Vastu tips for home: घर में वास्तु दोष के कारण, लक्षण और उपाय

आपने अक्सर सुना होगा कि तमाम सुविधाओं से लैस एक महंगे आलीशान मकान में भी व्यक्ति सुखी नहीं है. किसी न किसी तरह की परेशानी इंसान के साथ बनी रहती है. आए दिन कुछ अपशगुन होते ही रहते हैं. ऐसा घर में मौजूद वास्तु दोष (ghar ka vastu dosh) के कारण हो सकता है.

0 489

आपने अक्सर सुना होगा कि तमाम सुविधाओं से लैस एक महंगे आलीशान मकान में भी व्यक्ति सुखी नहीं है. किसी न किसी तरह की परेशानी इंसान के साथ बनी रहती है. आए दिन कुछ अपशगुन होते ही रहते हैं. ऐसा घर में मौजूद वास्तु दोष (ghar ka vastu dosh) के कारण हो सकता है. माने या ना माने लेकिन वास्तु दोष कहीं ना कहीं हमारे जीवन को प्रभावित अवश्य करता है.

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर (Vastu tips for home decoration)
यदि वास्तु के लिहाज से आपके घर मकान ऑफिस या किसी अन्य स्थान पर कुछ कमी है तो यकीनन वह आपके जीवन में होने वाली प्रगति और उन्नति में बाधक होगी. कुछ वास्तु दोष जो आप स्वयं ही देख सकते हैं या उनका निवारण कर सकते हैं ऐसे कुछ वास्तु दोष आज हम आपको बताने जा रहे हैं.

सम्बंधित लेख - पढ़िए

आपने अक्सर दीवारों पर पपड़ी निकलते या दरार देखी होगी. दीवारों पर दरार या पपड़ी का निकलना वास्तुदोष माना गया है. इसका निवारण तुरंत अपने स्तर से करें और आप देखेंगे कि उससे पहले उससे बात की आप की परिस्थितियों में काफी फर्क है. घर में नल का टपकना भी वास्तुदोष माना गया है इसे हमेशा बड़े बूढ़े भी अशुभ मानते रहे हैं. इसका वास्तु से संबंध है और इसे आपको तुरंत ठीक करवाना चाहिए. (vastu science for home)

वास्तु दोष और उपाय (vastu dosh tips)
कबाड़ में पड़े टूटे बर्तन वास्तु दोष और घर में दरिद्रता का कारण बनते हैं. टूटे-फूटे बर्तन टूटी-फूटी मूर्तियों के घर में होने से घर में अशांति और दरिद्रता घर कर जाती है. घर के कोनों में लंबे समय से सफाई न करने बने मकड़ी के जाले भी एक तरह के वास्तु दोष के सूचक हैं. इस तरह के मकड़ी के जाले हो जाने से घर में मुसीबतों के जंजाल का आना शुरू हो जाता है.

इसी तरह ध्यान दें कि घर में टूटे हुए कांच या खिड़की के टूटे हुए शीशे ज्यादा दिनों तक नहीं रहे. यह भी घर में गृह क्लेश और रिश्तो में बिगाड़ का कारण बनते हैं. अब यह तो थे वास्तु के दोष लेकिन इन दोषों को आप खुद ही दूर कर केजीवन मे कई मुश्किलों से बच सकते हैं.

वास्तु दोष के लक्षण vastu shastra ke upay
घर में मनीप्लांट का होना शुभ माना गया है. समृद्धि और लक्ष्मी का प्रतीक माना गया है, साथ ही सनातन धर्म के लिहाज से और वास्तु के नजरिये से घर में तुलसी के पौधे का अपना अलग महत्व है. यदि हो सके घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक का चिन्ह जरूर बनाएं. यह घर में सुख शांति समृद्धि और सकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश को बढ़ावा देता है. कुबेर यंत्र को अपने पूजन स्थल पर स्थान दें. इससे धन धान्य की प्राप्ति और वास्तु के कई दोषों का निवारण होता है.

तांबे का पिरामिड वास्तु दोष दूर करने का एक अन्य उपाय है. अगर आप तांबे का पिरामिड अपने पूजन सामग्री में रखते हैं कई तरह के वास्तु दोष को दूर कर घर में सुख समृद्धि लाने का काम करता है, साथ ही मछलियों से भरा एक मछली घर  भी आपके घर में कभी धन की कमी नहीं होने देगा.

पूजन में हमेशा ताजे फूल उपयोग करने के बाद कुछ ताजे फूल टेबल पर सजा दें. यह आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करने के साथ साथ घर में मौजूद किसी भी तरह के वास्तु दोष को दूर करने में आपकी मदद करेगा.

इसके अलावा घर आईना हमेशा के उत्तर दिशा में रखा होना चाहिए. सकारात्मक ऊर्जा का संचार करते हुए यह आपको कई तरह की बीमारियों से बचाता है. ध्यान रहे आईना कभी भी घर की दक्षिण दिशा में ना हो यह कई तरह की बीमारियों को आमंत्रित करता है.

(नोट: यह लेख आपकी जानकारी बढ़ाने के लिए साझा किया गया है. वास्तु संबंधी अधिक जानकारी के लिए किसी वास्तु विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें.)