Journalism Career: पत्रकार बनने के लिए क्या करें? कैसे मिलेगी मास कम्युनिकेशन की डिग्री

आप अपना करियर किसी क्रिएटिव फील्ड (Career in Creative Field)में बनाना चाहते हैं तो पत्रकारिता आपके लिए एक अच्छा कोर्स है जिसमें आप अपनी रूचि के अनुसार अपने करियर को नए आयाम दे सकते हैं. यह एक ऐसा करियर है जो आपके गुणों और काबिलियत को और भी निखार देता है. आजकल बहुत से लोग इस कोर्स को करके लीग से हटकर करियर बना रहे हैं.

0 500

पत्रकारिता क्या है (Journalism Course)? पत्रकारिता कैसे करियर कैसे बनाए (Career in Journalism)? आप अपना करियर किसी क्रिएटिव फील्ड (Career in Creative Field)में बनाना चाहते हैं तो पत्रकारिता आपके लिए एक अच्छा कोर्स है जिसमें आप अपनी रूचि के अनुसार अपने करियर को नए आयाम दे सकते हैं. यह एक ऐसा करियर है जो आपके गुणों और काबिलियत को और भी निखार देता है. आजकल बहुत से लोग इस कोर्स को करके लीग से हटकर करियर बना रहे हैं.

पत्रकारिता क्या है (Journalism course after 12th)

आपने पत्रकार शब्द तो सुना ही होगा. पत्रकार वो जो एक ख़बरों को चुन-चुन कर लाते हैं और उन्हें हमारे सामने पेश करते हैं. पहले जमाना हुआ करता था न्यूज पेपर का जिसमें रिपोर्टर्स और एडिटर होते थे लेकिन वक्त के साथ-साथ पत्रकारिता का पूरा परिदृष्य बदल गया है. अब लोग न्यूपपेपर से ज़्यादा ऑनलाइन ख़बरों को पढ़ना पसंद करते हैं.

दुनिया में जो ऑनलाइन क्रांति आई है उससे जर्नलिज्म यानि पत्रकारिता पूरी तरह से बदल गई है लेकिन इसके बेसिक्स अभी भी वही हैं. 12वीं के बाद आप भी पत्रकारिता में करियर बना सकते हैं. आप चाहे तो 12वीं के बाद सीधे पत्रकारिता में ग्रेजुएशन कर सकते हैं. तीन साल के इस ग्रेजुएशन के बाद आपकी नौकरी आसानी से किसी मीडिया हाउस में लग जाती है.

पत्रकार बनने के लिए क्या जरूरी है (Journalism Course Detail)

पत्रकार बनने के लिए सिर्फ आपकी 3 साल की डिग्री होना जरूरी नही है और ना ही आपकी ढेर सारी पढ़ाई. पत्रकारिता में जो सबसे ज़्यादा जरूरी है वो है किसी ख़बर की पहचान. आप किसी भी घटना को किस तरह सभी के सामने पेश करते हैं और सामने वाला उससे कितना कनेक्ट हो पाता है पत्रकारिता में यही सबसे ज़्यादा जरूरी है. इसके अलावा आपकी सच्चाई और ईमानदारी दो ऐसी चीज़ें हैं जिनसे आपकी पहचान इस इंडस्ट्री और लोगों के बीच बनती है.

पत्रकारिता में कैसे लें एडमिशन (Admission in journalism)

अगर आप पत्रकारिता करना चाहते हैं तो इसके लिए पत्रकारिता में डिप्लोमा, पत्रकारिता सर्टिफिकेट और पत्रकारिता स्नातक (Certificate, Diploma, Degree in journalism and mass communication) प्रोग्राम चलाए जा रहे हैं. आप इनमें से किसी एक को चुन सकते हैं. वैसे अगर आप चाहते हैं कि 12वी के बाद बिना देर किए इसी में करियर बनाए तो पत्रकारिता में ग्रेजुएशन कर लें. इसके लिए अलग-अलग यूनिवर्सिटी के काॅलेज की इंट्रेंस एग्जाम (Entrance exam for journalism) होती है जिसे आपको क्लियर करना होता है. इसके बाद आप यहां से तीस साल का ग्रेजुएशन कर सकते हैं. 12वी के बाद आप जर्नलिज्म के लिए इन कोर्स को कर सकते हैं

बीए इन जर्नलिज्म (BA in Journalism)
बीए इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन (BA in Journalism and mass communication)
बैचलर इन जर्नलिज्म (Bachelor in Journalism)
बैचलर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन (Bachelor in journalism and mass communication)
बीएससी इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन (BSc in Journalism and mass communication)
बीए इन मीडिया एंड कम्युनिकेशन (BA in Media and communication)
बीए इन मीडिया एंड कम्युनिकेशन मैनेजमेंट (BA in media and communication management)
बीए इन मीडिया एंड कम्युनिकेशन डिजाइन (BA in media and communication design)
बीए इन मीडिया स्टडीज (BA in media studies)
बैचलर ऑफ मास मीडिया (Bachelor of mass media)
बीबीए इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म (BBA in mass communication and journalism)

पत्रकारिता में करियर (Job profile in journalism)

पत्रकारिता पाठ्यक्रम के दौरान आपको लेखन, संपादन, कार्टूनिस्ट, फोटो जर्नलिज्म, प्रूफ रीडिंग, फीचर राइटिंग, लीडर राइटिंग, आलोचक, रिर्पोटिंग, आदि के कामों के बारे में बताया और सिखाया जाता है. इस फील्ड में अगर आप ये चीज़ें अच्छी तरह सीखते हैं तो आप किसी न्यूज एजेंसी में, न्यूज वेबसाइट में, मीडिया प्रोडक्शन हाउस में, न्यूजपेपर में, सरकारी और प्राइवेट न्यूज चैनल में, फिल्म मेकिंग और एडवरटाइजिंग में काम कर सकते हैं.

पत्रकारिता में वेतन (Journalist salary in India)

भारत में पत्रकारिता में कमाने के बारे में कहें तो यहां खूब कमाया जा सकता है लेकिन आपके पास कला और अनुभव होना चाहिए. आपने देखा ही होगा कि न्यूज चैनल पर आने वाले एंकर कितना कमाते हैं. आप यहां पूरे साल में 2 लाख से 5 लाख तक कमा सकते हैं. शुरूआती तौर पर आप 10 से 20 हजार रूपए प्रतिमाह कमा सकते हैं. इसके बाद जैसे-जैसे आपका अनुभव बढ़ता जाएगा आपको उतना ही ज़्यादा वेतन मिलता जाएगा.

जर्नलिज्म में पैसे की कमी नहीं है लेकिन पैसे के लालच में आप इस फील्ड में न आए. आप अगर मानसिक रूप से मजबूत हैं, चुनौतियों से लड़ने को तैयार रहते हैं, बेहतर बातचीत करना जानते हैं, आपको कंप्यूटर का ज्ञान है और आप ख़बरों की पड़ताल करना जानते हैं तो ही आप इस फील्ड में आए. इस फील्ड में करियर बनाने के लिए आपको धैर्य और परिश्रम की आवश्यकता होती है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!