Sainik School Admission कैसे होता है, जानिए फीस और एक्जाम पैटर्न?

सैनिक स्कूल में आपको आर्मी में भर्ती होने के हिसाब से तैयार किया जाता है. स्कूल के दिनों से ही आपकी परवरिश इस तरीके से होती है कि आप इंडियन आर्मी में होने वाली भर्ती को क्रैक कर पाएं.

देश में कई सारे स्टूडेंट आर्मी (Join Indian Army) में भर्ती की तैयारी करते हैं. आर्मी पर अलग-अलग लेवल की भर्ती होती है. लेकिन यदि आप अच्छे रैंक पर आर्मी में नौकरी पाना चाहते हैं तो इसके लिए आप सैनिक स्कूल में एडमिशन (Sainik School Admission) लेकर आर्मी में भर्ती होने के लिए खुद को तैयार कर सकते हैं.

सैनिक स्कूल में आपको आर्मी में भर्ती होने के हिसाब से तैयार किया जाता है. स्कूल के दिनों से ही आपकी परवरिश इस तरीके से होती है कि आप इंडियन आर्मी में होने वाली भर्ती को क्रैक कर पाएं.

सैनिक स्कूल क्या होते हैं? (What is Sainik School?) 

सैनिक स्कूल सोसायटी भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संगठन है. ये सीबीएसई बोर्ड से संबन्धित इंग्लिश मीडियम स्कूल हैं. ये आवासीय स्कूल होते हैं जिन्हें हम बोर्डिंग स्कूल भी कहते हैं. भारत में अभी तक कुल 33 सैनिक स्कूल हैं (Total Sainik School in India)  जो देश के अलग-अलग राज्यों में स्थित हैं.

सैनिक स्कूल को चलाये जाने का मुख्य उद्देश्य ये है कि जो लोग पैरेंट्स डिफेंस सर्विस से नहीं जुड़े हैं और आगे चलकर अपने बच्चों को डिफेंस सर्विस में भेजना चाहते हैं वे उन्हें डिफेंस के हिसाब से तैयार करने के लिए सैनिक स्कूल में भर्ती कर सकते हैं.

लेकिन सैनिक स्कूल में एडमिशन करने का ये मतलब बिलकुल नहीं है कि आपका सिलेक्शन इंडियन आर्मी या किसी डिफेंस फोर्स में हो जाएगा. सैनिक स्कूल में जाने का ये मतलब है कि आप यहां रहकर खुद को इंडियन आर्मी तथा अन्य फोर्स के लिए तैयार कर सकते हैं.

जैसे आप NDA के माध्यम से इंडियन आर्मी में जाना चाहते हैं तो यहाँ आपको इस तरह तैयार किया जाएगा कि आप एनडीए को क्रैक कर पाएँ.

सैनिक स्कूल में एडमिशन कैसे होता है? (Sainik School Admission Process) 

सैनिक स्कूल में एडमिशन के लिए आपको एक प्रतियोगी परीक्षा देनी होती है. जिसका नाम All India Sainik School Entrance Exam (AISSEE) है. ये एक ऑफलाइन परीक्षा होती है जिसमें वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाते हैं. इसमें एडमिशन दो ही कक्षा के स्टूडेंट को दिये जाते हैं. जिनमें 6th और 9th क्लास है. इन दोनों ही कक्षाओं के लिए अलग-अलग पेपर होते हैं. इसमें पास होने के बाद मेडिकल टेस्ट होता है. जिसके बाद मेरिट लिस्ट के आधार पर सैनिक स्कूल में बच्चो का चयन किया जाता है.

सैनिक स्कूल एडमिशन योग्यता

सैनिक स्कूल में एडमिशन के लिए आपको कुछ जरूरी योग्यताओं को पूरा करना होता है.

– कक्षा 6ठी में प्रवेश के लिए आपकी उम्र 10 से 12 साल के बीच होनी चाहिए.

– कक्षा 9वी में प्रवेश के लिए आपकी उम्र 13 वर्ष से 15 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

– आवेदन करने के लिए आपने पिछली परीक्षा में हर विषय कम से कम 25 प्रतिशत अंकों के साथ पास की हो तथा आपके कुल मार्क्स 40 प्रतिशत न्यूनतम हो.

– आवेदक मानसिक और शारीरिक रूप से पूरी तरह फिट हो.

– कक्षा 6ठी में लड़कियां भी प्रवेश ले सकती हैं लेकिन कक्षा 9वी में लड़कियां प्रवेश नहीं ले सकती.

सैनिक स्कूल एक्जाम पैटर्न

सैनिक स्कूल में दो लेवल पर भर्ती होती है, 6ठी और 9वी के लिए. इन दोनों के लिए अलग-अलग परीक्षा आयोजित की जाती है जिसमें अलग-अलग पेपर आता है.

Class 6th Sainik School Paper

अनुभाग विषय प्रश्नों की संख्या सही उत्तर के लिए अंक कुल अंक
A गणित 50 3 150
B इंटेलिजेंस 25 2 50
C भाषा 25 2 50
D सामान्य ज्ञान 25 2 50
कुल 125 300

 

Class 9th Sainik School Paper

अनुभाग विषय प्रश्नों की संख्या सही उत्तर के लिए अंक कुल अंक
A गणित 50 4 200
B इंटेलिजेंस 25 2 50
C अंग्रेजी 25 2 50
D सामान्य विज्ञान 25 2 50
E सामाजिक विज्ञान 25 2 50
कुल 150 400

 

सैनिक स्कूल फीस

सैनिक स्कूल में नए स्टूडेंट की फीस जनरल कैटेगरी के लिए लगभग 1 लाख 15 हजार 700 रुपये है. वहीं एसटी एससी के के स्टूडेंट की फीस करीब 1 लाख 14 हजार 200 रुपये है.

यदि आपने पहले इसमें एडमिशन ले लिया है और आपका दूसरा साल या तीसरा साल चल रहा है तो आपकी फीस लगभग 1 लाख दो हजार रुपये है. फीस को कवर करने के लिए माता-पिता की आय के हिसाब से स्कॉलरशिप की व्यवस्था भी है.

यह भी पढ़ें :

12वी से पोस्ट ग्रेजुएशन तक, ये हैं Indian Air Force Join करने के 5 तरीके

लड़कियां भी कर सकती हैं Indian Army Join, जानिए 5 करियर ऑप्शन

10वी और 12वी के बाद कैसे करें Indian Army Join, जानिए तीन तरीके?

error: Content is protected !!