कैसे मिलता है Education Loan? किन documents की होती है जरूरत?

आज Higher education के लिए हर बैंक अपने निर्धारित नियम एवं शर्तों पर शिक्षा का लोन देने के लिए तैयार है. लेकिन कई बार Education Loan के बारे में सही जानकारी नहीं होने के कारण भी छात्र अच्छी और मनमाफिक शिक्षा हासिल नहीं कर पाते.

0 326

Higher education हर स्टूडेंट का सपना होता है. लेकिन हर साल लाखों स्टूडेंट पैसे की तंगी के कारण उच्च शिक्षा से वंचित हो जाते हैं. हालांकि बैंकों और सरकारों की ओर से Education Loan की सुविधा ने हायर एजुकेशन के सपने को नई उम्मीद दी है, लेकिन कई बार Education Loan के बारे में सही जानकारी नहीं होने के कारण भी छात्र अच्छी और मनमाफिक शिक्षा हासिल नहीं कर पाते.

कैसे ले सकते हैं Education Loan

सम्बंधित लेख - पढ़िए

आज Higher education के लिए हर बैंक अपने निर्धारित नियम एवं शर्तों पर शिक्षा का लोन देने के लिए तैयार है. बैंक से लोन लेकर कोई भी स्टूडेंट ना केवल देश में बल्कि विदेश में भी पढ़ाई कर अच्छा करियर बना सकता है. 

जब हम उच्च शिक्षा के लिए हाई लेवल के स्कूल कॉलेज या हॉस्टल मे पढ़ाई करते हैं तो वहां की परीक्षा फीस, लेबोरेटी और लाइब्रेरी की फीस इतनी होती है कि हम उसका भुगतान नहीं कर पाते हैं. अपनी शिक्षा को बिना रुकावट निरंतर आगे बढ़ाने के लिए बैंक से Education Loan लेकर अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं.

भारत सरकार भी छात्रों के उज्वल भविष्य के लिए कई तरह की योजनाएं ला रही है, ताकि कोई स्टूडेंट अच्छी शिक्षा से वंछित न रह सके. हालांकि Education Loan मिलना भी आसान नहीं है.

अधिकांश व्यक्ति अपनी शिक्षा पूरी करने के लिए बैंक मे Education Loan के लिए अप्लाई तो करते हैं, किन्तु बैंक से लोन लेने की प्रोसेस इतनी जटिल होती है कि उन्हें Loan नहीं मिल पाता है, जिसका मुख्य कारण जरूरी documents का पूरा न होना है.

कैसे मिलता है Education Loan

दरअसल, बैंक Education Loan लोन उन्हें ही देती है जो उसे वापस करने की क्षमता रखते हैं. लोन लेने वाले स्टूडेंट के अभिभावक बैंक को Repayment कर सकते हैं और स्टूडेंट स्वयं भी अपनी पढ़ाई खत्म कर Repayment कर सकता है. बैंक से लोन लेने के लिए हमे एक गारंटर की आवश्यकता होती है.

Education Loan लेते समय बरतें ये सावधानियां

Education Loan लेते वक्त कई बार हम जल्दबाजी में लोन ले तो लेते हैं, लेकिन Repayment सही समय पर न कर पाने के कारण हमें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. ध्यान रहे कि लोन उतना लें जितनी आप में Repayment की क्षमता हो.

Education Loan पर भी बैंक अन्य लोन की तरह ब्याज वसूलता है, लेकिन वसूली करने के लिए मुख्य रूप से तीन विकल्प दिये जाते है. जिसमे सबसे अच्छा विकल्प मोरेटोरियम पीरियड होता हैं, जिसे Repayment holiday कहा जाता है. इस विकल्प में लोन लेने के बाद कोर्स समाप्ति के बाद वाला इसकी Repayment कर सकता है.

कैसे करें Education Loan के ब्याज का भुगतान

कोर्स के पूरा होने के बाद Education Loan के मूल और ब्याज का पेमेंट करना होता है. Education Loan पर ब्याज की दर अन्य लोन की दर से कम होती है. कई बैंक प्रोसेसिंग फीस चार्ज नहीं करते हैं. बैंक यदि प्रोसेसिंग फीस की मांग करते हैं तो आप बैंक के साथ निगोसिएशन कर सकते हैं.

पढ़ाई के लिए लोन की तैयारी

कई बार बैंक की औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद भी Education Loan नहीं मिलता है, जिसका मुख्य कारण कोर्स यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त न होना. लोने लेते वक्त उन्हीं कॉलेज या यूनिवर्सिटी का चयन करें जो यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त हो.

कौन ले सकता है Education Loan

Education Loan सिर्फ उन्ही स्टूडेंट को दिया जाता है, जो हायर टेक्निकल और प्रोफेशनल कोर्स करना चाहते हैं. इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, मेडिकल के स्टूडेंट्स को आसानी से लोन मिल जाता है. ग्रेजुएट एवं पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स वाले स्टूडेंट्स को भी एजुकेशन लोन दिया जाता है.

Education Loan के लिए जरूरी दस्तावेज़

बैंक से लोन लेने के लिए आपके पास आईडेंटिटी प्रूव, फोटोग्राफ, रेजिडेंस प्रूव, एजुकेशनल क्वालिफिकेशन से संबंधित सर्टिफिकेट्स,इनकम प्रूव, सीनियर सेकेंड्री स्कूल की मार्कशीट, स्कॉलरशिप से संबंधित डॉक्यूमेंट्स, एमबीए के लिए पोस्ट ग्रेजुएट या ग्रेजुएट की मार्कशीट की आवश्यकता होती है.