Side effects of medicine: मन से ना लें सिरदर्द में दवाइयां, हो सकता है खतरनाक..!

सिरदर्द एक आम शिकायत है और हर व्यक्ति को कभी न कभी यह शिकायत होती है. इस दर्द की गंभीरता भी भिन्न होती है. कई लोग तो थोड़े से दर्द से डर कर डॉक्टर के पास भागते हैं, तो कुछ इसे गंभीरता से न लेकर कोई सिरदर्द की दवाई ले लेते हैं पर सिरदर्द की दवाई लेने से पूर्व उसका कारण जानना बहुत आवश्यक है.

आमतौर पर छोटी-मोटी बीमारियां घर के किसी ना किसी सदस्य को लगी रहती है. हाथ-पैरों में दर्द होना, (Headache problem) थकान सी लगना, कान का दर्द या आंखों का दर्द या इसके अतिरिक्त सिरदर्द वगैरह बीमारियां होना आम बात है.

जहां तक सिरदर्द की बात (Types of Headaches) करें तो यह एक आम समस्या के तौर पर देखा जाता है. (Headache reasons and treatment) कई बार नींद ठीक से ना होना, देर तक टीवी देखना या मोबाइल देखना, अत्यधिक तनाव, धूप में ज्यादा देर रह लेना या फिर गैस या एसिडीटी जैसी समस्या के चलते सिरदर्द एक आम बात है.

अक्सर सिरदर्द के उपाय के तौर पर बाम, आयोडेक्स जैसी चीजें ज्यादा इस्तेमाल में आती हैं. खासतौर पर महिलाएं सिरदर्द से परेशान रहती हैं और माथा दर्द होने पर बाम, या विक्स का उपयोग करती है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि (when to worry about a headache) लगातार सिरदर्द होना मस्तिष्क संबंधी बड़ी बीमारी का संकेत भी हो सकता है. यही नहीं यदि आप सिरदर्द की दवा अपने मन से ले रहे हैं तो यह और भी घातक हो सकता है.

सिरदर्द एक आम शिकायत है और हर व्यक्ति को कभी न कभी यह शिकायत होती है. इस दर्द की गंभीरता भी भिन्न होती है. कई लोग तो थोड़े से दर्द से डर कर डॉक्टर के पास भागते हैं, तो कुछ इसे गंभीरता से न लेकर कोई सिरदर्द की दवाई ले लेते हैं पर सिरदर्द की दवाई लेने से पूर्व उसका कारण जानना बहुत आवश्यक है.

सिरदर्द के कई कारण हो सकते हैं. कभी बहुत अधिक सो लेने से, तो कभी नींद न पूरी होने के कारण सिरदर्द की शिकायत होती हैं. दांत में दर्द होने से, तनाव के कारण, अधिक व्यायाम कर लेने से भी सिर दर्द हो जाता है.

कभी अधिक समय तक भूखे रहने के कारण भी सिरदर्द हो जाता है. हृदय रोगों व उच्च रक्तचाप के रोग की कई दवाइयों के कारण भी सिरदर्द होता है. सिरदर्द होने पर कारण जाने बिना ही लोग दवा ले लेते हैं जो सही नहीं है.

अगर आपको अक्सर सिरदर्द होता है तो सबसे पहले अपनी आंखों का चेकअप कराएं. आंखें कमजोर होने पर भी सिरदर्द हो सकता हैं. चश्मे का नंबर अधिक हो जाने पर भी यह दर्द हो सकता है, इसलिए आंखों का चेकअप बहुत जरूरी है.

इसके अतिरिक्त आजकल अधिक होने वाला दर्द है (Migraine and headache difference) माइग्रेन और तनाव के फलस्वरूप सिरदर्द होना. (migraine headache symptoms) माइग्रेन वंशानुगत भी हो सकता है और जरूरी नहीं कि वयस्क व्यक्ति को ही हो. यह बचपन में भी हो सकता है.

माइग्रेन सिर के एक भाग में अधिक होता है. यह दर्द अधिकतर महिलाओं को देखने में मिलता है. माइग्रेन में व्यक्ति को चमकदार रोशनियां दिखाई पड़ती हैं और सिर में सुंई की नोक जैसा दर्द उठता है. माइग्रेन का एक लक्षण यह है कि इसमें उल्टी भी होती है. यह दर्द दो घंटे से लेकर तीन चार दिन तक हो सकता है. माइग्रेन होने पर डॉक्टर से सम्पर्क करें और माइग्रेन की दवाएं लें.

तनाव के फलस्वरूप होने वाले सिरदर्द में दवाई से अधिक फायदेमंद होता है जीवनशैली में परिवर्तन. अपनी आदतों और जीवनशैली में परिवर्तन लाकर तनाव दूर करने की कोशिश करें. इससे सिरदर्द की शिकायत खुद ब खुद खत्म हो जाएगी.

सिरदर्द का एक कारण खाद्य पदार्थ भी होते हैं और इन खाद्य पदार्थों को न लेने से सिरदर्द की शिकायत दूर हो जाती है. अगर आपको सिरदर्द की शिकायत हो रही है तो यह ध्यान दें कि आप क्या खाद्य पदार्थ खा रहे हैं.

अधिक नमक खाने से, आइसक्रीम, अल्कोहल, पीज्जा, चाइनीज फूड, हैम्बर्गर खाने या कॉफी अधिक पीने से भी सिरदर्द हो सकता है. इसलिए दवाइयां लेने से पूर्व इन खाद्य पदार्थों का सेवन बंद करें.

अगर आपको बिना इन कारणों के सिरदर्द की शिकायत होती है (headache treatment at home) तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें. सिरदर्द की बहुत सी दवाएं बाजार में उपलब्ध हैं परन्तु किसी भी दवा को लेने से पूर्व डॉक्टर की सलाह अवश्य लें क्योंकि लगातार होने वाला और बने रहने वाला सिर दर्द जानलेवा हो सकता है.

ध्यान रखें  बात केवल सिरदर्द की नहीं बल्कि किसी भी बीमारी में आनन-फानन में मेडिकल स्टोर्स से दवाइयां लेकर उपयोग में लाना खतरनाक हो सकता है. बेहतर होगा कि आप अपने डॉक्टर की सलाह के बिना कोई दवा ना लें. इस बात का ध्यान रखें कि बिना डॉक्टर की सलाह के दवा लेने के दुष्परिणाम कुछ समय बाद जरूर सामने आते हैं.

 

(नोट: यह लेख आपकी जानकारी बढ़ाने के लिए साझा किया गया है. किसी भी बीमारी के शिकार हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें.)

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!