Pride Month 2022 : जून में मनाया जाने वाला Pride Month क्या है? 

हर साल दुनिया के कई देशों में जून के महीने को Pride Month के रूप में Celebrate किया जाता है. लेकिन फिर भी ये कई लोगों की समझ से परे है. अभी भी लोग Pride Month क्या है? Pride Month क्यों मनाया जाता है?

जून का महीना शुरू होते ही Pride Month नाम का शब्द हमारे कानों में सुनाई देने लगता है. या फिर इन्टरनेट पर हम इसके बारे में कहीं न कहीं पर देख ही लेते हैं. लेकिन Pride Month Kya Hai? इसे समझ नहीं पाते. 

हर साल दुनिया के कई देशों में जून के महीने को Pride Month के रूप में Celebrate किया जाता है. लेकिन फिर भी ये कई लोगों की समझ से परे है. अभी भी लोग Pride Month क्या है? Pride Month क्यों मनाया जाता है? Pride Month june में ही क्यों मनाया जाता है? इस बारे में नहीं जानते हैं.

pride month in hindi

Pride Month क्या होता है?

Pride Month का संबंध LGBT Community से है. Pride Month हर वर्ष इन्हीं के द्वारा दुनिया के कई देशों में मनाया जाता है. जून का पूरा महीना उनके लिए गौरव का महीना होता है जिसे वे खुलकर सेलिब्रेट करते हैं. ये LGBT Community के लिए किसी बड़े त्योहार से कम नहीं है.

इस महीने में इनके द्वारा विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जिसमें एलजीबीटी समुदाय के लोग बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं. जो लोग इन्हें सपोर्ट करते हैं वो भी इसमें हिस्सा लेते हैं. इस महीने में इनके द्वारा परेड निकाली जाती है, कॉन्सर्ट कराये जाते हैं और अन्य गतिविधियां की जाती है. काफी सारे लोग इसे ऑनलाइन भी सेलिब्रेट करते हैं. 

जून में क्यों मनाया जाता है Pride Month?

साल में 12 महीने होते हैं लेकिन जून में ही LGBT समुदाय Pride Month क्यों मानता है? यही सवाल आपके दिमाग में आ रहा होगा. इसका सीधा संबंध एक ऐतिहासिक घटना से है जिसने LBGT Community की ज़िंदगी को बदलकर रख दिया था.

बात 28 जून 1969 की है जब अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित ग्रीनविच विलेज के स्टोनविल बार पर पुलिस ने छापा मारा था. ये एक गे बार था. वहाँ पर मौजूद लोगों को पुलिस ने अरेस्ट करने का प्रयास किया लेकिन समलैंगिक समुदाय द्वारा इसका जमकर विरोध किया गया और स्थिति पुलिस के कंट्रोल से बाहर चली गई.

Pride month celebration

ये घटना करीब 3 दिन तक चली. इस घटना के बाद से ही यूएसए में समलैंगिक आजादी के आंदोलन की शुरुआत हुई, इसके साथ ही अन्य देशों में समलैंगिक आजादी के लिए आंदोलन छिड़ना शुरू हो गए. 

इस आंदोलन के बाद से ही अमेरिका के राष्ट्रपति इन्हें अधिकार देने की ओर प्रेरित हुए. हालांकि अमेरिका के कई राष्ट्रपति इसका विरोध करते भी नजर आए हैं. लेकिन अब अमेरिका के साथ कई देशों ने इन्हें मान्य कर दिया है. भारत ने भी समलैंगिक सम्बन्धों को मान्यता दे दी है. 

Pride Month कैसे मनाया जाता है?

Pride Month हर वर्ष जून में मनाया जाता है. इस मौके पर LGBT समुदाय के लोग इकट्ठे होते हैं और खुलकर अपनी समानता और अधिकार व्यक्ति करते हैं. इस दौरान ये LGBT के झंडे लेकर परेड करते हैं, कॉन्सर्ट के माध्यम से लोगों को जागरूक करते हैं, और इनसे संबन्धित अन्य गतिविधि करते है. 

LGBT समुदाय को आज भी लोग अलग नजरों से देखते हैं और इन्हें समाज का हिस्सा मानने से इनकार करते हैं. हालांकि काफी सारे लोगों द्वारा इन्हें अपनाया भी गया है लेकिन अभी भी समाज में लोगों का दृष्टिकोण उतना नहीं बदला है जितना बदलना चाहिए. 

भले ही देशों की सरकार ने समलैंगिगता को वैध घोषित कर दिया हो लेकिन लोग इसे रूढ़िवादिता के कारण स्वीकार नहीं करना चाहते हैं. लोग इन्हें स्वीकार करें और समाज में सम्मान और स्थान दें इसी उद्देश्य के साथ LBT समुदाय हर माह जून के महीने में Pride Month मनाते आ रहे हैं. 

यह भी पढ़ें : 

Holi 2022: भारत में हर जगह अलग हैं होली के रंग, हर रंग में बरसता है प्यार

International women’s day: महिलाओं को सुरक्षित करने वाले खास अधिकार

Valentine’s Day 2022: इन 10 देशों में भी मनाया जाता है Valentine Day, अजीब है नियम

error: Content is protected !!