एसपीजी कमांडो से लेकर हाईटेक कार तक, ऐसे होती है पीएम की सुरक्षा

पीएम के काफिले का किसी बीच सड़क पर 15 मिनट तक रुकना बेहद खतरनाक माना जाता है. क्योंकि यह एक संवेदनशील मामला है. इसे बहुत ही बड़ी चूक बताया जा रहा है.

पंजाब में रैली को संबोधित करने गए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक देखी गई और इसकी वजह से पीएम और पीएम के काफिले को 15 मिनट तक फ्लाईओवर पर रुकना पड़ा. पीएम के काफिले को वहीं रुककर इंतज़ार करना पड़ा और बाद में उस चुनावी सभा को कैंसल कर दिया गया जहां पीएम जाने वाले थे.

पीएम के काफिले का किसी बीच सड़क पर 15 मिनट तक रुकना बेहद खतरनाक माना जाता है. क्योंकि यह एक संवेदनशील मामला है. इसे बहुत ही बड़ी चूक बताया जा रहा है. वैसे तो वहां पीएम की सुरक्षा के लिए कमांडो, पुलिस और अन्य बल तैनात था. लेकिन क्या आप जानते हैं कि पीएम की सुरक्षा के लिए क्या-क्या इंतजाम किए जाते हैं.

एसपीजी कमांडो

देश के प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए एसपीजी कमांडो नियुक्त किए जाते हैं. एसपीजी का पूरा नाम ‘स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप’ है. इस ग्रुप को सिर्फ प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए बनाया जाता है. ये ज़ेड प्लस सिक्योरिटी से भी अव्वल दर्जे की सिक्योरिटी होती है.

एसपीजी कमांडो अपनी जान पर खेलकर पीएम की रक्षा करते हैं. जब पीएम बाहर जाते है तो वे उनके पहुँचने से पहले उस जगह की अच्छे से पड़ताल करते हैं. उनके साथ रहकर उनकी सुरक्षा भी करते हैं. एसपीजी कमांडो हाई टेक डिवाइस और हथियारों से लैस होते हैं. पीएम की सुरक्षा में कोई भी कमी उन्हें दिखती है तो वे तुरंत इस पर एक्शन लेते हैं.

अन्य बल

पीएम की सुरक्षा में हमेशा एसपीजी कमांडो तो होते ही हैं लेकिन जब पीएम किसी दौरे पर जाते हैं तो अन्य बल की जरूरत भी पड़ती है. इसमें उस राज्य की पुलिस बल की मदद ली जाती है. पुलिस बल की मदद से वहाँ के सुरक्षा इंतजाम को पुख्ता किया जाता है तथा अन्य सिक्योरिटी एसपीजी कमांडो ही देखते हैं.

प्रधानमंत्री की कार

प्रधानमंत्री जिस कार में सफर करते हैं वो कार भी कोई आम कार नहीं होती है. वो हाइटेक सिक्योरिटी फीचर वाली कार होती है जो बंदूक के हमले से लेकर बम के हमले तक को झेल सकती है. ये ऐसी कार होती है जिस पर एके 47 की गोलियों की बौछार भी कोई असर नहीं करती है.

वर्तमान में पीएम मोदी को Mercedes Maybach S650 Guard Car दी गई है. जिसकी कीमत 12 करोड़ रुपये है. रास्ते में जाते हुए यदि इस पर हमला हो जाता है तो इस पर कोई असर नहीं होता. कोई गोली यदि इसके टायर को लगती है तो ये कार फ्लैट टायर के साथ भी चल सकती है. वहीं यदि पेट्रोल टैंक पर कोई गोली से छेद करने के कोशिश करता है तो वो छेद अपने आप सील हो जाता है. इस कार को काफी ध्यान से पीएम के लिए तैयार किया गया है.

स्पेशल ब्रीफ़केस

पीएम की सुरक्षा में लगे एसपीजी कमांडो में से किसी एक कमांडो के हाथ में आपने ब्रीफकेस देखा होगा. इसे देखकर कई लोगों को लगता है कि इसमें या तो कोई जरूरी दस्तावेज़ होंगे या फिर पीएम का निजी सामान होगा. लेकिन ऐसा नहीं होता है.

ये स्पेशल ब्रीफकेस होता है जिसमें पोर्टेबल बुलेटप्रूफ शील्ड होती है. पीएम जब किसी खुली जगह पर होते हैं और कोई उनके काफिले पर गोली से हमला कर दे तो ऐसी स्थिति में इस ब्रीफकेस को जल्दी से खोलकर बुलेटप्रूफ शील्ड बनाकर खड़ा कर दिया जाता है. ताकि गोलियों से बचा जा सके.

पीएम जब भी किसी दौरे पर जाते हैं तो उनकी सुरक्षा की ज़िम्मेदारी एसपीजी के अलावा उस राज्य की भी होती है जहां वे गए हैं. इसके अलावा पीएम मोदी का काफिला गृह मंत्रालय तथा खुफिया विभाग के संपर्क में भी रहता है. किसी भी अनहोनी की खबर लगते ही दौरा कैंसल कर दिया जाता है.

यह भी पढ़ें :

2022 Elections in India: मोदी सरकार की बढ़ेंगी चुनौतियां और संकट में होगी कांग्रेस

PM Narendra Modi : पीएम नरेंद्र मोदी जीवनी, शिक्षा और राजनैतिक कैरियर

पीएम मोदी बोले -परमाणु ऊर्जा अब भी भारत के लिए चुनौती है, पढ़िए आज की बड़ी ख़बरें

error: Content is protected !!