गरीब कल्याण रोजगार अभियान : मजदूरों को मिलेगा काम, कैसे करें आवेदन?

गरीब कल्याण रोजगार अभियान (Garib kalyan rojgar abhiyan) केंद्र सरकार द्वारा भारत के 6 राज्यों के 116 जिलों में चलाया गया रोजगार अभियान है. इसके तहत शहर से गांव आए मजदूरों को 125 दिन यानी करीब 4 महीने तक रोजगार दिया जाएगा

लॉकडाउन के कारण भारत में कई मजदूरों की रोजीरोटी छिन गई है. पहले वे शहरों में मजदूरी करके अपना पेट पालते थे लेकिन लॉकडाउन के कारण वे शहरों से पलायन करके अपने गांव लौट आए हैं. ऐसे में उनके पास रोजगार का कोई विकल्प नहीं है. सरकार ने इसी परेशानी को समझते हुए गरीब कल्याण रोजगार अभियान (Garib kalyan rojgar abhiyan) को शुरू किया है. जिसके तहत प्रवासी मजदूरों को 125 दिन तक रोजगार देने का सरकार ने वादा किया है.

गरीब कल्याण रोजगार अभियान क्या है? (About Garib Kalyan Rojgar Abhiyan)

गरीब कल्याण रोजगार अभियान (Garib kalyan rojgar abhiyan) केंद्र सरकार द्वारा भारत के 6 राज्यों के 116 जिलों में चलाया गया रोजगार अभियान है. इसके तहत शहर से गांव आए मजदूरों को 125 दिन यानी करीब 4 महीने तक रोजगार दिया जाएगा जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आ सके. इस अभियान का शुभारम्भ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 जून 2020 (Garib Kalyan Rojgar abhiyan launching date) को किया है.

गरीब कल्याण रोजगार अभियान का लाभ (Garib Kalyan Rojgar abhiyan benefit) 

गरीब कल्याण रोजगार अभियान खासतौर से उन गरीब मजदूरों के लिए शुरू किया गया है जो लॉकडाउन के चलते शहर से अपने गांव चले गए हैं. इन मजदूरों को 125 दिन तक रोजगार उपलब्ध करवाने की सरकार ने घोषणा की है. इस अभियान के तहत मजदूरों को प्रतिदिन 202 रुपये मजदूरी (Garib kalyan rojgar abhiyan majduri) मिलेगी. पूरे 125 दिन तक काम करने पर उन्हें 25,250 रुपये मजदूरी दी जाएगी. इस अभियान के जरिये भारत के 25,000 प्रवासी मजदूरों को काम देने का लक्ष्य बनाया गया है.

गरीब कल्याण रोजगार अभियान में क्या काम कराया जाएगा? (Garib kalyan rojgar abhiyan work) 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अनुसार इस अभियान में 25 योजनाओं से संबन्धित कार्य मजदूरों से करवाए जाएंगे. कामगारों के कौशल के अनुसार उन्हें अलग-अलग काम दिये जाएंगे. इस अभियान में इन क्षेत्रों के कामों को करवाया जाएगा.

सामुदायिक स्वछता परिसर
ग्राम पंचायत भवन
फाइनेंस कमीशन फंड के तहत होने वाले काम
राष्ट्रीय राजमार्ग के काम
कुओं का निर्माण
पौधारोपण के काम
बागवानी के काम
आंगनवाड़ी के काम
ग्रामीण आवास योजना के काम
भारतीय रेल के तहत आने वाले काम
श्यामा प्रसाद मुखर्जी रुरबन मिशन के काम
भारत नेट के तहत ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम
पीएम कुसुम योजना के काम
जल जीवन मिशन के तहत कराये जाने वाले काम
प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा प्रोजेक्ट
कृषि विज्ञान केंद्र के तहत जीवनयापन की ट्रेनिंग
जिला खनिज निधि के तहत आने वाले काम
सॉलिड एंड लिक्विड वेस्ट मेनेजमेंट के काम
फॉर्म पॉन्ड योजना के काम
पशु शेड बनाने के काम
मुर्गी पालन के लिए शेड बनाने के काम
केंचुआ खाद यूनिट के काम

गरीब कल्याण रोजगार अभियान में आवेदन कैसे करें? (How to apply for Garib Kalyan Rojgar abhiyan?) 

इस योजना में आवेदन करने के लिए मजदूरों को कहीं भी आवेदन (Garib kalyan rojgar abhiyan registration) करने की जरूरत नहीं है. राज्य सरकार उनसे खुद संपर्क करेगी. केंद्र सरकार का कहना है की जो मजदूर श्रमिक स्पेशल या राज्य सरकार द्वारा अन्य तरीके से गांव भेजे गए हैं उनकी सूची सरकार के पास है. इसके अलावा जो मजदूर पैदल शहर से पलायन कर गए हैं उनकी भी सूची जिला अधिकारी के पास है. इस सूची के आधार पर ही इन्हें इस अभियान का हिस्सा बनाया जाएगा.

इस अभियान के तहत 50 हजार करोड़ तक के सार्वजनिक कार्य कराये जाएंगे. इस योजना को मुख्यतः बिहार, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश, झारखंड और ओड़ीसा के लिए लॉंच किया गया है. इन राज्यों के कुल 116 जिले इससे लाभान्वित होंगे.

यह भी पढ़ें :

Kaushal Panjee: बेरोजगार युवाओं को गारंटीड रोजगार देने वाली योजना

Vayoshri Yojana : बुजुर्गों के लिए मुफ्त जरूरी उपकरण देने वाली योजना

SMAM Yojana : कृषि उपकरण खरीदने पर सबसिडी कैसे मिलेगी?

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!