Expert Review: क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो भूलकर ना करें ये गलतियां

क्रेडिट कार्ड पेमेंट के लिए एक बेहतर ऑप्शन है. हालांकि इसका यूज करना आपके विवेक पर निर्भर करता है क्योंकि थोड़ी सी भी असावधानी बड़ा आर्थिक नुकसान करवा सकती है.

आज के समय में क्रेडिट कार्ड एक अनिवार्य सुविधा बन गई है. एक समय था जब क्रेडिट कार्ड को लेकर लोगों के मन में कई तरह के भय थे लेकिन लगातार उपयोग और डिजिटल पेमेंट के बढ़ते चलन ने क्रेडिट कार्ड को एक अनिवार्य सुविधा बना दिया है. हालांकि क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल ठीक से नहीं किया तो यह आज भी आपके लिए एक मुसीबत बन सकता है.

क्रेडिट कार्ड पेमेंट (Credit Card Payment) लिए एक बेहतर ऑप्शन है. हालांकि इसका यूज करना आपके विवेक पर निर्भर करता है क्योंकि थोड़ी सी भी असावधानी बड़ा आर्थिक नुकसान करवा सकती है. क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन और रिटेल स्‍टोर शॉपिंग में कहीं भी काम आता है.

देखा जाए तो क्रेडिट कार्ड एक पर्सनल लोन की तरह है. पहले इस्तेमाल करो और बाद में चुका दो. यदि पैसा चुकाने में समय चाहिए तो ब्याज भरो. बहुत लेट हुए तो इसका सीधा असर क्रेडिट स्‍कोर पर पड़ता है.

क्रेडिट स्‍कोर के निगेटिव प्‍वाइंट होमलोन, कार लोन या किसी पर्सनल लोन में होते हैं.

कैसे होना चाहिए क्रेडिट कार्ड का उपयोग (Uses of credit card) 

क्रेडिट कार्ड कार्ड (Types of credit card) कई प्रकार के होते हैं. ऑटो/फ्यूल क्रेडिट कार्ड, बिजनेस क्रेडिट कार्ड, को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड, महिला क्रेडिट कार्ड, एंटरटेनमेंट कार्ड, प्रीमियम/ सिग्नेचर कार्ड और ट्रैवल क्रेडिट कार्ड.

क्रेडिट कार्ड का उपयोग बहुत ही सोच-समझकर करना चाहिए. क्रेडिट कार्ड लेते समय जरूर सोचें कि आपको इसकी जरूरत है या नहीं. और यदि है तो कौन से क्रेडिट कार्ड की. क्रेडिट कार्ड का यूज बहुत ही सावधानी से होना चाहिए.  पिन/पासवर्ड सेफ रखना और किसी से शेयर ना करना ये ऐसी बातें हैं जो इस समय सभी को पता है.

ऐसे ही एसएमएस अपडेट एक्टिवेट कराना और पब्लिक Wi-Fi में कार्ड का इस्तेमाल ना करने जैसी बातें बैंक भी आपको बताता है.

क्रेडिट कार्ड के फ्रॉड से बचें (Credit card fraud) 

क्रेडिट कार्ड होल्डर के लिए सबसे जरूरी होता है किसी भी तरह के फ्रॉड से बचना. अपने अकाउंट बैलेंस को चेक करते रहें. महंगे इंटरेस्ट चार्ज से बचें और समय पर पेमेंट करें. क्रेडिट कार्ड से भूलकर भी लोन ना लें क्योंकि यह बहुत महंगा पड़ेगा.

यदि आप क्रेडिट कार्ड की ड्यू डेट पर पेमेंट नहीं करते हैं तो अकाउंट बंद होने तक भुगतान की राशि बढ़ती रहेगी. ऐसे में आपको जरा सी लापरवाही भारी मुसीबत में डाल सकती है.

यदि आपके साथ कोई फ्रॉड या धोखाधड़ी हुई तो कंप्लेंट जरूर कराएं. क्रेडिट कार्ड के बकाया पर ईएमआई के ऑफर को समझें और चार्ज पर ध्यान दें. ईएमआई के लिए ब्याज पर जरूर ध्यान दें. ये कुछ ऐसी बातें हैं जिन्हें आपको हमेशा समझना होगा.

क्रेडिट स्कोर को समझें (What is Credit card score) 

क्रेडिट कार्ड का बिल समय पर भरें. इससे आपका क्रेडिट स्कोर सुधारता है. यही नहीं लोन लिया है तो ईएमआई वक्त पर चुकाएं. दरअसल, यदि आप 6 महीने तक वक्त पर कर्ज चुकाते हैं तो आपका क्रेडिट कार्ड स्कोर सुधेरगा.

ध्यान रखें कभी भी अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट का पूरा इस्तेमाल न करें और ना ही क्रेडिट कार्ड से ज्यादा लोन लें. कोशिश यह भी करें कि बहुत सारे लोन के लिए अप्लाय ना करें. होम, ऑटो जैसे सिक्योर्ड लोन को प्रायरिटी पर रखें. अपने हर तरह के लोन का रिव्यू करते रहें.

कोशिश करें कि पर्सनल लोन ना ही लें. और क्रेडिट कार्ड अकाउंट भी बंद ना करें. क्रेडिट कार्ड एक सुविधा है और इसका ठीक से इस्तेमाल ही आपको आर्थिक नुकसान से बचा सकता है. सावधान रहें और अलर्ट रहें.

यह भी पढ़ें 

कहीं आप से क्रेडिट कार्ड का ज्यादा पेमेंट तो नहीं वसूल रहा बैंक?

Mutual Fund में निवेश को कितना सेफ मानते हैं शेयर मार्केट के एक्सपर्ट?

विभू गोयल मुंबई में रहते हैं और certified financial planner हैं और शेयर मार्केट के एक्सपर्ट हैं. वे पिछले 15 सालों से निवेशकों को सलाह दे रहे हैं. 

error: Content is protected !!