Google CEO Sunder Pichai: कभी दो कमरों के घर में रहा करते थे Google chrome के जनक सुन्दर पिचाई

आज गूगल के सीईओ की कुर्सी पर एक भारतवंशी बैठा है. मतलब गूगल की दुनिया की पूरी कमान आज एक हिंदुस्तानी के हाथ में है. इस हिंदुस्तानी का नाम है सुंदर पिचाई. 

0 326

Google, यह नाम सुनते ही आपको इंटरनेट की दुनिया के उस सर्च इंजन का ख्याल आता है जिस पर कुछ भी सवाल करने के बाद आधे सेकंड से ही कम समय में या यूं कहें कि  उस सवाल के किए जाने के पहले ही उसके दर्जनों जवाब आपके सामने पेश हो जाते हैं.

गूगल की दुनिया कई लोगों के लिए अनजानी,अचराचभरी और आश्चर्य से परिपूर्ण है. लेकिन बहुत गौरव से यह कहना होगा कि आज गूगल के सीईओ की कुर्सी पर एक भारतवंशी बैठा है. मतलब गूगल की दुनिया की पूरी कमान आज एक हिंदुस्तानी के हाथ में है. इस हिंदुस्तानी का नाम है सुंदर पिचाई. 

सम्बंधित लेख - पढ़िए

सुंदर पिचाई की जीवनी और जीवन परिचय (Sunder pichai biography)
12 जुलाई 1972 को तमिलनाडु के चेन्नई के अशोकनगर में जन्में सुंदर राजन पिचाई को आज दुनिया (Google CEO sunder pichai) गूगल सीईओ सुंदर पिचाई के रूप में जानती हैं. कभी दो कमरों के घर में गुजारा करने वाले सूंदर आज घर घर पहुंच चुके गूगल की सबसे ऊंची कुर्सी पर काबिज हैं.

गूगल के सीईओ का पदभार उन्होंने 10 अगस्त 2015 को ग्रहण किया. गूगल की कमान संभालने वाले आईआईटी खड़कपुर से बीटेक करने वाले सुंदर पिचाई ने 2004 में गूगल ज्वाइन किया एवं विभिन्न पदों पर रहते हुए कंपनी के प्रति लगन और निष्ठा से काम किया. उनकी मेहनत को देखते हुए साल 2015 में उन्हें गूगल का सीईओ बनाते हुए कंपनी को भी गर्व महसूस हुआ.

(Sunder pichai family life) सुन्दर के पिता रघुनाथ पिचाई ब्रिटिश कंपनी में वरिष्ठ इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे और मां एक स्टेनोग्राफर. रघुनाथ पिचाई और लक्ष्मी पिचाई के बेटे सुंदर पिचाई ने अशोक नगर जवाहर विद्यालय दसवीं पास की और बाद में 12वीं पास करने के बाद आईटी खड़कपुर से बीटेक किया.

सुंदर पिचाई की शिक्षा और गूगल (sundar pichai education)
इसके बाद होनहार छात्र रहे सुन्दर ने स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से एमबीए की डिग्री हासिल की. दुनिया की सबसे नामी कंपनी गूगल में सिलेक्शन होने के बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और कार्य के प्रति मेहनत और लगन के दम पर गूगल में विभिन्न पदों पर रहते हुए सुंदर पिचाई लगातार आगे बढ़ते गए. 

(Sunder pichai wife and family) सुंदर पिचाई ने कॉलेज में अपनी प्रेमिका रही अंजलि के साथ शादी की. सुंदर पिचाई के दो बच्चे किरण और काव्या हैं. एक भाई भी है जो फिलहाल भारत में निवास करते हैं. सुंदर पिचाई ने जीवन में हर कड़े इम्तिहान में पास होकर आज बुलंदियों को छुआ है. 

सुंदर पिचाई और गूगल क्रोम (sundar pichai invention in google)
2004 में Google से जुड़े पिचाई ने सबसे पहले Google Search Tool Bar पर काम किया. आज लोग Internet Explorer, Firefox में Google Search उसी बार के जरिये करते है. Google Gear, Google Pack, इन्टरनेट ब्राउज़र Chrome सूंदर पिचाई के अहम् योगदान और आइडिया की देन है. इसके बाद उन्हें फरवरी 2016 में शेयर्स डे सम्मान से नवाजा गया.

सुंदर पिचाई सैलरी (google ceo sundar pichai salary)
गूगल में लंबे समय तक रहने के कारण सुंदर पिचाई की सैलरी भी काफी चर्चा में रहती है. जानकारी के मुताबिक और मीडिया में आई रिपोर्ट्स के मुताबिक पिचाई को 2017 में US $200 मिलियन यानी की तकरीबन 13 अरब रुपये का वेतन दिया गया जो 2015 की तुलना में डबल रहा और यह पूरी दुनिया में चर्चा में आया.

बता दें कि सुंदर पिचाई सालों से गूगल में इंप्लॉयी रहे जिसके कारण अगस्त 2015 में कंपनी में सुंदर पिचाई को गूगल का सीईओ बनाया गया.आज twitter और microsoft जैसी कम्पनियां उन्हें जॉब ऑफर दे चुकी हैं, लेकिन वे गूगल की दुनिया में मशगूल हैंं.