UPI से लिंक होगा Credit Card, जानिए आपका फायदा और नुकसान

RBI की ओर से जारी मौद्रिक नीति की समीक्षा के दौरान आरबीआई ने कहा कि क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से लिंक (Credit Card UPI Link) किया जाएगा. मतलब अब आप क्रेडिट कार्ड के जरिये भी यूपीआई से भुगतान कर सकेंगे.

RBI की ओर से जारी मौद्रिक नीति की समीक्षा के दौरान आरबीआई ने कहा कि क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से लिंक (Credit Card UPI Link) किया जाएगा. मतलब अब आप क्रेडिट कार्ड के जरिये भी यूपीआई से भुगतान कर सकेंगे. आने वाले कुछ ही महीनों में आप अपने क्रेडिट कार्ड को यूपीआई एप से लिंक करके उसके जरिये भी यूपीआई भुगतान कर सकेंगे.

यूपीआई से क्रेडिट कार्ड लिंक होने से उन लोगों को काफी राहत होगी जो क्रेडिट कार्ड का उपयोग करते हैं. इन्हें हमेशा भुगतान करने के लिए क्रेडिट कार्ड स्वाइप करना होता है. लेकिन अब वे सिर्फ एप के जरिये ही भुगतान कर पाएंगे.

आरबीआई के अनुसार भारत में मई 2022 में 594.63 करोड़ यूपीआई ट्रैंज़ैक्शन हुई थी. जिसकी कुल वैल्यू 10.40 लाख करोड़ रुपये थी. इसे और भी ज्यादा बढ़ाने के लिए क्रेडिट कार्ड से यूपीआई को लिंक करने की योजना बनाई गई.

क्रेडिट कार्ड-यूपीआई लिंक करने से क्या होगा?

यूपीआई एप अभी तक सिर्फ बैंक खाते और डेबिट कार्ड से लिंक होता था. इसका मतलब ये है कि आपके अकाउंट में यदि पैसा होगा तो आप यूपीआई के जरिये पेमेंट कर पाएंगे.

क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से लिंक करने पर आपके खाते में पैसा होना जरूरी नहीं है. आप सिर्फ क्रेडिट कार्ड की लिमिट के अनुसार यूपीआई पेमेंट कर सकेंगे. क्रेडिट कार्ड का पेमेंट आपको बाद में करना होगा.

इसका सीधा सा मतलब है कि यदि आपके पास पैसे नहीं है तब भी आप यूपीआई के जरिये भुगतान कर पाएंगे. इसके लिए बस आपके पास क्रेडिट कार्ड होना जरूरी होगा. उसकी लिमिट के अनुसार आप भुगतान कर सकते हैं.

क्रेडिट कार्ड-यूपीआई लिंक करने के फायदे

क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से लिंक करने का फायदा (Credit Card UPI Link Benefits) आपको और सरकार को दोनों को ही होगा.

  • एक आम व्यक्ति के नजरिए से देखें तो आम भारतीय नागरिक को इसका ये फायदा होगा कि वो बैंक में पैसा न होने पर भी क्रेडिट कार्ड लिंक करके यूपीआई से पेमेंट कर सकेगा.
  • किसी व्यक्ति को कुछ खरीदना है और पैसे नहीं है तो वो क्रेडिट कार्ड स्वाइप किए बिना ही यूपीआई के जरिये इसका पेमेंट कर पाएगा. इसमें स्वाइप करने का, और क्रेडिट कार्ड को केरी करने का झंझट दूर हो जाएगा.
  • ये ‘बाय नाउ पे लेटर’ की तरह रहेगा. जिसमें आप किसी भी पेमेंट का भुगतान तो अभी कर पाएंगे लेकिन उसके लिए आप जो क्रेडिट कार्ड को पेमेंट करेंगे वो बाद में करना होगा.

क्रेडिट कार्ड-यूपीआई लिंक करने से सरकार को क्या फायदा होगा?

ऊपरी तौर से देखने पर इसका फायदा आम लोगों को मिलता नजर आ रहा है लेकिन इसके पीछे की कहानी कुछ और है. इसका सबसे ज्यादा फायदा सरकार को होने वाला है.

  • इस सुविधा के जरिये लोन देने वाली जो वित्तीय संस्थाएं हैं उन्हें अभी तक यूपीआई एप के साथ काम करना पड़ रहा था लेकिन अब ये वित्तीय संस्थाएं सीधे अपने कस्टमर को क्रेडिट कार्ड ऑफर कर सकते हैं और उन्हें लिमिट दे सकते हैं.
  • इसमें यूपीआई पे या किसी अन्य एप के जरिये क्रेडिट देना का काम खत्म हो जाएगा. इससे लोन देने वाली संस्थाओं को यूपीआई पेमेंट एप पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं होगी. वे सीधे अपने कस्टमर को हैंडल कर पाएंगे.
  • इसका दूसरा फायदा ये होगा कि पेमेंट करने वाली सरकारी संस्था NPCI को इसकी वजह से क्रेडिट कार्ड के पेमेंट पर चार्ज मिलेगा जो मर्चेन्ट द्वारा दिया जाएगा. इससे सरकार की कमाई होगी.

क्रेडिट कार्ड-यूपीआई लिंक करने से नुकसान

क्रेडिट कार्ड और यूपीआई के लिंक होने से अच्छे संकेत तो मिल रहे हैं लेकिन इसका खामियाजा या नुकसान क्रेडिट कार्ड यूजर को ही भुगतने को मिल सकते हैं.

जब भी आप क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से लिंक करके पेमेंट करेंगे तो हो सकता है इस पर आपको एक्सट्रा चार्ज देने पड़े. क्योंकि मर्चेन्ट तो आपके चार्ज को चुकाएगा नहीं. वो तो आपसे ही लेगा.

दूसरा नुकसान ये है कि इसकी वजह से क्रेडिट कार्ड की डिमांड बढ़ेगी और ज्यादा से ज्यादा लोग क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने लगेंगे. जो एक आम व्यक्ति के नजरिए से ज्यादा अच्छा नहीं है.

क्रेडिट कार्ड की वजह से आप कर्ज के जंजाल में फंस सकते हैं. इसमें यदि आप समय पर पेमेंट नहीं करते हैं तो काफी भारी पेनल्टी वसूल की जाती है जिसकी वजह से कई लोग डिफ़ाल्ट हो जाते हैं. इससे आपका सिबिल स्कोर भी खराब हो जाता है.

क्रेडिट कार्ड लिंक वाले यूपीआई एप

कुछ एप पर ये सुविधा पहले से दी जा रही है. अगर आप इसे इस्तेमाल करना चाहते हैं तो पेटीएम या मोबिक्विक का इस्तेमाल कर सकते हैं.

इन एप में आप क्रेडिट कार्ड से बेलेन्स अपने यूपीआई वालेट में ट्रांसफर कर सकते हैं. जिसके बाद आप इसे यूपीआई एप की तरह ही इस्तेमाल कर सकते हैं.

अब सरकार इसमें थोड़ा सा बदलाव करके डाइरैक्ट आपके यूपीआई एप को क्रेडिट कार्ड से जोड़ेगी. जिसमें वालेट में पैसा ट्रांसफर नहीं करना पड़ेगा.

यह भी पढ़ें :

क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने वालों को मिलते हैं ये 5 फायदे

Expert Review: क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो भूलकर ना करें ये गलतियां

Credit Card : क्रेडिट कार्ड क्या होता है, क्रेडिट कार्ड के फायदे

error: Content is protected !!