Corona Symptoms : बच्चों पर कहर बरसा रहा Covid-19, इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज

कोरोना की चौथी लहर ने भारत को प्रभावित किया है. इसका असर बच्चों पर भी देखने को मिल रहा है. कोरोना के नए वेरिएंट के कुछ प्रमुख लक्षण सामने आए हैं जिन्हें आप बिलकुल भी नजरअंदाज न करें.

कोरोना की चौथी लहर एशिया के कई देशों में आ चुकी है (Corona Fourth Wave) और भारत में भी आने की कगार पर है. कोरोना के केस कम होने के साथ ही देश के कई राज्यों में प्रतिबंधों में छूट दी गई. जिसके चलते ऑफिस, कंपनी और स्कूल-कॉलेज खोले गए. लेकिन अब दिल्ली, हरियाणा और पंजाब राज्य में तेजी से कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं. काफी सारे बच्चे भी इसका शिकार हो रहे हैं. इसलिए कोरोना की चौथी लहर को बच्चों के लिए बेहद खतरनाक बताया गया है. कोरोना से बचने के लिए तथा समय पर इलाज करवाने के लिए इसके लक्षणों पर नजर बनाए रखना बेहद जरूरी है.

कोरोना का नया वेरिएंट (Corona New Veriant in India) 

भारत और एशिया के कई देशों में कोरोना का ओमिक्रोन वेरिएंट फैल रहा है. इसके काफी सारे सब वेरिएंट हैं जैसे BA1, BA2 लेकिन भारत में कोरोना का XE variant सामने आया है. इसके काफी सारे मामले दुनियाभर से सामने आ रहे हैं. इसलिए इससे बचने के लिए सावधानी रखने की जरूरत है. इस बार हो सकता है कि कोरोना की लहर का असर बच्चों पर हो और वो इसकी चपेट में अधिक आ जाए.

भारत में कोरोना की स्थिति (Corona Cases in India) 

पिछले कुछ महीने में कोरोना के केस में तेजी से कमी देखने को मिली थी. काफी कम केस हो गए थे और लोग तेजी से ठीक हो रहे थे. लेकिन पिछले हफ्ते से ही कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ने लगा. वर्तमान में भारत में एक्टिव केस की संख्या 14241 है. (Corona Active Cases) देश में गुरुवार को ही 2380 नए मामले सामने आए हैं. पहले जहां स्कूल को खोला गया था वहीं मामले तेजी से बढ़ने के बाद स्कूलों को बंद किया गया है और कई राज्यों में मास्क को अनिवार्य कर दिया गया है.

बच्चों में कोरोना के लक्षण (Symptoms of Corona in Children) 

कोरोना की चौथी लहर का असर बच्चों पर भी देखने को मिल रहा है. हैल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना संक्रमित बच्चों के शरीर में सूजन देखने को मिल रही है. ये सूजन उनके शरीर में कई हफ्तों तक रह रही है. इसके अलावा बुखार, गर्दर्न में दर्द, उल्टी, दस्त, रेशेज, थकान महसूस होना, होंठ फटना, गले में सूजन, पेट दर्द आदि लक्षण नजर आ रहे हैं. इन लक्षण के नजर आते ही तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और कोरोना की जांच करवाएँ. कोरोना वाइरस के नए वेरिएंट के लक्षण की लिस्ट लंबी है. लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि इसके लक्षण 2 से 14 दिन बाद दिखाई दे सकते हैं.

कोरोना के प्रमुख लक्षण (Serious Symptoms of Corona in India) 

चौथी लहर का असर बच्चों के अलावा वयस्क और बुजुर्ग व्यक्ति पर भी देखने को मिल रहा है. चौथी लहर में कोरोना के कई लक्षण सामने आए हैं जिनकी लिस्ट लंबी है. लेकिन यहाँ आप कुछ गंभीर लक्षणों के बारे में जानेंगे.

कोरोना के लक्षण आपको 2 से 14 दिनों के भीतर दिखाई देंगे. इनमें प्रमुख लक्षण बुखार, ठंड लगना, खांसी, सांस लेने में तकलीफ, थकान, मांसपेशियो में दर्द, सिरदर्द, स्वाद की कमी, गंध न आना, गला खराब होना, नाक बहना या बंद होना, उल्टी होना, जी मचलना, दस्त लगना आदि हैं.

इसके अलावा यदि किसी व्यक्ति को सांस लेने में कठिनाई होती है, सीने में दर्द होता है, भ्रम होता है, जागने में असमर्थता होती है, नाखून का रंग पीला और त्वचा का रंग पीला या नीला पड़ने लगे तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. क्योंकि ये सभी कोरोना के गंभीर लक्षण हैं. इन्हें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.

कोरोना से कैसे बचे? (Precaution from Corona) 

कोरोना से बचने के लिए आपको घर के अंदर और घर के बाहर दोनों जगह पर सावधानी रखने की जरूरत होती है.

– घर के अंदर आपको सब्जी, फलों और अन्य खाने की चीजों को अच्छी तरह धोने के बाद पकाना और खाना चाहिए.
– घर में इस्तेमाल होने वाले कपड़ों को गरम पानी में धोएँ और तेज धूप में सुखाएँ.
– घर के बाहर मास्क का प्रयोग करें.
– सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करें.
– हाथ साफ करने के लिए सेनीटाइजर और हैंड वाश का इस्तेमाल करें.
– संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाए रखें.

कोरोना से बचने के लिए सावधानी ही उपाय है. आपको संक्रमित व्यक्ति या इसके लक्षण वाले व्यक्ति से दूरी बनाए रखनी होगी. इसके अलावा वैक्सीन के दोनों डोज़ लगवाएँ जिससे कोरोना होने का खतरा कम रहे.

यह भी पढ़ें :

कोरोना चौथी लहर : भारत में बढ़ी कोरोना की रफ्तार, नए वेरिएंट से बचाव के लिए रखें सावधानी

किसे करवाना चाहिए कोरोना टेस्ट, जानिए ICMR की नई गाइडलाइन?

Omicron India: कितना खतरनाक है कोरोना का ओमिक्रॉन वैरिएंट?

error: Content is protected !!