Browsing Category

समाज और संस्‍कृति

तलाक के बाद गुजारे भत्ते और धन के बंटवारे के नियम

एक शादीशुदा रिश्ते में कई बार तलाक की नौबत आ जाती है. तलाक होने के स्थिति में कोर्ट द्वारा केस चलाया जाता है जिसमें ये तय किया जाता है की आप आपसी सहमति से तलाक ले रहे हैं. इसमें कई बार ये भी होता है की महिला अपने पति से मेंटेनेंस या गुजारे…

महिलाओं को सुरक्षित करने वाले खास अधिकार

हर साल 8 मार्च को हम महिला दिवस (Woman’s day) के रूप में मनाते हैं. महिलाओं की खूबियों का बखान करते हैं और फिर अपने काम में लग जाते हैं. कई लोग कहते हैं की महिलाओं को समान दर्जा दिया जाना चाहिए, उन्हें समान स्वतन्त्रता और शिक्षा दी जानी…

होली की परंपरा: होलाष्टक में क्यों नहीं किए जाते शुभ कार्य?

होली पर्व से एक सप्ताह पहले होलाष्टक लग जाता है. होलाष्टक लगते ही सारे उत्सव रुक जाते हैं और शुभ कार्यों को कुछ देर के लिए स्थगित कर दिया जाता है.

रक्षाबंधन 2019: रक्षा बंधन कब से और क्यों मनाया जाता है?

भारतीय समाज में रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) का त्योहार हजारों सालों की परंपरा का हिस्सा है. इस पर्व के पीछे एक ओर जहां कई पौराणिक कहानियां प्रचलित हैं तो वहीं दूसरी ओर भाई और बहन के बीच प्यार, विश्वास और रक्षा की भावना है.

मुसीबत तो नहीं बन रहे रिश्तेदार और रिश्तेदारी

रिश्तेदारों का साथ सभी को चाहिए होता है. वे आपकी ख़ुशी और गम में साथ रहते है जिससे न सिर्फ रिश्ते गहरे बने रहत्ते है बल्कि आत्मविश्वास भी बढ़ता है. लेकिन कभी कभी रिश्तेदार आपसे ऐसे सवाल कर लेते है जिसकी वजह से आपको प्रॉब्लम होने लगती है. कुछ…

Christmas 2018: ईसा मसीह ने भारत में की थी साधना? मरकर फिर हुए थे जीवित.!

25 दिसंबर को न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व में क्रिसमस का त्यौहार बड़ी धूमधाम से बनाया जाता है. लेकिन क्या आपको पता है ईसा मसीह का जन्म कैसे हुआ था. कैसे हुई थी उनकी मौत और क्यों पृथ्वी पर लौटे थे वे. आखिर क्या कनेक्शन रहा उनका भारत से ?…

प्रदूषण : एक दिन तोहफे में देगा कई बीमारियां

बढ़ती आबादी के साथ साथ दुनिया में प्रदुषण भी बढ़ रहा है. प्रदूषण का सबसे बड़ा इफ़ेक्ट पूरी मानव जाति और जानवरों पर पड़ता है. ताजा हवा न मिलने से इंसान शारीरिक और मानसिक बीमारियों का शिकार इंसान हो रहा है.

Side effects of smart phone: फैमिली लाइफ और रिश्ते भी भूल गए हैं मोबाइल के चक्कर में

मोबाइल का असर केवल हेल्थ पर ही नहीं हो रहा बल्कि यह परिवार में रिश्तों पर आरी ही चला रहा है. आज यही आपका बेस्ट फ्रैंड है और इसके बगैर आपकी जिंदगी ही आपके लिए अर्थहीन है.

उल्टे अक्षरों में सुई-मेहंदी कोण और कील से लिखींं गीता-रामायण सहित कई किताबें

कहते हैं जिंदगी में जब कोई कुछ अलग करने की ठान ले तो फिर जो भी सामने आता है वह कारनामा ही कहलाता है. नोएडा के 50 वर्षीय पीयूष गोयल ने उल्टे अक्षरों में श्रीमद्भगवद्गीता, सुुई से मधुशाला, मेहंदी से गीतांजलि, कार्बन पेपर से पंचतंत्र लिखकर…

हिंदी दिवस 2018: तो क्या एक दिन पूरी दुनिया में बोली जाएगी हिंदी?

हिंदी दुनिया में सबसे ज़्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है. य़ह अपने आप में पूर्ण रूप से एक समर्थ और सक्षम भाषा है. सबसे बड़ी बात यह भाषा जैसे लिखी जाती है, वैसे बोली भी जाती है.
error: Content is protected !!