हरियाली अमावस्या पर राशि के अनुसार लगाएं पौधे, पितृ होंगे प्रसन्न, पूरी होगी मनचाही मुराद

हरियाली अमावस्या मनाए जाने के पीछे कोई धार्मिक या पौराणिक कथा तो नहीं है. लेकिन इसे पर्यावरण से जोड़कर देखा जाता है. सावन के महीने में  बारिश होने के कारण चारों तरफ हरा-भरा माहौल रहता है. 

सावन के माह में आने वाली हरियाली अमावस्या (Hariyali amavasya) काफी महत्वपूर्ण होती है. इसका धार्मिक और ज्योतिष दोनों महत्व है. एक ओर इसका संबंध प्रकृति से है वहीं दूसरी ओर इसका संबंध हमारे पितृ से भी है.  इस दिन पितृ को खुश करने के लिए आप काफी सारे उपाय कर सकते हैं. 

हरियाली अमावस्या पर पूजा कैसे करें? हरियाली अमावस्या क्या है? हरियाली अमावस्या पर कौन सा पौधा लगाएं? हरियाली अमावस्या पर कौन सा उपाय करें? इन सभी बातों के बारे में आप इस लेख में जानेंगे. 

हरियाली अमावस्या कब है? (Hariyali Amavasya 2022 Kab hai?) 

हरियाली अमावस्या पर अपने पितृ  को प्रसन्न करने के लिए काफी सारे लोग जानना चाहते हैं कि hariyali amavasya kab hai? 

हिन्दू पंचांग के मुताबिक सावन माह में आने वाली अमावस्या को ही हरियाली अमावस्या कहा जाता है. इसका विशेष महत्व होता है. साल 2022 में हरियाली अमावस्या 28 जुलाई 2022 को है और इस दिन गुरुवार है.  

हरियाली अमावस्या क्यों मनाई जाती है? (Importance of Hariyali Amavasya) 

हरियाली अमावस्या मनाए जाने के पीछे कोई धार्मिक या पौराणिक कथा तो नहीं है. लेकिन इसे पर्यावरण से जोड़कर देखा जाता है. सावन के महीने में  बारिश होने के कारण चारों तरफ हरा-भरा माहौल रहता है. 

हिन्दू धर्म में ऐसा माना जाता है कि वृक्ष में देवताओं का वास होता है.  इस दिन वृक्ष की पूजा की जाती है.  नए वृक्ष लगाए जाते हैं ताकि पर्यावरण स्वस्थ रहे और हम भी स्वस्थ रहे. 

हरियाली अमावस्या को पितृ से भी जोड़कर देखा जाता है.  इस दिन पितृ दोष की शांति के लिए अनुष्ठान कराए जाते हैं.  आप उनके लिए इस दिन पौधे लगा सकते हैं.  

हरियाली अमावस्या पर राशि के अनुसार पौधा लगाएं

हरियाली अमावस्या पर आप अपने राशि के अनुसार पौधा लगाएं.  इससे पितृ प्रसन्न होते हैं.  साथ ही ये भी संभावना है कि इस वजह से आप उनसे जो मांगे वो आपको मिल जाए. 

1) मेष राशि के जातकों को आंवले का पौधा लगाना चाहिए. 

2) वृषभ राशि के जातकों को इस दिन जामुन का पौधा लगाना चाहिए. 

3) मिथुन राशि के जातकों को चम्पा का पौधा लगाना चाहिए. 

4) कर्क राशि के जातकों को पीपल का पौधा लगाना चाहिए. 

5) सिंह राशि के जातकों को बरगद या अशोक का पौधा लगाना चाहिए. 

6) कन्या राशि के जातकों को बेलपत्र या जूही का पौधा लगाना चाहिए. 

7) तुला राशि के जातकों को इस दिन नागकेसर या अर्जुन का पौधा लगाना चाहिए. 

8) वृश्चिक राशि के जातकों को इस दिन नीम का पौधा लगाना चाहिए. 

9) धनु राशि के जातकों को इस दिन कनेर का पौधा लगाना चाहिए. 

10) मकर राशि के जातकों को इस दिन शमी का पौधा लगाना चाहिए. 

11) कुम्भ राशि के जातकों को इस दिन कदंब का पौधा लगाना चाहिए. 

12) मीन राशि के जातकों को इस दिन बेर का पौधा लगाना चाहिए. 

हरियाली अमावस्या की पूजा कैसे करें? (Hariyali Amavasya Puja Vidhi) 

हरियाली अमावस्या के दिन प्रातःकाल गंगाजल की कुछ बुँदे पानी में मिलाकर स्नान करें.  संभव हो तो किसी पवित्र नदी में स्नान करें.  

इसके बाद स्वच्छ वस्त्र धात्रण करके शिव -पार्वती का नियमित पूजन करें और साथ ही श्रीहरि  का भी केसर मिश्रित दूध से अभिषेक करें. 

शिवलिंग पर जब आप जल अर्पित करें तो ॐ नमः शिवाय मंत्र का जाप अवश्य करें. इस दिन यदि आप रुद्राभिषेक करते हैं तो उसे भी अच्छा माना जाता है. 

घर में पीपल के पेड़ का पूजन करें और घी का दीपक जलाएं. ऐसा करने से पितृ शांति होती है.  आज के दिन आप घर में आंवला, तुलसी, पीपल या नीम का वृक्ष लगाएं और उसकी देखभाल का प्रण लें. इससे पितृ खुश होते हैं.  

हरियाली अमावस्या के दिन आप घर पर ही स्नान करके वृक्ष की पूजा कर सकते हैं.  इस दिन वृक्ष लगाने का विशेष महत्व होता है इसलिए कोई एक पौधा अपने घर पर या खाली जगह पर जरूर लगाएं और उसकी देखभाल का प्रण लें.

यह भी पढ़ें :

सावन शिवरात्रि में कब चढ़ाएं जल , जानिए क्या है सावन शिवरात्रि का महत्व

Sawan Somvar 2022 : सावन सोमवार पर ऐसे करें भगवान शिव की पूजा, होगी हर मनोकामना पूरी

Sawan Upay 2022 : सावन के महीने में करें ये उपाय, बरसेगी महादेव की कृपा

error: Content is protected !!
सोशल मीडिया से पैसा कमाने के 4 तरीके सावन सोमवार में भगवान शिव को अर्पित न करें ये चीज, भोले हो जाएंगे नाराज सावन सोमवार में करें इन मंत्रों का जाप, शिवजी चमकाएंगे आपका भाग्य सावन सोमवार को करें ये उपाय, दूर होगी आर्थिक तंगी सावन माह में भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन