PAN Card for NRI: एनआरआई ऑनलाइन पैन कार्ड कैसे बनाएं?

एनआरआई इंडियंस (NRI Indians) के लिए भारत सरकार की ओर से कई तरह की सुविधाओं की शुरुआत की गई है. इसमें वोटिंग से लेकर कई तरह के दस्तावेजों जैसे, पैन कार्ड, PAN CARD, AADHAR CRAD, आधार कार्ड को अब एनआरआई भी आसानी से हासिल कर सकते हैं.

ऐसे लोग जो मूलरूप से भारतीय हैं और किसी काम के सिलसिले में विदेश में निवास कर रहें हैं ऐसे लोगों को एनआरआई Non Resident Indian (NRI) कहा जाता है.

बीते एक दशक में प्रवासी भारतीय यानी की एनआरआई इंडियंस (NRI Indians) के लिए भारत सरकार की ओर से कई तरह की सुविधाओं की शुरुआत की गई है. इसमें वोटिंग से लेकर कई तरह के दस्तावेजों जैसे, पैन कार्ड, PAN CARD, AADHAR CRAD, आधार कार्ड को अब एनआरआई भी आसानी से हासिल कर सकते हैं.

इसके अलावा बहुत से अप्रवासी भारतीय जिनके पास विदेश का पासपोर्ट (foreign passport) है, वह अब पैन कार्ड भी बनवा सकते हैं. बता दें कि पैन कार्ड उन लोगों के लिए भी जरूरी है, जो भारत में रहकर टैक्स जमा कर रहे हैं.

इसके अलावा भी हर भारतीय के लिए पैन कार्ड अनिवार्य (PAN CARD Mandatory) हो गया हैं. बिना पैन कार्ड वे न तो टैक्स जमा कर सकते हैं और न ही रिटर्न फाइल करने के लिए योग्यता रखते हैं.

बहरहाल, यदि आप एनआरआई हैं तो आपको (How NRIs can apply for PAN card in India) पैन कार्ड बनवाने के लिए कुछ जरूरी बातों की जानकारी होनी चाहिए. जैसे पैन कार्ड बनवाने का फायदा क्या है और किस तरह से पैन कार्ड बन सकता है.

एनआरई के लिए पैन कार्ड बनवाने के लिए जरूरी दस्तावेज- (documents required for NRI PAN card)

1-दो पासपोर्ट साइज फोटो
2-पासपोर्ट की फोटो कॉपी
3-ओवरसीज एडरेस प्रूफ
4-ओवरसीज बैंक स्टेटमेंट

सबसे पहले एनएसडीएल NSDL (https://www.onlineservices.nsdl.com) की वेबसाइट पर विजिट करें.

1-वेबसाइट पर फार्म 49-A भरें.
2-एडरेस और आईडी प्रूफ दस्तावेजों के साथ फार्म को सबमिट करें.
3-फीस के रूप में कुल 989 रुपये जमा करें.
4-आवेदन करने के बाद इसी वेबसाइट पर विजिट कर पैन कार्ड का स्टेटस भी देख सकते हैं.

इसके अलावा आप ऑफलाइन भी पेनकार्ड (Offline pan card) बनवा सकते हैं. आप जिला स्तरीय कार्यालय पर पहुंचकर फार्म हासिल कर सकते हैं. ऑफलाइन फार्म भरने के बाद उसे वहीं पर जमा भी कर दें. औपचारिकताएं पूरी होने के बाद आपका पैन कार्ड पंद्रह दिन के अंदर घर के पते पर पहुंच जाएगा.

आपको बता दें कि जो भी एनआरआई हैं, उनके लिए जरूरी है कि वह अपना पैन कार्ड बनवा लें. क्योंकि पैन कार्ड की टैक्स जमा करने में जरूरत तो पड़ती ही है, तमाम तरह की बुनिवादी सुविधाएं हासिल करने के लिए भी पैन कार्ड दिखाना पड़ता है.

बैंक में अकाउंट खोलने और पचास हजार से ज्यादा की रकम जमा करने से लेकर एयरलाइंस में टिकट बुक करने तक में पैन कार्ड की जरूरत पड़ती है. इसलिए जरूरी है कि जो लोग मूल रूप से भारतीय हैं, और किसी वजह से विदेशों में रह रहे हैं उन्हें समय से पैन कार्ड बनवा लें.

पात्रता-
नए नियमों के अनुसार हर भारतीय जो भारत में रखते हैं उनके लिए पैन कार्ड जरुरी कर दिया गया हैं. (Benefits and Importance of PAN CARD) पहले पैन कार्ड उन लोगों के लिए जरूरी था जो टैक्स जमा कर रहे हैं. रिटर्न फाइल, टीडीएस और रिफंड हासिल करने के लिए भी पैन कार्ड जरूरी है. इसके अलावा उन लोगों के लिए भी पैन कार्ड जरूरी हैं, जो ट्रस्ट, एसोसिएशन, फर्म और कंपनी चला रहे हों. साथ ही वे किसी भी तरह का व्यापार कर रहे हों तो उन्हें पेन कार्ड रखना पड़ेगा.

पैन कार्ड की अनिवार्यता- (Uses of PAN Card)
बैंक में नया खाता खोलने के लिए पैन कार्ड जरूरी है.
यदि आप 50 हजार रुपए से ज्यादा का लेनदेन करते हैं तो आपको बैंक में पैन कार्ड दिखाना होगा.
यदि आपने बीमा की कोई नई पॉलिसी ली है तो फिर आपको पैन कार्ड की जरूरत पड़ेगी. (Why do we need PAN card in India?)
मान लीजिए कोई पॉलिसी पूरी हो गई है और आपको पैसे की जरूरत है तो भी रकम हासिल करने के लिए आपको पैन कार्ड दिखाना होगा.
यही नहीं यदि आप यात्रा कर रहे हैं तो ट्रेनों में भी आईडीपू्रफ के तौर पर पैन कार्ड दिखाया जा सकता है.
रिटर्न फाइल, टीडीएस और रिफंड हासिल करने के लिए.
किसी भी बैंक से लोन, गाड़ी फाइनेंस कराने आदि लेने के लिए.

इसी तरह एयरलाइंस में भी पैन नंबर मांगे जा रहे हैं. जो लोग टिकट बुकिंग कराते हैं पहले तो उनसे आधार नंबर की मांग की जाती है. अगर उनके पास आधार कार्ड नहीं है तो पैन नंबर देने को कहा जाता है.
कोई भी जॉब करने के लिए आजकल पेनकार्ड अनिवार्य कर दिया गया हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!