमंद होता है. 

कोलेस्ट्रोल को घटाए 

जाड़े के दिनों में गुनगुनी धूप सेंकने से शरीर में कोलेस्ट्रोल का स्तर घटने लगता है. बॉडी में कोलेस्ट्रॉल घटने के साथ ही वजन भी कम होने लगता है. नियमित रूप से सनबॉथ करने से फंगल इंफेक्शन भी ठीक हो जाता है. सनबॉथ स्किन की समस्याओं से राहत दिलाने में बहुत कारगार साबित होती है.

पीलिया से मिले छुटकारा 

धूप लेना आपको पीलिया जैसी गंभीर बीमारी से भी निज़ात दिला सकता है. इसलिए पीलिया के मरीजों को धूप में जरूर बैठना चाहिए. गर्भावस्था के दौरान यदि महिलाएं धूप लेटी हैं, तो शिशु का विकास ठीक ढंग से होता है. सूरज की किरणों से निकलने वाली अल्ट्रावायलेट किरणें हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनती हैं. 

ब्लड सर्कुलेश्न को सुधारे 

सर्दियों में धूप ब्लड सर्कुलेश्न को ठीक करती है, इससे हार्ट समेत मांसपेशियों व धमनियों को लाभ सही तरीके से रक्त पहुंचने लगता है. धूप शरीर में खून जमने की समस्या को भी दूर कर देती है. जिससे डायबिटीज और दिल के मरीजों को काफी फायदा पहुंचाता है.

(नोट : यह लेख आपकी जागरूकता, सतर्कता और समझ बढ़ाने के लिए साझा किया गया है. यदि किसी बीमारी के पेशेंट हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें.)