B. Pharmacy Course: बैचलर ऑफ़ फार्मेसी क्या है? बी.फार्मा कोर्स सब्जेक्ट्स क्या हैं?

फार्मेसी का सीधा सीधा संबंध दवाई, औषधि, मेडिसिन, ड्रग (Pharmaceutical industry) आदि से है. फार्मेसी में दवाई बनाने की विधि, किस रोग के लिए कौनसी मेडिसिन है, मेडिसिन की मात्रा, कौन-कौनसी मेडिसिन साथ ले कौनसी साथ नहीं लें. इस तरहे के टेस्ट करना आदि कार्य फार्मेसी के अंतर्गत आते हैं.

हर किसी का कोई न कोई सपना होता है. कोई इंजीनियर बनाना चाहता है, कोई डॉक्टर या कोई वकील बनना चाहता है. दरअसल, करियर प्लान करना जीवन का एक बड़ा फैसला होता है. यही वह समय होता है जब छात्र भविष्य की नींव रखता है. (career after 10th) करियर का सबसे महत्वपूर्ण मोड़ 10वीं कक्षा के बाद होता है. 10वी पास होते ही छात्र अपने विषय का चयन करता है और भविष्य में जाकर आर्थिक गतिविधि में भागीदार बनता है.

ऐसे ही यदि आप (career in medical field) मेडिकल की दुनिया में अपना करियर बनाना चाहते हैं और वह भी दवाइयों की विविधता भरी दुनिया में तो आपके लिए बी फार्मा एक सबसे अच्छा विकल्प हैं. आपने हर शहर में (job in medical shop) मेडिकल शॉप देखी होगी.

मेडिकल (शॉप how to start medical shop) किसी सामान्य दुकान की तरह नहीं होती कि उसे बिजनेस के रूप में खोला जा सके. मेडिकल शॉप खोलने के लिए आपको B Pharmacy की डिग्री होनी चाहिए और उस डिग्री के साथ होना चाहिए बी फार्मेसी का लाइसेंस. आइए जानते हैं बी फार्मेसी क्या होती है और इसमें कौन से सब्जेक्ट्स होते हैं.

फार्मेसी क्या है? (What is Pharmacy)
फार्मेसी का सीधा सीधा संबंध दवाई, औषधि, मेडिसिन, ड्रग (Pharmaceutical industry) आदि से है. फार्मेसी में दवाई बनाने की विधि, किस रोग के लिए कौनसी मेडिसिन है, मेडिसिन की मात्रा, कौन-कौनसी मेडिसिन साथ ले कौनसी साथ नहीं लें. इस तरहे के टेस्ट करना आदि कार्य फार्मेसी के अंतर्गत आते हैं.

बी.फार्मेसी क्या है? (What is B.Pharmacy)
बी.फार्मा का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ़ फार्मेसी (Bachelor of Pharmacy course )है. यह कोर्स चार वर्ष का होता है. इस कोर्स में दवाइयों से जुड़ी हर जानकारी जैसे (Medicine Production Process) दवाइयां बनाना, दवाइयों की मात्रा, उन्हें टेस्ट करना आदि इस तरह की जानकारी प्रदान की जाती है.

यह कोर्स उन लोगों के लिए होता हैं जो मेडिसिन के क्षेत्र में रुचि रखते हैं या (Biochemistry) बायो केमिकल फील्ड में करियर बनाना चाहते हैं. 4 वर्ष के इस प्रोग्राम को पूरा करके एक फार्मेसी में बेहतर भविष्य बनाया जा सकता है.

बी.फार्मेसी के लिए योग्यता (B.Pharmacy eligibility)
यदि आप बी.फार्मेसी करना चाहते हैं तो 12वीं साइंस (बायोलॉजी) से उत्तीर्ण छात्र B.Pharmacy के लिए आवेदन कर सकते हैं. कुछ कॉलेज में मेरिट के आधार पर चयन होता है जबकि कुछ कॉलेज में बी.फार्मा के लिए प्रवेश परीक्षा, group discussion एवं counselling के आधार पर भी प्रवेश मिलता है. इसके अलावा BITSAT, WBJEE,  TSEMACET जैसी एग्जाम देकर बी.फार्मा में प्रवेश पाया जा सकता है.

बी.फार्मेसी के कुछ महत्वपूर्ण सब्जेक्टस (B.Pharmacy subjects)
यहा हम कुछ महवपूर्ण विषयों के बारें में आपको बता रहे हैं जिन्हें पूरे चार वर्षो में पढ़ाया जाता है.
पहले वर्ष के सब्जेक्ट्स (first year subjects of b pharma)
• Pharmaceutical Chemistry (Organic, Inorganic, and Physical)
• Dispensing and General Pharmacy
• Human Anatomy
• Physiology

दूसरे वर्ष के सब्जेक्ट्स (B. Pharmacy 2nd Year Subjects)
• Pharmaceutical Analysis
• Advanced Organic Chemistry
• Pharmaceutics
• Health Education
• Clinical Chemistry
• Biochemistry
• Molecular Biology
• Mathematics

तीसरे वर्ष के सब्जेक्ट्स  (B. Pharmacy 2nd Year Subjects)
• Chemistry of Natural Products
• Pharmacology 1
• Industrial Management
• Computer Applications

अंतिम वर्ष के सब्जेक्ट्स (B.pharm 4th year syllabus) 
• Pharmaceutics (Advanced)
• Pharmacology 2
• Pharmacy Practice
• Pharmaceutical Analysis (Advanced)

B.Pharmacy कोर्स के फायदे (Benefit of B Pharma)
जब आप 12वीं के बाद बी.फार्मा कर लेते हैं तो आपको आसानी से जॉब मिल जाती है. एक तरह से इसे जॉब ओरिएंटेड कोर्स कहा जा सकता है. इसका कारण यह है की आजकल  दवाइयों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है, और किसी भी प्रकार की बीमारी में सबसे पहले टेस्ट करना बहुत ही जरूरी होता है, जिसके लिए अनुभवी व्यक्ति का होना बहुत ही जरूरी
है, जिनसे आप पैसे कमा सकते हैं.

• B pharmacy करने के बाद आप केमिस्ट के तौर पर जॉब कर सकते हैं.
• अगर आप खुद का मेडिकल स्टोर खोलना चाहें तो आपको उसके लिए लाइसेंस मिल सकता है.
• फार्मासिस्ट के रूप में कॉलेज में काम कर सकते हैं.
• सरकारी एवं गैर सरकारी विभागों के रिसर्च विभाग में कार्य कर सकते हैं.
• B.Pharmacy एक स्नातक डिग्री हैं जो आपको हर जगह काम आएगी.
• रिसर्च एजेंसी
• हेल्थ सेंटर
• मेडिकल स्टोर
• मेडिसिन कंपनी, आदि

बी.फार्मा, करने के लिए प्रमुख कॉलेज (Top Pharmacy Colleges in India)
देश में कई कॉलेज हैं, जहां से आप बी.फार्मा कर सकते हैं उन्हीं में से कुछ प्रमुख कॉलेज नीचे दिए जा रहे हैं |
• इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी – (ICT), मुम्बई
• मनिपाल कॉलेज ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज, मनिपाल
• यूनिवर्सिटी इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज, चंडीगढ़
• गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी – (GGSIPU), न्यू दिल्ली
• एलऍम कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी – (LMCP), अहमदाबद
• गोवा कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी – गोवा
• पूना कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी, पुणे
• एएल – अमीन कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी, बैंगलोर
• इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी – (BHU IIT), वाराणसी
• मद्रास मेडिकल कॉलेज – (MMC), चेन्नई
• जेएसएस कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी, द नीलगिरिस, तमिलनाडु

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!