LED Bulb Business: एलईडी बल्ब बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?

भारत में अब हर घर में एलईडी बल्ब (LED bulb) दिखाई देता है. इसका मतलब ये है की एलईडी बल्ब की खपत भी खूब होती होगी. ऐसे में आप चाहे तो एलईडी बल्ब का बिजनेस (LED bulb business) शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आप सरकार से लोन भी ले सकते हैं और एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग (LED bulb training) भी ले सकते हैं.

एलईडी का मतलब क्या होता है? (LED full form)

सम्बंधित लेख - पढ़िए

एलईडी का पूरा नाम लाइट एमिटिंग डायोड (Light emitting diode) होता है.

एलईडी बल्ब का फायदा (Benefit of LED bulb)

एलईडी काफी फायदेमंद है. इसका कारण ये है की एक तो इससे बिजली की खपत कम होती है और ये लंबे समय तक चलता है जिससे आपका पैसा रोशनी पर कम खर्च होता है और आपको अच्छी रोशनी भी मिलती है. इसके अलावा एलईडी बनाने वालों का भी काफी फायदा होता है. एलईडी अगर खराब हो जाए तो इसे बनाने वाले इसे फिर से ठीक कर सकते हैं और फिर से बाजार में बेच सकते हैं.

एलईडी बल्ब बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? (How to start LED bulb business?)

एलईडी का बिजनेस आप तीन तरीकों से कर सकते हैं.

1) आप चाहे तो एलईडी बल्ब की दुकान (LED bulb shop) खोल सकते हैं.
2) अगर आप एलईडी बल्ब की दुकान नहीं खोलना चाहते तो आप एक सप्लायर (LED bulb supplier) भी बन सकते हैं. इसके लिए आपको एक बड़े स्टोर और थोड़े-बहुत निवेश की जरूरत पड़ेगी.
3) पूरा एलईडी बल्ब बनाए या एलईडी बल्ब के कॉम्पोनेंट (LED bulb manufacturing) बनाएं.

एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग (LED Bulb production training)

एलईडी बल्ब बनाने का बिजनेस शुरू करना काफी आसान है लेकिन इसके लिए आपके पास थोड़ा पैसा होना चाहिए. एलईडी बल्ब बनाने के लिए आप खुद मिनिस्ट्री ऑफ माइक्रो, स्माल एंड मीडियम इंटरप्राइजेज़ के तहत ट्रेनिंग ले सकते हैं. इसकी ट्रेनिंग लेने के बाद आप खुद की जगह पर एलईडी बनाने की एक यूनिट या कारख़ाना डाल सकते हैं.

http://msme.gov.in/
http://niesbud.nic.in/training.htm

एलईडी बल्ब बिजनेस के लिए जरूरी सामान (LED bulb production)

एलईडी बल्ब असेंबल करने की यूनिट डाल रहे हैं तो आपको कुछ ऐसे सामान और मशीन की जरूरत होगी जिनसे आप एलईडी बल्ब बनाएंगे या असेंबल करेंगे. एलईडी बल्ब असेंबल करने की यूनिट बनाने में आपको करीब 5-6 लाख रुपये की लागत आती है. आप चाहे तो इसके लिए लोन ले सकते हैं. सरकार से मुद्रा योजना के तहत आपको इस पर लोन मिल सकता है.

Paytm kyc online: पेटीएम केवाईसी कैसे करें?

कॉम्पोनेंट फोर्मिंग : 85 हजार रुपये
सोल्डरिंग मशीन : 300 रुपये
डिजिटल मल्टीमीटर : 600 रुपये
टेस्टर : 600 रुपये
सीलिंग मशीन : 1400 रुपये
एलसीआर मीटर : 2500 रुपये
स्माल ड्रिलिंग मशीन : 2000 रुपये
लक्स मीटर : 1500 रुपये

एलईडी बल्ब बनाने के लिए जरूरी सामान (LED bulb raw material)

एलईडी चिप्स
रेक्टीफिएर मशीन
हीट सिंक डिवाइस
मेटलिक कैप होल्डर
प्लास्टिक बॉडी
रिफलेक्टर प्लास्टिक ग्लास
कनैक्टिंग वायर
सोल्डरिंग फ्लक्स

एलईडी बल्ब की मांग बढ़ने के साथ-साथ कई दिग्गज कंपनियों ने एलईडी बल्ब बनाना शुरू कर दिया और उन्होने बाजार के काफी बड़े हिस्से पर अपनी पकड़ बना ली है. ऐसे में अगर आप नया-नया एलईडी बल्ब बनाने का बिजनेस शुरू करते हैं तो आपको मार्केट में पकड़ बनाने में काफी समय लग सकता है. इसलिए आप चाहे तो एलईडी के कॉम्पोनेंट बनाने का बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आपको ज्यादा जगह और लागत की भी जरूरत नहीं होती. इसके लिए आपको बस अपनी वर्कशॉप का पंजीकरण एमएसएमई विभाग में करवाना होता है.

एलईडी बल्ब का बिजनेस शुरू करने या इसकी मैनुफेक्चुरिंग यूनिट डालने के लिए आपको सबसे पहले एलईडी बल्ब बनाने और एलईडी बल्ब रिपेयर करने की ट्रेनिंग लेना होगी. इसके बाद आप अपने बजट के अनुसार एलईडी बल्ब का बिजनेस शुरू कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें :

RBI Video KYC : बैंक विडियो केवाईसी क्या है, कैसे करें?

Amul franchise : अमूल फ्रेंचाइजी कैसे लें, निवेश तथा कमाई

Paytm kyc online: पेटीएम केवाईसी कैसे करें?

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!