मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनवाएँ, Marriage Certificate के जरूरी Documents

शादी करने के बाद विवाह प्रमाण पत्र यानी Marriage Certificate बनवाना जरूरी होता है. ये कई सारे कानूनी कामों में आपकी मदद करता है. शादी होने के बाद एक विवाहित जोड़े को जल्द से जल्द अपनी शादी को पंजीकृत करवाकर अपना मैरिज सर्टिफिकेट बनवा लेना चाहिए. लेकिन दुविधा ये है की मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनवाएं (How to make marriage certificate?)

शादी करने के बाद विवाह प्रमाण पत्र यानी Marriage Certificate बनवाना जरूरी होता है. ये कई सारे कानूनी कामों में आपकी मदद करता है. शादी होने के बाद एक विवाहित जोड़े को जल्द से जल्द अपनी शादी को पंजीकृत करवाकर अपना मैरिज सर्टिफिकेट बनवा लेना चाहिए. लेकिन दुविधा ये है की मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनवाएं (How to make marriage certificate?) ये कई लोग नहीं जानते. इसके लिए आपको पता होना चाहिए की ऑनलाइन मैरिज सर्टिफिकेट (Online Marriage certificate process) कैसे बनवाएं?

मैरिज सर्टिफिकेट के लिए जरूरी दस्तावेज़ (Documents for Marriage Registration Certificate)

मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन बनवाना हो या ऑफलाइन आपको कुछ जरूरी दस्तावेज़ की जरूरत पड़ती है.

वर एवं वधू के अलग-अलग पासपोर्ट साइज़ फोटो
वर एवं वधू के विवाह की फोटो
वर एवं वधू के पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड आदि.
वर एवं वधू के जन्म को सत्यापित करने के लिए दस्तावेज़ जैसे : जन्म प्रमाण पत्र, अंक सूची, आधार कार्ड आदि.
एफ़िडेविट के साथ वधू एवं वर का अलग-अलग शपथ पत्र
दो गवाहों के पते के प्रमाण पत्र एवं आईडी प्रूफ

ऑनलाइन मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनवाएं? (How to get marriage certificate?)

ऑनलाइन मैरिज सर्टिफिकेट (Online marriage certificate) बनवाना एक आसान प्रोसैस है जिसमें आपको अपने राज्य की नगरपालिका की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर मैरिज सर्टिफिकेट के लिए अप्लाई (Marriage certificate apply) करना होता है. अगर आपको आपके राज्य की वेबसाइट नहीं मिल रही है तो आप सीधे गूगल पर अपने राज्य का नाम लिखकर marriage certificate registration लिखें जैसे ‘MP Marriage Certificate Registration’ लिखना होगा. इसके बाद आपके सामने मैरिज रजिस्ट्रेशन की वेबसाइट आ जाएगी. अगर आप मध्य प्रदेश में रहते हैं तो मध्य प्रदेश में कैसे मैरिज सर्टिफिकेट बनवाएँ उसके बारे में हम आपको बता रहे हैं. अन्य राज्यों की प्रक्रिया भी लगभग इसी प्रकार होती है.

– इसके लिए आप गूगल पर सर्च करें “MP Marriage Certificate Online” आपको कई वेबसाइट की लिस्ट मिलेगी जिसमें सबसे ऊपर वाली वेबसाइट आपको चुनना है जो www.mpenagarpalika.gov.in है.
– इसके बाद Marriage Certificate Registration पेज खुल जाएगा जिसमें आपको Marriage Registration के बारे में कुछ जानकारी दी जाएगी. इसमें जरूरी दस्तावेज़ और कुछ जरूरी निर्देश दिये होंगे.
– इसी पेज पर आपको नीचे की तरफ Click Here to apply का ऑप्शन दिखाई देगा. इस पर क्लिक करें.
– इसके बाद आपको अपना शहर चुनना है.
– इसके बाद आपके सामने Marriage Registration Form आ जाएगा. इसे आपको ऑनलाइन ही भरना है. इसे आप दिये गए स्टेप्स में भर सकते हैं.

पहला स्टेप : पहले आपको पिनकोड, शादी का प्रकार यानी आपने किस रीति रिवाज जैसे हिन्दू, मुस्लिम, सिक्ख आदि में से किस रीति रिवाज से शादी की है. ये बताना है. इसके बाद आपको विवाह का पता बताना है. फिर विवाह स्थल और विवाह करने वाले पुजारी, काजी, पादरी, पठिजी का मोबाइल नंबर देना है.

दूसरा स्टेप : इसमें आपको दूल्हे की डीटेल देनी है. दूल्हे का पूरा नाम, जन्म तिथि, माँ का नाम, पिता का नाम, दूल्हे की समग्र आईडी, UDID, वार्ड नंबर, स्थायी पता, दूल्हे का मोबाइल नंबर, पिता का मोबाइल नंबर, मटा का मोबाइल नंबर देना है.

तीसरा स्टेप : इसमें आपको दुल्हन की सारी डिटेल्स देनी है जैसे पूरा नाम, जन्म तिथि, पिता का नाम, माता का नाम, दुल्हन की समग्र आईडी, यूडीआईडी, वार्ड नंबर, स्थायी पता, दुल्हन का मोबाइल नंबर, माता-पिता का मोबाइल नंबर बताना है.

चौथा स्टेप : इसमें आपको गवाहों की जानकारी देनी है. आपके पास दो गवाह होने चाहिए. इसमें पहले इनका पूरा नाम, मोबाइल नंबर और पता फिल करना है.

पांचवा स्टेप : इसमें जो व्यक्ति आवेदन कर रहा है उसकी डिटेल्स देनी है. आवेदन करने वाला व्यक्ति दूल्हा या दुल्हन कोई भी हो सकते हैं. इन्हें अपना पूरा नाम, मतदाता पहचान पत्र क्रमांक, आयु, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, ड्राइविंग लाइसेन्स क्रमांक, आधार नंबर, पैन नंबर, पासपोर्ट नंबर फिल करना होता है. इनमें से कुछ चीजें फिल करना जरूरी नहीं है.

छठा स्टेप : इसमें आपको सारे दस्तावेज़ जो आपको पहले बताए गए हैं उनकी स्कैन कॉपी अपलोड करना है.

सातवा स्टेप : इसमें एक चेकलिस्ट आएगी जिसमें यदि आपने सारी जानकारी जो पूछी गई है वो फिल कर दी है तो Yes पर टिक करते जाएँ. इसके बाद एक Declaration आएगा जिसमें अपनी सहमति देते हुए Marriage Registration Form को Submit कर दें.

फॉर्म को सबमिट करने के बाद आपको पेमेंट करना होता है. ये पेमेंट आप किसी भी नेट बैंकिंग या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं. पेमेंट हो जाने के बाद आपको रजिस्टर्ड ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर के माध्यम से रसीद प्राप्त हो जाएगी. इसके कुछ दिनों बाद ही अपने शहर के मैरिज रजिस्ट्रार में जाकर अपने दस्तावेज़ सत्यापित करवाएँ और अपना मैरिज सर्टिफिकेट डाउनलोड कर लें.

यह भी पढ़ें :

शादी की तैयारी का ना लें टेंशन, ऐसे करें मैरिज मैनेजमेंट

Surname Change Process : शादी के बाद आधार कार्ड में सरनेम कैसे बदलवाएं?

तलाक के बाद गुजारे भत्ते और धन के बंटवारे के नियम

error: Content is protected !!