My School Essay in Hindi : मेरा विद्यालय पर निबंध, विद्यालय तथा अनुशासन पर निबंध

स्कूल में हर विद्यार्थी को ये डर रहता है की उसकी परीक्षा में कौन सा निबंध आएगा. इसलिए वो साल-भर में कई निबंध याद करता है. वैसे कुछ खास निबंध होते हैं जो हर साल परीक्षा में पूछे जाते हैं और मेरा विद्यालय का निबंध (My school essay in hindi) इन्हीं निबंधों में से एक है.

स्कूल में हर विद्यार्थी को ये डर रहता है की उसकी परीक्षा में कौन सा निबंध आएगा. इसलिए वो साल-भर में कई निबंध याद करता है. वैसे कुछ खास निबंध होते हैं जो हर साल परीक्षा में पूछे जाते हैं और मेरा विद्यालय का निबंध (My school essay in hindi) इन्हीं निबंधों में से एक है.

मेरा विद्यालय निबंध

सम्बंधित लेख - पढ़िए

प्रस्तावना

शिक्षा हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और जहां हम शिक्षा ग्रहण करने के लिए जाते हैं उस स्थान को विद्यालय यानि स्कूल कहा जाता है. प्राचीन काल से ही विद्यालय को मंदिर का दर्जा दिया गया है. प्राचीन काल में भी बच्चे शिक्षा ग्रहण करने के लिए गुरुकुल में जाया करते थे जहां वे अपने परिवार से दूर रहकर शिक्षा ग्रहण किया करते थे.

मेरा विद्यालय

मेरा विद्यालय बहुत ही सुंदर तथा बड़ा है. मेरा विद्यालय मेरे घर से 10 मिनट की दूरी पर एक शांत स्थान पर है. मेरे विद्यालय में 30 कमरे हैं तथा हर कमरे में खिड़कियाँ हैं जिनसे साफ हवा आती है. मेरे विद्यालय की हर कक्षा की रोज साफ-सफाई होती है जिससे कक्षा के अंदर का वातवरण साफ एवं सुथरा रहता है.

मेरे विद्यालय में एक लाइब्रेरी है जो काफी बड़ी है. इसमें हमारे काम की सभी पुस्तकें होती हैं. इसके अलावा लाइब्रेरी में रोजाना अखबार भी आता है जिससे हम देश-दुनिया की खबरों के बारे में जान पाते हैं. लाइब्रेरी के अलावा हमारे विद्यालय में एक कंप्यूटर क्लास भी है जिसमें 50 कंप्यूटर हैं. कंप्यूटर क्लास में हमें कंप्यूटर सिखाया जाता है. इन सभी के अलावा हमारे विद्यालय में एक विज्ञान प्रयोगशाला भी है. जिसमें विज्ञान विषय से संबन्धित उपकरण मौजूद हैं जो हमारे विज्ञान विषय के प्रैक्टिकल में काम आते हैं.

मेरे विद्यालय में सामने की तरफ एक विशाल मैदान है जिसमें हम स्कूल आकार प्रार्थना सभा करते हैं. स्कूल का लंच होने पर हम सभी इसी में खेलते हैं तथा अपना लंच करते हैं. स्कूल के मैदान में हमारे पीटी मास्टर हमें पीटी ट्रेनिंग भी देते हैं और दूसरे स्पोर्ट्स की तैयारी भी करवाते हैं.

विद्यालय की सुविधाएं

मेरे विद्यालय में कई सुविधाएं हैं उनमें से कुछ निम्न हैं.

1) मेरा विद्यालय नर्सरी से 12वी तक है. 11वी और 12वी में गणित संकाय, वाणिज्य संकाय, जीव विज्ञान संकाय तथा कला संकाय की पढ़ाई करवाई जाती है.
2) स्कूल की हर कक्षा में रोजाना साफ-सफाई होती है. तथा हर छात्र की साफ-सफाई का भी पूरा ध्यान रखा जाता है.
3) स्कूल में दूर से आने वाले बच्चों के लिए बस की व्यवस्था है जो व्यवस्थित तरीके से बच्चों को घर से स्कूल और स्कूल से घर ले जाती है.
4) विद्यालय में हर महीने पेरेंट्स मीटिंग का आयोजन किया जाता है जिससे बच्चों के पेरेंट्स को बताया जा सके की उनके बच्चे की पढ़ाई में स्थिति क्या है और वो किन समस्याओं का सामना कर रहा है.
5) विद्यालय में हर कक्षा में कैमरे लगे हैं. अगर कहीं भी जरा सी चूक होती है तो तुरंत पता चल जाता है.

विद्यालय में अनुशासन

मेरा विद्यालय अनुशासन के मामले में काफी कठोर हैं. यहाँ छोटे बच्चों से लेकर बड़े बच्चों तक सभी के लिए अनुशासन के नियम एक जैसे हैं. विद्यालय में प्रतिदिन नाखून, वर्दी, और दांतों का निरीक्षण किया जाता है. हर बच्चे को शुरू से समय पर स्कूल आने के लिए कहा जाता है. यदि कोई बच्चा स्कूल के अनुशासन का पालन नहीं करता तो उसे कठोर दंड दिया जाता है.

विद्यालय के अध्यापक और प्रधानाचार्य

मेरे विद्यालय के अध्यापक बहुत ही विनम्र और सज्जन हैं. वे हर छात्र पर पूरा ध्यान देते हैं और बड़ी ही लगन के साथ हर बच्चे को पढ़ाते हैं. यदि किसी बच्चे को कोई समस्या होती है तो वे उसे बताते हैं और उसकी समस्या दूर करते हैं. मेरे विद्यालय के प्रधायाचार्य भी बेहद ही अच्छे हैं. वे हर बच्चे को कुछ नया करने की सलाह देते हैं और हर बच्चे को उसकी रुचि के हिसाब से करने के लिए प्रेरित करते हैं लेकिन साथ ही यह भी कहते हैं की अपनी पढ़ाई पर हम पूरा ध्यान दें.

विद्यालय का परीक्षा परिणाम

परीक्षा के मामले में मेरे विद्यालय काफी अच्छा है. यहाँ का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रहता है. यहाँ के अध्यापक हर बच्चे पर परीक्षा से पहले परीक्षा की तैयारी करवाने पर विशेष ध्यान देते हैं और अतिरिक्त कक्षा का भी आयोजन करते हैं जिससे हर बच्चे की समस्या को हल किया जा सकें.

उपसंहार

किसी भी देश को आगे बढ़ाने में उस देश के लोगों का हाथ होता है. और देश के भविष्य को बनाने में देश के बच्चों का. यदि देश के बच्चे इस समय अच्छा पढ़ेंगे लिखेंगे तो आगे चलकर वे एक अच्छे इंसान बनेंगे और देश का नाम रोशन करेंगे. मेरा विद्यालय एक बच्चे को अच्छा विद्यार्थी और अच्छा इंसान बनाने के लिए एक बेहद ही उपयुक्त स्थान है.

यह भी पढ़ें :

Pollution essay : प्रदूषण पर निबंध, प्रदूषण की समस्या व दुष्परिणाम पर निबंध

मोबाइल पर निबंध, मोबाइल के लाभ तथा दुष्परिणाम निबंध

कंप्यूटर पर निबंध, कंप्यूटर का महत्व तथा उपयोग पर लेख

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!