घुटनों और एड़ियों के लिए घातक हैं हाई हील के सैंडल

हाई हील के सैंडिल पहनने से न सिर्फ व्यक्तित्व में निखार आता है बल्कि खुबसूरती भी उभरकर सामने आती है. कभी कभी इन्हें पहनना अच्छा लगता है लेकिन लगातार पहनने से पैरों में सूजन आना, शरीर के कई हिस्सों में दर्द जैसी प्रॉब्लम होने लगती है.

हाई हील से पड़ता है घुटनों पर प्रेशर-
हाई हील का लगातार प्रयोग करने सेे घुटनों पर दबाव पड़ता है जो घुटनों के दर्द का भी कारण बनता है. लगातार हाई हील के प्रयोग से बचें ताकि छोटी उम्र से ही घुटनों की तकलीफ न हो.

पीठ में दर्द की प्रॉब्लम –
हाई हील पहन कर चलने पर शरीर का संतुलन बना कर चलना होता है. अधिक समय तक शरीर का संतुलन बनाए रखने से स्पाइन पर प्रभाव पड़ता है जो पीठ दर्द का कारण बनता है.

जोड़ों पर भी पड़ता है प्रभाव-
हाई हील के सैंडल या जूतियां पहनने से हड्डियों के जोड़ों पर प्रभाव पड़ता है. खासतौर पर घुटनों के जोड़ों, हिप्स और कमर पर दबाव पड़ता है.

बिगड़ता है पाॅश्चर-
हाई हील से पैरों पर दबाव बढ़ने से शरीर के ऊपरी भाग को बैलेंस करना होता है. कभी कभी बैलेंस बनाने के चक्कर में हम अजीब पाॅश्चर में खड़े रहते हैं या फिर चाल में भी फर्क आ जाता है. इस तरह हमारा पाश्चर बिगड़ जाता है.

पैरों में आ जाती है सूजन-
हाई हील पहनने से वैरीकोज वेन्स की प्रॉब्लम जल्दी हो सकती है. इससे पैरों की नसें सूज जाती हैं और ब्लड सर्कुलेशन पैरों से ऊपर की ओर उचित तरीके से नहीं होता. जब कभी पैरों में सूजन महसूस हो और लंबे समय तक सूजन बनी रहे तो हमें हाई हील के प्रयोग को बंद कर देना चाहिए. इंडिया में करीब 7 % महिलाएं इस रोग से परेशान हैं.

error: Content is protected !!