Dry Cough Home remedy : सूखी खांसी का इलाज, सूखी खांसी के घरेलू उपाय

बदलते मौसम के साथ तबीयत का बिगड़ना एक आम बात है. इसके फलस्वरूप हमें सर्दी और खांसी (Dry Cough) जैसी छीजे होती रहती है. खांसी (Khansi ke gharelu upay) आमतौर पर एक सामान्य प्रक्रिया है लेकिन ये थोड़े समय तक रहे तब तक कोई बात नहीं है अगर ये लंबे समय तक बनी रहती है तो चिंता का विषय बन जाती है.

बदलते मौसम के साथ तबीयत का बिगड़ना एक आम बात है. इसके फलस्वरूप हमें सर्दी और खांसी (Dry Cough) जैसी छीजे होती रहती है. खांसी (Khansi ke gharelu upay) आमतौर पर एक सामान्य प्रक्रिया है लेकिन ये थोड़े समय तक रहे तब तक कोई बात नहीं है अगर ये लंबे समय तक बनी रहती है तो चिंता का विषय बन जाती है.

सूखी खांसी क्या होती है? (Dry Cough)

खांसी दो तरह की होती है. एक तो सूखी खांसी (Dry Cough) और दूसरी बलगम या कफ वाली खांसी (Wet cough). जब खांसी बिना कफ के होती है यानि खांसने के दौरान कफ नहीं निकलता है तो ऐसी खांसी सूखी खांसी कहलाती है. इसमें ऐसा लगता है मानों गले में कुछ अटक गया हो. इस खांसी से आराम पाना काफी मुश्किल भी होता है. इससे सीने और पीठ में थकान होती है. गले में खिंचाव और सर भारी सा भी लगता है. सूखी खांसी से छुटकारा पाने के लिए पहले हमें ये पता होना चाहिए की सूखी खांसी क्यों होती है.

सूखी खांसी के कारण (Dry Cough Cause)

सूखी खांसी के निम्न कारण है.

– अगर आपको किसी चीज जैसे धूल, मिट्टी, धुएँ आदि से एलर्जी है तो इससे आपको सूखी खांसी हो सकती है.
– किसी व्यक्ति को अस्थमा या टीबी की शिकायत है तो उन्हें भी सूखी खांसी रहती है.
– मौसमी बुखार, वायरल इन्फेक्शन, सर्दी, फ्लू आदि से भी सूखी खांसी होती है.
– अगर आप ऐसी जगह दिनभर रहते हैं जहां पर बहुत ज्यादा प्रदूषित हवा होती है तो आपको सूखी खांसी की शिकायत हो सकती है.

सूखी खांसी के घरेलू उपाय (Dry Cough Home remedy)

सूखी खांसी (Sukhi khansi ka ilaj) से राहत पाने के लिए आप कुछ घरेलू उपाय (sukhi khansi ka gharelu upay) आजमा सकते हैं. इन घरेलू उपाय (Sukhi khansi ke upay) को आप खांसी के शुरुवाती दौर में आजमा सकते हैं. यदि आपको लंबे समय से खांसी की समस्या है तो आप पहले डॉक्टर का परामर्श लें और इसके बाद ही किसी तरह का ट्रीटमेंट लें.

शहद

शहद में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं जो सूखी खांसी से राहत दिलाते हैं. सूखी खांसी के उपचार के लिए आप 1 चम्मच शहद दिन में तीन बार ले सकते हैं. शहद में एंटी- माइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं जो उन बैक्टीरिया को मारते हैं जो खांसी के कारण बनते हैं.

नमक और पानी के गरारे

खांसी और उससे होने वाली तकलीफ में राहत दिलाने का काम सदियों से नमक और पानी के गरारे करते आए हैं। ये सबसे पुराना और आसान नुस्खा है. इसके लिए आप सुबह-शाम गुनगुने पानी में एक चम्मच नमक मिलकर उसके गरारे कर सकते हैं. इससे गले में मौजूद खांसी के बैक्टीरिया नष्ट हो जाते हैं और गले में आराम मिलता है.

काली मिर्च

काली मिर्च को हम खाने में उपयोग करते हैं लेकिन ये एक तरह की दवाई है जिसका उपयोग कई तरह के रोगों को दूर करने में किया जाता है. सूखी खांसी से छुटकारा दिलाने में ये काफी महत्वपूर्ण है. इसका उपयोग करने के लिए आप एक चम्मच पीसी काली मिर्च लें और उसे देसी घी में भूनकर दिनभर थोड़ा-थोड़ा चाटते रहें. इससे सूखी खांसी में काफी ज्यादा राहत मिलती है.

तुलसी का काढ़ा

तुलसी भी हमारे स्वस्थ्य के लिए काफी लाभदायक होती है. ये सर्दी-जुकाम और खांसी के लिए बेहद उपयोगी होती है. सूखी खांसी को दूर करने के लिए आप 8 से 10 पत्तों को धो कर एक ग्लास साफ पानी में तब तक उबालें जब तक की पानी आधा न हो जाए. अब इसे एक कप में छान लें थोड़ा सा शहद मिलकर घूंट-घूंट पीए. इससे गले को काफी आराम मिलता है और सूखी खांसी भी दूर हो जाती है.

अदरक

सर्दियों में अदरक की चाय तो आपने पी ही होगी. सर्दियों के मौसम में अदरक शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है. सूखी खांसी के लिए भी अदरक बेहद लाभदायक होता है. इसका इस्तेमाल करने के लिए आप एक इंच अदरक को कूट कर एक गिलास पानी में उबालें. इसे तब तक उबालें जब तक पानी आधा न हो जाए. फिर इसमें शहद मिलकर थोड़ा-थोड़ा करके पीए. आप चाहे तो अदरक को पीस कर उसका रस निकालकर उसमें शहद मिलाकर भी उसका थोड़ा-थोड़ा सेवन कर सकते हैं. इससे सूखी खांसी में काफी ज्यादा राहत मिलती है और ये सर्दियों के मौसम में शरीर में गर्मी बनाए रखता है.

यह भी पढ़ें :

Pigmentation : चेहरे पर झाइयां क्यों पड़ती है, चेहरे की झाइयां मिटाने के उपाय?

Teeth Cavity : दांतों में कैविटी के कारण और घरेलू उपाय

चेहरे के दाग धब्बे हटाने के नुस्खे, त्वचा के पुराने दाग धब्बे दूर करें

error: Content is protected !!