28 की उम्र में संभाला पिता का कारोबार, 40 देशों तक पहुंचाया बिड़ला ग्रुप का बिजनेस

कुमार मंगलम एक ऐसे Businessman हैं जो आदित्य बिरला ग्रुप को एक नई ऊंचाइयों पर लेकर गए हैं. आज के समय में बिड़ला ग्रुप के ऐसे कई सारे प्रॉडक्ट हैं जिनका उपयोग हम सभी करते हैं. जैसे अल्ट्राटेक सीमेंट, आइडिया सिम, पीटर इंग्लैंड के कपड़े आदि.

भारत में जब भी अमीर घराने की बात आती है तो उनमें टाटा और बिड़ला का नाम सबसे पहले आता है. बिड़ला परिवार (Birla Family) की बात करें तो इस परिवार में कुमार मंगलम बिड़ला (Kumar Mangalam Biography) एक ऐसे व्यक्ति है जिन्होने बिड़ला ग्रुप को आगे ले जाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है. इस लेख में आप अदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमेन कुमार मंगलम बिड़ला के बारे में जानेंगे.

कुमार मंगलम बिड़ला की जीवनी | Kumar Mangalam Birla Biography Hindi 

कुमार मंगलम का जन्म 14 जून 1967 को मुंबई में हुआ था. वे बिड़ला परिवार के चौथी पीड़ी के सदस्य है. कुमार मंगलम का बचपन कोलकाता और मुंबई में गुजरा. उनके ग्रेजुएशन की बात करें तो उन्होंने बॉम्बे यूनिवर्सिटी से कॉमर्स में ग्रेजुएशन किया था. इसके बाद उन्होने सीए परीक्षा पास की और अकाउंटेंट बन गए. उन्होने लंदन बिजनेस स्कूल से एमबीए भी किया है. उनके एजुकेशन से आप ये अंदाजा लगा सकते हैं कि उन्हें बिजनेस में कितनी नॉलेज होगी.

कुमार मंगलम बिड़ला बिजनेस में कैसे आए? | How Kumar Mangalam Birla Join Business? 

कुमार मंगलम का परिवार पहले से ही बिजनेस में था. उनके पिता आदित्य बिड़ला उनसे पहले बिड़ला ग्रुप को संभाल रहे थे. लेकिन साल 1995 में अचानक आदित्य बिड़ला की मृत्यु हो जाने के कारण सारा भार कुमार मंगलम पर आ गया और उन्हें आदित्य बिरला ग्रुप का चेयरमेन बनाया गया. जिस समय वे चेयरमेन बने उनकी उम्र सिर्फ 28 साल थी.

बिड़ला ग्रुप का बिजनेस | Business of Birla Group

बिड़ला ग्रुप आज दुनियाभर में एक बड़ा बिजनेस ग्रुप है. करीब 40 देशों में आदित्य बिड़ला ग्रुप अपना बिजनेस चला रहा है जहां करीब 1.3 लाख लोगों को रोजगार दिया जा रहा है. आदित्य बिड़ला ग्रुप की 60 प्रतिशत कमाई विदेशों से आती है. कुमार मंगलम बिड़ला ने बिड़ला ग्रुप को काफी आगे बढ़ाया और नए क्षेत्रों में कंपनी का विस्तार किया. उन्होने बिड़ला ग्रुप को दूरसंचार, सॉफ्टवेयर, बीओपी जैसी फील्ड में आगे बढ़ाया. बिड़ला ग्रुप के पहले के व्यावसाय टेक्सटाइल, सीमेंट, एल्यूमिनियम और उर्वरक थे जिनमें कुमार मंगलम ने मजबूती प्रदान की.

बिड़ला ग्रुप की कंपनियाँ | Brands and Companies of Birla Group

आदित्य बिड़ला ग्रुप एक बहुत बड़ा ग्रुप है जिसके अंतर्गत कई कंपनियाँ और संस्थान हैं. बिड़ला खुद एक फेमस ब्रांड हैं लेकिन इसके खुद के कई सारे ब्रांड हैं जिनके नाम तो आपने खूब सुने हैं लेकिन आप ये नहीं जानते कि ये किस कंपनी के हैं.

Allen Solly, American Eagle, Aqua Armor, बिरला बलवान, Bilra Cellulos, Birla Modal, बिरला शक्तिमान, बिरला व्हाइट, CeTePox, Combimate 35, Conductex, Corino, Delice, Epotec, Eternia, Hindalco Everlast, Forever 21, Fred Perry, Freshpakk, Freshwrapp, Gusto, Hackett Jaypore, Linen Club, Liva, Louis Philippe, Multi 100, Oxywhite, Pantaloons, Pearl, Peter England, Polo, Raven, Raysil, Simon Carter, Ted Baker, Ultratech Cement, Van Heusen, VI telecom

पुरस्कार और सम्मान | Honors and awards for Kumar Mangalam Birla

– साल 2005 में Ernst and Young के पुरस्कार से सम्मानित किया गया.
– साल 2005 में Business Today द्वारा CEO category में Best Young Performer अवॉर्ड के लिए नोमिनेट किया गया था.
– 2005 में उन्हें PHD Chamber of Commerce and industry ने उद्योग रत्न से सम्मानित किया था.
– साल 2004 में उन्हें वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम द्वारा ‘यंग ग्लोबल लीडर’ के रूप में चुना गया था.
– साल 2004 में उन्हें बीएचयू द्वारा डी. लिट की उपाधि दी गई थी.
– साल 2003 में उन्हें Economic times द्वारा The Business Leader of the year पुरस्कार दिया गया था.
– साल 1998 में उन्हें वित्त मंत्रालय द्वारा सेबी में एक सार्वजनिक पद पर नियुक्त किया गया था.

कुमार मंगलम एक ऐसे Businessman हैं जो आदित्य बिरला ग्रुप को एक नई ऊंचाइयों पर लेकर गए हैं. आज के समय में बिड़ला ग्रुप के ऐसे कई सारे प्रॉडक्ट हैं जिनका उपयोग हम सभी करते हैं. जैसे अल्ट्राटेक सीमेंट, आइडिया सिम, पीटर इंग्लैंड के कपड़े आदि. कुमार मंगलम ने अपने पिता के पारंपरिक बिजनेस को विदेश तक पहुंचाया. आज उनके बिजनेस की पहुच 40 देशों तक है. उनके हर ब्रांड पर लोग भरोसा करते हैं. लोगों का यही भरोसा बिरला ग्रुप को ऊंचाइयों पर पहुंचाता है.

यह भी पढ़ें :

Shiv Nadar Biography: दोस्तों के साथ मिलकर शुरू की HCL, दुनियाभर में कमाया नाम

Laxmi Mittal Biography: चुरू का लड़का कैसे बना दुनिया में स्टील किंग?

HDFC Case Study: कंपनी के गोडाउन से शुरू हुआ HDFC, कैसे बना देश का सबसे बड़ा प्राइवेट बैंक?

error: Content is protected !!