B. Arch. Course : आर्किटेक्चर कैसे बनें, प्रवेश परीक्षा, कोर्स, सैलरी की जानकारी?

हर युवा को एक अच्छे करियर की तलाश होती है. कोई अच्छे करियर के लिए इंजीनियरिंग कर लेता है तो कोई मेडिकल कोर्स में दाखिला ले लेते हैं. लेकिन इन दोनों के अलावा भी कई सारी फील्ड हैं जिनमें आप एक बेहतरीन करियर बना सकते हैं. ऐसा ही एक करियर है आर्किटेक्चर (architecture).

हर युवा को एक अच्छे करियर की तलाश होती है. कोई अच्छे करियर के लिए इंजीनियरिंग कर लेता है तो कोई मेडिकल कोर्स में दाखिला ले लेते हैं. लेकिन इन दोनों के अलावा भी कई सारी फील्ड हैं जिनमें आप एक बेहतरीन करियर बना सकते हैं. ऐसा ही एक करियर है आर्किटेक्चर (architecture). इसे करने के बाद आप एक अच्छी कमाई कर सकते हैं साथ ही लोगों के बीच सम्मान भी पा सकते हैं.

आर्किटेक्चर कैसे बनें? (How to become an architecture?)

आर्किटेक्चर (architecture) बनने के लिए आपको बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर कोर्स (B. Arch. Full form Bachelor of Architecture) करना होता है. लेकिन इस कोर्स को करने के लिए आपके अंदर कई सारी क्वालिटी होना चाहिए. सिर्फ इस कोर्स में एडमिशन लेने से आपका काम नहीं चलता है. आर्किटेक्चर बनने के लिए आपके अंदर रचनात्मकता, बिल्डिंग डिज़ाइन को सोचने की क्षमता, कम जगह में ज्यादा निर्माण कैसे किया जाए? इस तरह की काफी सारी चीजों को जानने और सीखने की ललक आपमे होना जरूरी है. इसके साथ ही आपको ड्राविंग करना और सही रंगों का चुनाव करना भी आना चाहिए.

आर्किटेक्चर के काम (Work of Architecture)

आर्किटेक्चर का मुख्य काम किसी इमारत का निर्माण करवाना तथा उसे डिज़ाइन करना होता है. एक आर्किटेक्चर अपने क्लाईंट की जरूरत के हिसाब से उसे बेहतरीन और सुविधाजनक डिज़ाइन बनाकर देता है. आर्किटेक्चर के मुख्य काम इस तरह के होते हैं.
– बिल्डिंग का निर्माण करने के लिए बिल्डिंग का डिज़ाइन पहले बनाना. उसमें हर बारीकी को शामिल करना जो मकान या बिल्डिंग के लिए जरूरी है. ये डिज़ाइन ऐसा होना चाहिए जो क्लाईंट के बजट के अनुरूप हो.

– जो डिज़ाइन आर्किटेक्चर ने बनाई है उसे बनाने वाले ठेकेदारों और मिस्त्रियों को समझाना ताकि वो डिज़ाइन के हिसाब से निर्माण कर सके. इसके अलावा निर्माण कार्य की देखरेख का काम भी आर्किटेक्चर के जिम्मे होता है.

आर्किटेक्चर बनने के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance exam for Architecture)

आर्किटेक्चर बनने के लिए आपको बी. आर्क. करना होता है. इसके लिए आपको देश के किसी अच्छे आर्किटेक्चर कॉलेज में एडमिशन लेना पड़ेगा. अगर आप देश के सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपको NATA (National Aptitude test in Architecture) एकसां देना होगी. इसे आप 12वी पास होने के बाद दे सकते हैं. ये परीक्षा ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीकों से होती है. इसमें आपसे तीन विषयों पर आधारित 62 प्रश्न पूछे जाते हैं. ये तीन विषय हैं.

गणित : 20 प्रश्न
जनरल एप्टीट्यूड : 40 प्रश्न
ड्राविंग : 2 प्रश्न

आर्किटेक्चर बनने के लिए योग्यता (Eligibility for architecture)

– आर्किटेक्चर बनने के लिए आवेदक का 12 वी पास होना जरूरी है.
– आर्किटेक्चर 12 वी में कम से कम 50% मार्क्स से उत्तीर्ण हो.
– इसके अलावा उसने दसवी के बाद कोई डिप्लोमा किया हो जो 3 साल का हो.
– प्रवेश के लिए कोई आयु सीमा नहीं है.

B.Arch. की कॉलेज फीस (B.Arch. college fees)

आर्किटेक्चर बनने के लिए आपको कॉलेज में एडमिशन लेना पड़ेगा जहां पर आपको फीस देनी होती है. अगर आप सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो आपको कम फीस देना होती है वही प्राइवेट कॉलेज आपसे उसी कोर्स के लिए ज्यादा फीस लेते हैं. सरकारी कॉलेज में आपकी फीस 1.5 लाख से 2.5 लाख रुपये तक हो सकती है. वही प्राइवेट कॉलेज में 3 से 6 लाख रुपये फीस हो सकती है.

आर्किटेक्चर की नौकरी और सैलरी (Architecture salary)

आर्किटेक्चर बनने के बाद आपके पास कई सारे नौकरी के विकल्प होते हैं. आप इस कोर्स को करने के बाद बहुत सी तरह की जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं. जैसे

– Town planner
– building surveyor
– Commercial/Residential surveyor
– Structural engineer
– Landscape Architect
– Production designer

एक आर्किटेक्ट की सैलरी शुरुवात में 30 से 40 हजार रुपये हो सकती है. लेकिन इनके अनुभव और काम करने की क्षमता के आधार पर ये बहुत ज्यादा कमा सकते हैं.

यह भी पढ़ें :

12वी के बाद वकील कैसे बने, CLAT के लिए योग्यता क्या है?

Air hostess Career : एयर होस्टेस कैसे बनें, एयर होस्टेस की सैलरी?

ISRO Scientist Salary : इसरो में वैज्ञानिक कैसे बनें, इसरो साइंटिस्ट की सैलरी?

error: Content is protected !!