Browsing Category

मनोरंजन

Happy birth day Shammi Kapoor: संघर्ष से बुलंदियों तक

बॉलीवुड को 50 के दशक में कश्मीर की कली, जंगली, तीसरी मंजिल, तुमसा नहीं देखा, जानवर और न जाने कितनी ऐसी ही सुपरहिट फ़िल्में देकर शमशेर राज कपूर यानि शम्मी कपूर ने दर्शकों के दिलों पर राज किया. दर्शकों को शम्मी कपूर के डांसिग स्टेप भी खूब भाते…
Read More...

Rear Window: अल्फ्रेड हिचकॉक की एक अनूठी खिड़की

दूसरों की जिंदगी में झांकना अनादि काल से मनुष्य का शगल रहा है. ढंके हुए को देखने की उत्सुकता मनुष्य के स्वाभाव के आधारभूत अवगुणों में नैसर्गिक रूप से शामिल रही है. ताकझांक की भूमिका पर सस्पेंस के बादशाह अल्फ्रेड हिचकॉक (Sir Alfred Joseph…
Read More...

नाना पाटेकर: खतरे में दमदार अभिनेता और समाज सेवक की छवि

बाॅलीवुड इंडस्ट्री से लेकर मराठी फिल्मों तक अपने अभिनय के झंडे गाड़ चुके नाना (विश्वनाथ) पाटेकर कुछ उन चुनिंदा अभिनेताओं में से हैं, जो किसी परिचय के मोहताज़ नहीं है. उन्होंने अपनी अदाकारी से दर्शकों के दिलों में जगह बनाई है.
Read More...

जन्मदिन विशेष अमिताभ बच्चन: क्यों अंजाम तक नहीं पहुंची रेखा-बिग-बी की प्रेम कहानी

कुछ प्रेम कहानियां ऐसी होती हैं जिनके होने का कोई सबूत नहीं होता, परन्तु उनके किस्से बरस दर बरस सुनाए जाते रहे हैं. ऐसी ही एक कहानी महानायक अमिताभ से जुड़ी है. जो कि हर बरस उनके जन्मदिन (11 अक्टूबर ) पर हवा में तैरने लगती है.
Read More...

Happy birth day rekha: बॉलीवुड की मिस्ट्री वुमन क्यों हैं रेखा?

एक्ट्रेस रेखा हिंदी फिल्म इंडस्ट्री का एक ऐसा नाम जिन्हें एवरग्रीन अदाकारा के तौर पर जाना जाता है. उनके एवरग्रीन होने के पीछे सिर्फ उनकी बेमिसाल खूबसूरती ही नहीं बल्कि उनका टैलेंट भी है. रेखा की अदाकारी की बात करें तो उन्होंने अपने फिल्मी…
Read More...

bollywood carrier: 12वीं बाद फिल्मों में जाने का रास्ता हैं ये कोर्स

फ़िल्मी दुनिया का ग्लैमर हम सभी को कभी न कभी आकर्षित करता ही है. कुछ लोगों पर यह गलैमर मूवी देखने और फैशन तक ही रहता है. वहीं कुछ लोग बॉलीवुड में काम करने का सपना भी देखते हैं. आमतौर पर फिल्मों में काम करने के लिए कौन सी डिग्री की जाए और…
Read More...

गांधी150: लाइफ में केवल एक फिल्म देखी थी गांधी ने जबकि उन पर बनीं सैंकड़ो फिल्म

गांधी जी के जीवन और विचारों  को समेटने की कोशिश में सैंकड़ों किताबे लिखी गई है परन्तु उनकी मृत्यु के बीस बरस तक सिनेमा ने उन्हें लगभग नजर अंदाज ही किया. स्वयं गांधीजी सिनेमा के विरोधी थे और अपने जीवन में उन्होंने एकमात्र फिल्म ' राम राज्य…
Read More...

Bollywood female directors:  सफलता के बाद भी संघर्ष में महिला फिल्मकार

हिंदी फिल्मों में महिला फिल्मकारों और निर्देशकों का इतिहास पुराना है. लेकिन महिलाओं को बॉलीवुड में सम्मानित जगह 90 के दशक के बाद ही मिली. आज जोया अख्तर, रीमा कगती, मेघना गुलजार, अपर्णा सेन और मीरा नायर जैसी बड़ी महिला फिल्म मेकर हैं…
Read More...

कहानी जेम्स बॉण्ड की? कैसे फिल्मों में आया बॉण्ड का किरदार

जेम्स बॉण्ड दुनिया भर के सिनेप्रेमियों का जाना-पहचाना नाम है. इसे अंग्रेजी लेखक और उपन्यासकार इयान फ्लेमिंग द्वारा रचा गया. यह काल्पनिक पात्र अपने हैरत अंगेज कारनामों के कारण पिछले पचास वर्षों से दर्शकों का मनोरंजन करता रहा है. 1962 से लेकर…
Read More...

बुलंदियों पर अमिताभ और करियर तलाशते अभिषेक बच्चन

बीते दो साल से फिल्मों से दूरी बनाने वाले अभिषेक बच्चन फिल्म 'मनमर्जिया' से दोबारा पर्दे पर आ रहे हैं. वे इस फिल्म में सिख की भूमिका निभा रहे हैं. उन्हें इस फिल्म से काफी उम्मीदेें हैं.
Read More...