Navratri Colors 2020: नवरात्रि में किस दिन कौन से रंग के कपड़े पहनेंं?

नवरात्रि में नौ दिन के नौ रंग (9 colours of navratri) होते हैं जिन्हें आपको दिन के हिसाब से पहन कर मांं दुर्गा के स्वरूपों की अर्चना करनी चाहिए.

रंग संस्कृति को प्रदर्शित करते हैं और रंगों का अपना महत्व भी है. रंगों के महत्व को तो विज्ञान ने भी माना है. नवरात्रि के धार्मिक और आध्यात्मिक (Navratri Colors) नौ दिनों में रंगों की अपनी महिमा होती है.

भारतीय परंपरा में हर दिन रंग को प्रदर्शित करते हैं और नवरात्रि (Importance and Significance of Nine Colors of Navratri) के नौ दिनों में तो रंगों का महत्व और भी बढ़ जाता है.

नवरात्रि (navratri) नौ दिनों का त्योहार है और ये नौ दिन मांं दुर्गा के नौ स्वरूप की उपासना के दिन होते हैं. इन नौ दिनों (nou din maa ke nou rup) में मांं दुर्गा के अलग-अलग नौ रूप की पूजा की जाती है. मांं दुर्गा के इन नौ रूपों में जितना महत्व इनकी पूजा करने का है उतना ही इस बात का भी है की इन्हें कौन से रंग पसंद है.

नवरात्रि में नौ दिन के नौ रंग (9 colours of navratri) होते हैं जिन्हें आपको दिन के हिसाब से पहन कर मांं दुर्गा के स्वरूपों की अर्चना करनी चाहिए.

नवरात्रि के नौ रंग (navratri ke nau rang)

जिस तरह हम नवरात्रि में नौ दिन मांं दुर्गा के नौ स्वरूप की पूजा करते हैं, उसी तरह हमें नौ दिनों तक 9 अलग-अलग रंगों के कपड़े (navratri saree colour) पहनना चाहिए.

मांं दुर्गा के हर स्वरूप को अलग-अलग रंग पसंद है. मांं दुर्गा के नौ स्वरूप शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कन्दमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्री है.

इन नौ स्वरूपों के दिन के हिसाब से (which colour dress to wear in navratri) आपको नौ रंगों के कपड़े (avratri colours for nine days) पहनना चाहिए. इससे माँ दुर्गा प्रसन्न होती है.

नवरात्रि के पहले दिन कौन सा रंग पहनें? (Navratri first day colour)

नवरात्रि का पहला दिन होता है मांं शैलपुत्री की उपासना का दिन. मांं शैलपुत्री पर्वतराज हिमालय की पुत्री है. इन्हें पीला रंग पसंद है.

नवरात्रि के पहले दिन आपको पीले रंग (Yellow) के कपड़े पहनकर घट स्थापना और पूजा करनी चाहिए. हर पूजा में पीले रंग के वस्त्रों को हमेशा से सही माना जाता है.

नवरात्रि के दूसरे दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri second day colour)

नवरात्री का दूसरा दिन मांं ब्रह्मचारिणी की उपासना का दिन होता है. मांं ब्रह्मचारिणी मांं दुर्गा का दूसरा स्वरूप है. इनके नाम का मतलब ‘तप का आचरण’ करने वाली देवी है. नवरात्रि के दूसरे दिन आपको किसी भी प्रकार का हरा (Green) रंग पहनना चाहिए. इस दिन हरा रंग पहनना लाभकारी होता है.

नवरात्रि के तीसरे दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri third day colour)

नवरात्रि का तीसरा दिन मांं चन्द्रघंटा की उपासना का दिन होता है. मांं चन्द्रघंटा महिषासुर का वध करने वाली देवी है. इनकी साधना करने से साधक को अलौकिक चीजों के दर्शन होते हैं. नवरात्रि के तीसरे दिन आप हल्के भूरे रंग (light brown) के कोई भी कपड़े पहन सकते हैं. खासकर जब आप पूजा कर रहे हैं उस वक़्त हल्के भूरे रंग के कपड़े जरूर पहने.

नवरात्रि के चौथे दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri fourth day colour)

नवरात्रि का चौथा दिन मांं कुष्मांडा की उपासना का दिन होता है. मांं कुष्मांडा माँ दुर्गा का चौथा स्वरूप हैं. माँ कुष्मांडा इस ब्रह्मांड और सृष्टि को रचने वाली देवी हैं. वे सौरमण्डल के भीतर निवास करती हैं और ऐसा करने की क्षमता केवल उन्हीं में है. नवरात्रि के चौथे दिन मांं कुष्मांडा को खुश करने के लिए नारंगी यानी ऑरेंज (Orange) रंग के कपड़े पहने.

नवरात्रि के पांचवे दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri fifth day colour)

नवरती का पांचवां दिन स्कन्दमाता की उपासना का दिन होता है. ये मांं दुर्गा का पांचवा स्वरूप है. इनकी उपासना करने से मनुष्य के लिए मोक्ष के द्वार आसानी से खुल जाते हैं और इनके भक्तों की सभी मनोकामनाएंं पूर्ण होती हैं. इन्हे प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के पांचवे दिन सफ़ेद रंग (White) के कपड़े पहनेंं.

नवरात्रि के छठे दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri sixth day colour)

नवरात्रि का छठा दिन मांं कात्यायनी की उपासना का दिन होता है. मांं कात्यायनी मांं पार्वती का ही नाम है. कहा जाता है की ये ब्रह्मा, विष्णु और भगवान शिव के क्रोध से उत्पन्न हुई थी और इन्होंने महिषासुर का वध किया था. इन्हें प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के छठे दिन पूजा करते वक़्त लाल रंग (Red) के कपड़े पहनना चाहिए.

नवरात्रि के सातवें दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri seventh day colour)

नवरात्रि का सातवाँ दिन मांं कालरात्रि की उपासना का होता है. मांं कालरात्रि का रूप भयानक है लेकिन वे उनके भक्तों की रक्षा भूत-प्रेत से करती हैं. मांं कालरात्रि का नाम सुनते है दैत्य, दानव, राक्षस, भूत, प्रेत भाग जाते हैं. इन्हें प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के सातवें दिन नीले रंग (Blue) के वस्त्र पहनकर पूजा करें.

नवरात्रि के आठवें दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri eighth day colour)

नवरात्रि का आठवाँ दिन महागौरी की उपासना का दिन होता है. महागौरी मांं पार्वती का ही एक स्वरूप है. महागौरी का स्वरूप बेहद ही मोहक, सुंदर और अद्भुत है. इनकी उपासना से मनुष्य के अंदर के पाप नष्ट हो जाते है और मनुष्य सद कर्मों की ओर प्रेरित होता है. महागौरी को प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के आठवें दिन गुलाबी रंग (Pink) के कपड़े पहनकर पूजा करें.

नवरात्रि के नौवे दिन कौन सा रंग पहने? (Navratri ninth day colour)

नवरात्रि का नौवा दिन मांं सिद्धिदात्री की उपासना का होता है. मांं सिद्धिदात्री सभी सिद्धियों की देवी हैं. इनकी उपासना करने से साधकों को सिद्धियांं प्राप्त होती हैं जिसके बाद उनके लिए इस संसार में कुछ प्राप्त करना शेष नहीं रह जाता. मांं सिद्धिदात्री को प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के नौवे दिन बैगनी रंग (Purple) के कपड़े पहनेंं.

यह भी पढ़ें

माँ ब्रह्मचारिणी की कथा

माँ चंद्रघंटा की कथा

माँ कुष्मांडा की कथा

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!