Aadhar Card Loan पर धोखा, ये हैं बचने के उपाय

आधार कार्ड हम सभी के पास होता है और हमारे साथ भी ऐसी धोखाधड़ी (Aadhar Card Fraud) हो सकती है. जिससे सतर्क रहने की हमें जरूरत है. आप कुछ बातों का ध्यान रखकर आधार कार्ड से होने वाली धोखाधड़ी से बच सकते हैं.

आधार कार्ड एक पहचान दस्तावेज़ ही नहीं है बल्कि इसकी मदद से कई सारे बैंकिंग कार्य भी किए जा सकते हैं. इसका उपयोग करके आपके बैंक अकाउंट से पैसे निकाले जा सकते हैं, आपके नाम पर लोन लिया जा सकता है. कई तरह की धोखाधड़ी आपके आधार कार्ड से की जा सकती है.

आधार कार्ड हम सभी के पास होता है और हमारे साथ भी ऐसी धोखाधड़ी (Aadhar Card Fraud) हो सकती है. जिससे सतर्क रहने की हमें जरूरत है. आप कुछ बातों का ध्यान रखकर आधार कार्ड से होने वाली धोखाधड़ी से बच सकते हैं.

आधार कार्ड से fraud कैसे होता है?

आधार कार्ड से fraud के कई तरह के मामले सामने आए हैं. इसमें कई लोगों को भारी नुकसान भी हुआ है.

आधार कार्ड के जरिये आपके बैंक अकाउंट से पैसे निकाले जा सकते हैं. अगर आपका किसी बैंक में अकाउंट है और वो आधार कार्ड से लिंक है तो आप कहीं से भी अपना आधार कार्ड दिखाकर पैसा निकाल सकते हैं. लेकिन काफी लोगों को इस बात की जानकारी नहीं होती है कि इससे किस तरह पैसा निकाला जाता है.

कई बार कुछ लोग आपका पैसा आपके आधार कार्ड नंबर और आपका अंगूठा लगवाकर निकाल लेते हैं. आपको कह देते हैं कि आपके अकाउंट में कोई पैसा आया ही नहीं है. कई सारे लोग इन बातों को मान भी लेते हैं.

कई मामलों में ऐसा भी हुआ है कि आपके आधार कार्ड के माध्यम से लोन एजेंट ने कई सारे लोन ले लिए. जिसकी जानकारी आधार होल्डर को थी ही नहीं. हाल ही में एक व्यक्ति के नाम पर 70 लाख का लोन ले लिया गया जिसकी खबर उसे थी ही नहीं.

इस तरह के काफी सारे फर्जीवाड़े आधार के साथ किए जा रहे हैं.

आधार के माध्यम से ठगी से कैसे बचें? (Aadhar Card Protection Tips) 

आधार का उपयोग हमें काफी सोच-समझकर करना चाहिए. आधार के उपयोग के दौरान यदि हम कुछ बातों का ध्यान रखें तो इन धोखाधड़ी से बच सकते हैं.

1) आपका आधार नंबर बहुत ही महत्वपूर्ण नंबर है. इसे किसी व्यक्ति को ऐसे ही न दें. जब कोई अधिकृत व्यक्ति आपसे जरूरी चीज के लिए आधार नंबर मांगे तभी आपको देना चाहिए. अपने आधार कार्ड को सोशल मीडिया पर भी शेयर करने से बचना चाहिए.

2) आधार के जरिये आने वाला ओटीपी भी काफी महत्वपूर्ण होता है. इसे भी किसी के साथ शेयर न करें. यदि आपने इसे किसी के साथ शेयर किया है तो वो आपकी आधार डिटेल्स के साथ बदलाव कर सकता है या फिर आपके बैंक से पैसा भी निकाल सकता है.

3) अपने आधार के साथ हमेशा अपने करंट मोबाइल नंबर को लिंक करके रखें. ताकि यदि कोई व्यक्ति आपके आधार का उपयोग कर रहा है तो उसे ओटीपी वेरिफिकेशन के लिए आपके नंबर की जरूरत पड़े. ऐसे में आपको भनक लग जाएगी कि कोई व्यक्ति आपका आधार उपयोग कर रहा है.
4) आधार की वेबसाइट पर जाकर आपको अपनी आधार हिस्ट्री को जरूर चेक करना चाहिए. इससे आपको जानकारी मिलती है कि आपका आधार कहाँ पर उपयोग किया गया है.

5) आप अपने आधार को जरूरत न पड़ने पर लॉक भी कर सकते हैं. इसकी सुविधा आधार वेबसाइट पर दी गई है.

आधार एक संवेदनशील दस्तावेज़ है. इसलिए किसी भी व्यक्ति को ऐसे ही न दें. आमतौर पर लोग कहीं भी इसकी फोटोकॉपी लगा देते हैं. जहां जरूरी हो वहीं इसका इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़ें :

Aadhar Card lost: नया आधार कार्ड कैसे बनाएं?

मृत्यु के बाद आधार कार्ड और पैन कार्ड का क्या करें?

Aadhar Card Center : नया आधार कार्ड सेंटर कैसे खोलें?

error: Content is protected !!