अश्वगंधा के फायदे, अश्वगंधा की तासीर कैसी होती है?

अश्वगंधा (Ashwagandha) एक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है जिसके कई सारे लाभ है. इसके लाभ के चलते लोग इसे संजीवनी बूटी (Sanjivani Buti) भी कहते हैं लेकिन अश्वगंधा का सेवन करने से पहले आपको जान लेना चाहिए कि अश्वगंधा की तासीर कैसी होती है?

अश्वगंधा (Ashwagandha) एक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है जिसके कई सारे लाभ है. इसके लाभ के चलते लोग इसे संजीवनी बूटी (Sanjivani Buti) भी कहते हैं लेकिन अश्वगंधा का सेवन करने से पहले आपको जान लेना चाहिए कि अश्वगंधा की तासीर कैसी होती है? ( Ashwagandha ki taseer) अश्वगंधा के क्या फायदे हैं? (ashwagandha benefit) अश्वगंधा के क्या नुकसान हैं? (ashwagandha disadvantage) अश्वगंधा का सेवन कैसे करें? (how to take ashwagandha?)

अश्वगंधा की तासीर (ashwagandha taseer)

अश्वगंधा का उपयोग (Ashwagandha use) कई लोग अपने-अपने हिसाब से करते हैं लेकिन इसका उपयोग करने से पहले ये जान लेना चाहिए की अश्वगंधा की तासीर कैसी होती है? (Ashwagandha taseer) अश्वगंधा गर्म तासीर का होता है. जिन लोगों के शरीर में गर्मी ज्यादा होती है उन्हें इसके इस्तेमाल से बचना चाहिए. आयुर्वेद के अनुसार अश्वगंधा से पित्त बढ़ता है और कफ दोष व वात दोष में कमी आती है. जिन लोगों के शरीर में पहले से पित्त की अधिक मात्रा होती है उन्हें अश्वगंधा के उपयोग से बचना चाहिए.

अश्वगंधा के फायदे (Ashwagandha benefit)

चिकित्सा अध्ययनों से पता चला है की अश्वगंधा कई बीमारियों से लड़ने में सहायक होता है. इसके कई सारे फायदे हैं.

– अश्वगंधा के सेवन से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है. इससे लाल रक्त और सफ़ेद रक्त कोशिकाओं की मात्रा में वृद्धि होती है. इससे शरीर में खून की कमी को रोकने में मदद मिलती है.

– डायबिटीज़ मरीजों के लिए अश्वगंधा बहुत फायदेमंद होता है. लेकिन इसका फायदा आपको तभी मिल सकता है जब आप डायबिटीज़ की दवाएं न ले रहे हो. अगर आप दवाओं के साथ अश्वगंधा का उपयोग करेंगे तो ये आपके लिए काफी नुकसानदायक रहेगा.

– अश्वगंधा आपकी यौन शक्ति के लिए भी फायदेमंद होता है. अधिकतर यौन शक्तियों को बढ़ाने वाली दवाइयों में इसका उपयोग प्रमुख घटक के रूप में होता है. अश्वगंधा यौन शक्ति को बढ़ाने के साथ-साथ आपके वीर्य की गुणवत्ता में भी सुधार लाता है. ये पूरे शरीर के तनाव को भी कम कर देता है.

– अश्वगंधा एक बहुत अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है. इसकी मदद से आपका मेटाबोलिज़्म काफी अच्छा रहता है.

– अश्वगंधा निचले अंगों की मांसपेशियों की शक्ति में सुधार लाने और कमजोरी दूर करने के लिए उपयोगी माना गया है. इससे शरीर की संरचना और ताकत बढ़ती है. पुरुषों में मांसपेशीयां तंदरुस्त होती है.

– सख्त और रूखी त्वचा वालों के लिए अश्वगंधा काफी फायदेमंद रहता है. ये कोलेजन उत्पादन को बढ़ावा देता है और त्वचा में तेलों की वृद्धि करता है. लेकिन जिनके शरीर में पहले से गर्मी ज्यादा है या फुंसी-फोड़े की समस्या है उन्हें अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए.

– अश्वगंधा बालों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है. ये बालों को झड़ने से रोकता है, बालों की जड़ों को मजबूत बनाता है. अश्वगंधा और नारियल तेल से बनाया गया टॉनिक रोज बालों पर लगाने से बाल झड़ना बंद हो जाते हैं.

– अश्वगंधा आपके मानसिक स्वस्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद होता है. इससे डिप्रेशन में कमी आती है. व्यक्ति सुखद एवं शांत महसूस करता है.

अश्वगंधा के नुकसान (Ashwagandha disadvantage)

अश्वगंधा एक तरफ बहुत फायदेमंद है लेकिन कुछ बीमारियों में ये नुकसानदायक भी है.

– अश्वगंधा के कारण नींद न आने में दिक्कत हो सकती है. ये आपके दिमाग को ज्यादा एक्टिव कर देता है. ऐसे में रात में अश्वगंधा खाने से बचें.

– अश्वगंधा का सीमित इस्तेमाल आपके शरीर की प्रतिरोधात्मक क्षमता को बढ़ा सकता है लेकिन यदि आप इसका ज्यादा इस्तेमाल करते हैं तो ये आपके शरीर की रोग प्रतिरोधात्मक क्षमता को कम कर सकता है. जिसके बाद आपके शरीर पर दवाओं का असर होना भी बंद हो जाता है.

– जिन लोगों का ब्लड प्रेशर कम होता है उन्हें अश्वगंधा के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि ये ब्लड प्रेशर और भी कम कर सकता है.

– अश्वगंधा का ज्यादा इस्तेमाल आपके पेट के लिए हानिकारक हो सकता है. इससे आपको पेट दर्द, दस्त, उल्टी जैसे समस्या हो सकती है.

– थायराइड के मरीज अश्वगंधा को लेने से बचें क्योंकि ये थायराइड के लेवल को और बढ़ा सकता है.

– प्रेग्नेंसी में भी अश्वगंधा खाने से बचन्बा चाहिए. इससे एस्ट्रोजन हारमोन लेवल बढ़ सकता है जो ब्लीडिंग या सिरदर्द जैसी समस्या दे सकता है.

अश्वगंधा का सेवन कैसे करें? (How to use ashwagandha?)

अश्वगंधा जड़ और पाउडर दोनों रूप में मिलता है. आप चाहे तो अश्वगंधा की जड़ को अन्य चीजों के साथ मिलाकर उपयोग कर सकते हैं या फिर इसके चूर्ण का सेवन कर सकते हैं. अश्वगंधा का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है लेकिन इसके लिए आप किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह जरूर लें. अन्य किसी माध्यम पर भरोसा करने से हो सकता है अश्वगंधा आपको नुकसान दे जाए. इससे यदि आप सही परिणाम चाहते हैं तो आपको आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह जरूर लेनी चाहिए.

यह भी पढ़ें :

शिलाजीत के फायदे, शिलाजीत का सेवन कैसे करें?

High blood pressure : उच्च रक्तचाप की रोकथाम, लक्षण और उपचार

Immunity booster food: शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं ये फूड

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!