Indian railway: यात्रा की हर परेशानी दूर करेगी ये एसएमएस सेवा

हमारे देश में सबसे अधिक संख्या में रोजाना ही लोग रेल से यात्रा करते हैं. जब रोजाना इतने लोग रेलगाड़ी से सफर करते हैं, तो कई प्रकार की समस्याएं आना भी लाज़मी है. रेल से यात्रा करने के दौरान कभी न कभी सभी ने किसी न किसी समस्या का सामना किया ही होगा, पर ऐसे यात्री काफी कम ही होते हैं जो इसकी शिकायत करें. शिकायत नहीं करने के भी दो मुख्य कारण होते हैं. पहला शिकायत करने की इच्छा शक्ति की कमी और दूसरा जानकारी का आभाव होना. 

0 1,177

हमारे देश में सबसे अधिक संख्या में रोजाना ही लोग रेल से यात्रा करते हैं. जब रोजाना इतने लोग रेलगाड़ी से सफर करते हैं, तो कई प्रकार की समस्याएं आना भी लाज़मी है. रेल से यात्रा करने के दौरान कभी न कभी सभी ने किसी न किसी समस्या का सामना किया ही होगा, पर ऐसे यात्री काफी कम ही होते हैं जो इसकी शिकायत करें. शिकायत नहीं करने के भी दो मुख्य कारण होते हैं. पहला शिकायत करने की इच्छा शक्ति की कमी और दूसरा जानकारी का आभाव होना. 

शिकायत करना आपका अधिकार

सम्बंधित लेख - पढ़िए

यात्रियों को यह जान लेना ज़रूरी है कि रेल यात्रा में आने वाली किसी भी समस्या को लेकर शिकायत करना आपका अधिकार है. साथ ही यह आपके जागरूक उपभोक्ता, यात्री और नागरिक होने की पहचान भी है. रेलवे अपनी सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए यात्रियों को सफर के दौरान होने वाली असुविधाओं की शिकायत का भी मौका देता है. 

शिकायत के आधार पर मिलती है हेल्प 

इंडियन रेलवे के स्‍टेशन और ट्रेनों में गंदगी होना आम बात है और इसकी शिकायत करने पर निराकरण भी किया जाएगा. साथ ही आप खाने की गुणवत्ता, ट्रेनों की लेट-लतीफी और ट्रेन व स्टेशनों में होने वाली चोरी सहित अन्य आपराधिक गतिविधियां रोकने के लिए रेलवे यात्रियों से शिकायत का आग्रह करती है.  

रेलयात्रा के दौरान होने वाली परेशानियों की शिकायत को यात्री कब, कहां और कैसे दर्ज करवा सकते हैं, यह भी जान लेना महत्वपूर्ण है. सही समय और सही स्थान पर शिकायत करने की लिए रेलवे ने कई ऑप्शन यात्रियों को दे रखे हैं. जिसे यात्री अपनी सुविधा अनुसार चुन सकते हैं.

वेबसाइट पर करें शिकायत 

शिकायत करने का सबसे शानदार और पहला तरीका है वेबसाइट. यदि आपके पास नेट कनेक्टिविटी वाला स्मार्ट फोन या लैपटॉप है तो आप http://www.coms.indianrailways.gov.in/ पर लॉग इन करे. साइट के खुलते ही आपको कई शिकायतों के ऑप्‍शंस दिखाई देंगे.

जिस पर भी चाहे उस ऑप्शन पर क्‍लिक करके आप अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं. इस पर शिकायत दर्ज कराने के लिए आपको दो स्‍टेप्‍स को फॉलो करना होगा. पहला स्टेप होगा ऑनलाइन फॉर्म भरने का, जिसमें ऑनलाइन फॉर्म भरकर आप रेलवे की शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

वहीं यदि दूसरे स्टेप्स की बात करें तो आप अपनी कम्‍प्‍लेंट के करेंट स्‍टेटस को ट्रैक भी कर सकते हैं. इसको ट्रैक करने के लिए आपको ऑनलाइन ही एक छोटा सा फॉर्म भरना होगा. इसकी जानकारी भी आपको वेबसाइट पर ऑप्शन के रूप में मिल जाएगी.

करें सोशल मीडिया पर शिकायत 

रेल यात्रा के दौरान समस्या आने पर आप उसका निराकरण कराने के लिए दूसरे तरीके के रूप में एसएमएस, कॉल या ट्विटर का सहारा भी ले सकते हैं. यात्रियों की कम्‍प्‍लेंट और सुरक्षा से जुड़े मामलों को लेकर रेलवे ने कई फोन नंबर्स उपलब्ध करवा रखे हैं. इसके साथ ही आप सोशल मीडिया पर भी कम्‍प्‍लेंट दर्ज करा सकते हैं.

यह हैं फोन नंबर 

यात्री अपनी समस्या को दूर कराने के लिए अपनी कम्‍प्‍लेंट को टोल फ्री नंबर 138 पर कॉल कर के रजिस्‍टर करवा सकते हैं. इस नंबर पर डायरेक्‍ट कम्‍प्‍लेंट भी करवाई जा सकती है. यात्री सुरक्षा संबंधी कोई भी शिकायत टोल फ्री नंबर 182 पर करवा सकते हैं.

इन दो नंबरों पर शिकायत करने के साथ ही यात्री किसी भी तरह की समस्या से छुटकारा पाने के लिए 919717680982 पर भी अपनी शिकायत को SMS कर सकते हैं. इन सभी ऑप्शन के बाद एक और तरीका  है अपनी शिकायत करने का और वो है ट्विट करने का. इसके लिए आप @RailMindia पर ट्वीट कर सकते हैं.

मोबाइल ऐप से लें हेल्प 

कुछ मोबाइल फोन ऐप भी रेलवे ने शिकायत करने के लिए तैयार करवाए हैं. मौजूदा समय में एंड्रॉयड फोन्‍स पर एक मोबाइल ऐप दिया गया है. इस ऐप में आप अपनी शिकायत भेज सकते हैं, सलाह दे सकते हैं और किसी भी मामले पर फीडबैक भी भेज सकते हैं. 

(नोट: यह लेख आपकी जागरूकता और समझ बढ़ाने के लिए साझा किया गया है. अधिक जानकारी के लिए किसी तकनीकी एक्सपर्ट की सलाह ज़रूर लें.)