टिप्स जो बढ़ा देंगे आपके स्मार्ट फोन की लाइफ

लोग शौक में महंगे से महंगा फोन तो ले लेते हैं, लेकिन अक्सर फोन के मेंटेनेंस पर ध्यान नहीं देते. इसका एक मुख्य कारण यह भी है कि अधिकांश स्मार्ट फोन यूजर फोन रखरखाव के तरीकों को जानते ही नहीं हैं. यदि आप अपने फोन को लांग लाइफ यूज करना चाहते हैं तो स्मार्ट फोन को सुरक्षित रखने के तरीके जान लेने चाहिए.       

0 213

लोग शौक में महंगे से महंगा फोन तो ले लेते हैं, लेकिन अक्सर फोन के मेंटेनेंस पर ध्यान नहीं देते. इसका एक मुख्य कारण यह भी है कि अधिकांश स्मार्ट फोन यूजर फोन रखरखाव के तरीकों को जानते ही नहीं हैं. यदि आप अपने फोन को लांग लाइफ यूज करना चाहते हैं तो स्मार्ट फोन को सुरक्षित रखने के तरीके जान लेना चाहिए.     

स्क्रीन लॉक पासवर्ड 

सम्बंधित लेख - पढ़िए

स्मार्ट फोन की सबसे पहली सुरक्षा है स्क्रीन लॉक पासवर्ड. जब भी आप स्मार्ट फोन का स्क्रीन लॉक बनाएं तो उसमें कैपिटल और स्मॉल लैटर जैसे ANzxUkKayJ, नंबर्स के साथ ही कुछ स्पेशियल कैरेक्टर जैसे  *?&%$#@!?/^)(₹” आदि का इस्तेमाल ज़रूर करें. इसे कम से कम 15 डीजिट्स का रखें.

Anti virus और Google Drive Backup

जब भी आप स्मार्ट फोन खरीदें तो उसके साथ एंटी वायरस परचेस ज़रूर करें. अपने स्मार्ट फोन को सुरक्षित रखने के लिए आप रोज़ाना एंटी वायरस का दिन में कम से कम दो बार इस्तेमाल ज़रूर करें. इसके साथ ही फोन पर सेव फोन बुक, ज़रूरी वीडियो और फोटोज का अपने गूगल ड्राइव में बैकअप बनाकर ज़रूर रखें. 

ब्राऊज़र लॉगिन और जीपीएस 

फोन पर किसी भी ब्राऊज़र में अगर लॉगिन करना हो तो उसके इंकॉग्निटो विंडो का इस्तेमाल करना सेव तरीका होता है. ये पासवर्ड या अन्य प्राइवेट इन्फॉर्मेशन को सेव नहीं करता. संभव हो तो बाहर जाते समय अपने फोन का जीपीएस ज़रूर ऑन रखें. हालांकि इसमें बैटरी की खपत बढ़ जाती है लेकिन सुरक्षा की दृष्टि से ये फीचर महत्वपूर्ण है.

सीखें फाइंड माई फोन यूज 

फाइंड माय फ़ोन एक एंड्राइड एप्लिकेशन है, जिसे आप अपने फ़ोन पर ज़रूर इंस्टाल कर लें. साथ ही आप ही के या आपके किसी शुभचिंतक के फ़ोन पर भी इसे इंसटाल कर दें. मोबाइल गुम होने की स्थिति में इसके जरिए आप दूर बैठकर अपना मोबाइल एक्सेस कर सकते हैं. साथ ही लोकेशन भी पता लगा सकते हैं.

सोशल मीडिया से रहें सावधान 

सोशल मीडिया पर आने वाली लिंक्स जैसे फ्री-रिचार्ज, गिफ्ट आदि पर क्लिक करने से बचें. साथ ही किसी अनजान व्यक्ति को अपना मोबाइल एक मिनट के लिए भी न दें. क्यों कि आपका मोबाइल फोन हैक किया जा सकता है. 

Time to time mobile clean

समय-समय पर मोबाइल से पड़े, गैरज़रूरी फोटोज, वीडियोज़ और मैसेज को डिलीट करते रहें. इसके बाद एंटी वायरस रन करें, ताकि मेमोरी और रैम फ्री हो सकें. इसके अलावा अपना ऑफिसियल मोबाइल नंबर, बैंक अथवा अन्य सोशल मीडिया वेबसाइट में, ओटीपी के लिए दर्ज न करें. ओटीपी यानी वन टाइम पासवर्ड, इसका इस्तेमाल करने के तुरंत बाद इसे डिलीट करना न भूलें.

(नोट: यह लेख आपकी जागरूकतासतर्कता व समझ बढ़ाने के लिए रायपुर की साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा से बातचीत के आधार पर साझा किया गया है. मोनाली छत्तीसगढ़ सरकार के विभिन्न विभागों की साइबर एक्सपर्ट के तौर पर भी मदद करती हैं.)