Skin allergy : त्वचा की एलर्जी के कारण, उपाय और घरेलू उपचार

अपनी त्वचा का ख्याल तो हम सभी रखते हैं. कई लोग गोरे होने की कोशिश करते हैं तो कई लोग अपनी त्वचा को साफ सुंदर बनाने की कोशिश करते हैं. इन सभी के बीच में हम कभी-कभी त्वचा की एलर्जी (skin allergy) के शिकार हो जाते हैं. त्वचा की एलर्जी (skin allergy) को कई लोग नजर अंदाज कर जाते हैं क्योंकि उन्हें लगता है की ये सामान्य है अपने आप ठीक हो जाएगी लेकिन त्वचा की एलर्जी कई बार गंभीर रूप ले लेती है इसलिए त्वचा की एलर्जी के लक्षण (skin allergy symptoms) , उपचार (skin allergy home remedy) के बारे में जानना जरूरी हो जाता है.

0 603

अपनी त्वचा का ख्याल तो हम सभी रखते हैं. कई लोग गोरे होने की कोशिश करते हैं तो कई लोग अपनी त्वचा को साफ सुंदर बनाने की कोशिश करते हैं. इन सभी के बीच में हम कभी-कभी त्वचा की एलर्जी (skin allergy) के शिकार हो जाते हैं. त्वचा की एलर्जी (skin allergy) को कई लोग नजर अंदाज कर जाते हैं क्योंकि उन्हें लगता है की ये सामान्य है अपने आप ठीक हो जाएगी लेकिन त्वचा की एलर्जी कई बार गंभीर रूप ले लेती है इसलिए त्वचा की एलर्जी के लक्षण (skin allergy symptoms) , उपचार (skin allergy home remedy) के बारे में जानना जरूरी हो जाता है.

त्वचा की एलर्जी (skin allergic reaction)

सम्बंधित लेख - पढ़िए

त्वचा की एलर्जी (skin allergy) का हम एक ही मतलब समझते है और वो है ‘खुजली’ (itching) लेकिन ये सिर्फ एक तरह की एलर्जी है जिसे प्रत्यक्ष त्वचा एलर्जी (direct skin allergy) कहा जाता है. इसके अलावा भी कुछ और चीजें है जो त्वचा एलर्जी में आती है जो प्रत्यक्ष रूप से एलर्जी (skin allergy types) नहीं कहलाती. जैसे छाले, चोटी-मोटी फुंसियाँ, पिंपल आदि. ये सब भी एलर्जी का ही परिणाम होते हैं.

त्वचा की एलर्जी के कारण (causes of skin allergy)

त्वचा पर एलर्जी होने का प्रमुख कारण तो हम खुद ही है. दरअसल हम जो प्रॉडक्ट खुद को या त्वचा को खूबसूरत बनाने के लिए लगाते हैं वो त्वचा को कभी-कभी सूट नहीं होते जिसे परिणामस्वरूप आपको त्वचा पर पिंपल, फुंसी या फिर खुजली जैसी चीजें देखने को मिलती है.

त्वचा की एलर्जी का असर (effect of skin allergy)

त्वचा की एलर्जी का असर कई लोगों को सीधे तौर पर होता है मतलब अगर वे कुछ ऐसी चीज के संपर्क में आते हैं जिनसे उनकी त्वचा को एलर्जी है तो उनकी त्वचा पर अचानक से खुजली होने लगती है, इसके अलावा लाल-लाल दाने भी निकाल आते हैं. जिन लोगों को सीधे तौर पर खुजली नहीं होती है उन लोगों को जिन चीजों से एलर्जी हैं उनसे ज्यादा परेशान नहीं आती लेकिन उन्हें इसके परिणामस्वरूप छोटी-छोटी फुंसियाँ, पिंपल निकाल आते हैं, लोग इन्हें नजरअंदाज कर देते हैं और उन प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करते रहते हैं. ये चीजें आगे जाकर बड़ी समस्या बन सकती है.

त्वचा की एलर्जी के कुछ खास कारण (Main cause of skin allergy)

ये जरूरी नहीं की आपको सिर्फ किसी प्रॉडक्ट की वजह से ही त्वचा की एलर्जी हो रही हो. इनके अलावा भी कई कारण है जिनके कारण आपको त्वचा की एलर्जी हो सकती है जैसे : – वायु प्रदूषण, टैटू, आसपास की जगह का साफ ना होना, किसी दावा का साइड इफैक्ट, आपके शरीर में पानी की कमी, किसी कीड़े के काटने की वजह से आपको त्वचा की एलर्जी हो सकती है.

त्वचा की एलर्जी के लक्षण (symptoms of skin allergy)

त्वचा की एलर्जी होना एक सामान्य बीमारी है लेकिन इसके लक्षणों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. इसके कुछ प्रमुख लक्षण हैं जिनका ध्यान आपको रखना चाहिए और इनका पता लगते ही आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए. त्वचा की एलर्जी के लक्षण निम्न हैं :-

– अचानक से त्वचा के रंग का बदलना जैसे कभी-कभी आपकी त्वचा पर लाल धब्बों का पड़ जाना.
– त्वचा पर किसी प्रॉडक्ट या किसी चीज को खाने के बाद अचानक से खुजली चलना.
– किसी प्रॉडक्ट के इस्तेमाल के बाद त्वचा पर फुंसी जैसे दाने हो जाना.
– त्वचा पर अचानक से रैशेज या क्रैक पड़ना.
– त्वचा पर जलन होना.
– त्वचा में खिंचाव पैदा होना

त्वचा की एलर्जी से बचने के उपाय (precaution for skin allergy)

त्वचा की एलर्जी को नियंत्रित किया जा सकता है. लेकिन आपको ये नहीं है और आप इसे नहीं होने देना चाहते तो आप इसके लिए कुछ बचाव कर सकते हैं. त्वचा की एलर्जी से बचने के लिए आप निम्न उपाय कर सकते हैं :-
– अगर आप कहीं बाहर जा रहे हैं तो अपने चेहरे की त्वचा को ढँक कर निकले. चेहरे की त्वचा काफी सेसिटिव होती है. अगर ये प्रदूषण और धूल के संपर्क में आती है तो आपको एलर्जी हो सकती है.

– जब भी आप बाहर से घर आए तो अपने चेहरे को धोये. चेहरा धोने के लिए आप किसी ऐसे फेसवश का इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे आपको एलर्जी ना हो. अगर आपको कोई कॉस्मेटिक प्रॉडक्ट सूट नहीं होता है तो आप सिर्फ पानी से ही चेहरा धोएँ.

– कई लोग अपने आप गोरा बनाने या चेहरा साफ करने के लिए कॉस्मेटिक प्रॉडक्ट का उपयोग करते हैं. वो क्रीम, फेसवॉश, साबुन जैसी चीजें इस्तेमाल करते हैं लेकिन इनकी जगह आप एलोवेरा (गवारपाठा) या एलोवेरा जेल का उपयोग कर सकते हैं. स्किन के मामले में इसे सबसे अच्छा माना जाता है.

– कई बार आप इन सभी उपयाओं को कर लेते हैं लेकिन फिर भी आपको एलर्जी हो ही जाती है. इसका कारण आपका पानी हो सकता है. अगर आप किसी ऐसी जगह रहते हैं जहां फैक्ट्री मौजूद है तो हो सकता है की आपके यहाँ जो बोरिंग का पानी हो वो दूषित हो. ऐसे में ये ये पानी भी स्किन को काफी नुकसान पहुंचाता है.

त्वचा की एलर्जी के घरेलू उपाय (skin allergy home remedy)

त्वचा की एलर्जी को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपाय भी हैं जिनका उपयोग आप कर सकते हैं. हालांकि आप इनमें से किसी भी घरेलू उपाय का उपयोग बिना किसी डॉक्टर की सलाह के ना करें. त्वचा की एलर्जी को दूर करने के घरेलू उपाय निम्न हैं :-

स्किन पर खुजली होने पर आप नारियल तेल में कपूर मिला कर लगा सकते हैं. नारियल तेल और कपूर एक घेरलु नुस्खा है जिसकी सलाह डॉक्टर भी देते हैं. अक्सर खुजली होने पर लोग इसका इस्तेमाल करते हैं. इसे लगाने से खुजली में राहत महसूस होती है. हालांकि अगर आपको सामान्य से ज्यादा खुजली है तो फिर आपको डॉक्टर से परामर्श लेना ही पड़ेगा.

त्वचा की एलर्जी होने पर आप फिटकरी के पानी से उस जगह को धोकर साफ करें. इसके बाद उस पर कपूर और सरसों का तेल लगाएँ. आप चाहे तो नारियल के तेल और एक चुटकी फिटकरी दोनों को मिलकर भी लगा सकते हैं. इससे एलर्जी में आराम मिलता है.

अगर आप को खुजली, छोटी फुंसियाँ और पिंपल हैं तो आप एलोवेरा लगा सकते हैं. एलोवेरा के कोई साइड इफैक्ट नहीं होते हैं. आप चाहे तो इसे सामान्य त्वचा पर भी लगा सकते हैं ये आपकी त्वचा को नमी देता है. इससे त्वचा की एलर्जी भी ठीक हो जाती है. हालांकि इससे ठीक होने में थोड़ा समय लगता है.

त्वचा की एलर्जी के मामले में नीम को भी काफी फायदेमंद माना जाता है. नीम आपके शरीर में मौजूद बैक्टीरिया के संक्रमण को जड़ से खत्म करने में कारगर है. इसका इस्तेमाल करने के लिए आप नीम के कुछ पत्तों को रात को पानी में भिगोंकर न्रखेन और सुभा इन पत्तों को पीस कर पेस्ट बनाएँ और खुजली वाली जगह पर लगाएँ. अगर आप त्वचा की एलर्जी से बचना चाहते हैं तो आप नीम की पत्तियों को पानी में उबाल कर उस पानी से नहा सकते हैं.

त्वचा की एलर्जी एक ऐसी बीमारी है जिसे आसानी से नियंत्रित किया जा सकता है. आप चाहे तो इसे दवाइयों के जरिये, खानपान के जरिये, या फिर घरेलू उपचार के जरिये नियंत्रित कर सकते हैं. अगर आपकी स्किन काफी ज्यादा सेंसिटिव है तो किसी भी उपचार को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

नोट: यह लेख आपकी जानकारी और जागरूकता बढ़ाने के लिए साझा किया गया है. यदि आप संबंधित बीमारी से ग्रस्त हैं अथवा बीमारी के लक्षण महसूस होते हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें. बिना चिकित्सकीय सलाह के किसी भी तरह के उपाय ना करें और बीमारी को लेकर धारणा ना बनाएं. ऐसा करना सेहत के लिए नुकसानदायक है.

error: Content is protected !!